print icon
News

धोनी पहले भी हमारे लिए एक मेंटॉर ही थे और आगे भी रहेंगे: कोहली

'पाकिस्तान के ख़िलाफ़ होने वाले मैच को हम एक साधारण मैच की ही तरह देख रहे हैं'

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने टी20 विश्वकप 2021 से ठीक पहले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के साथ बातचीत में कई मुद्दों पर बात की। इस दौरान उन्होंने एमएस धोनी के टीम इंडिया के साथ बतौर मेंटॉर जुड़ने को भी शानदार बताया। उन्होंने कहा कि जब धोनी युवाओं के साथ अपना अनुभव साझा करेंगे तो वह लाजवाब होगा और इससे ज़्यादा अच्छा युवाओं के लिए और कुछ नहीं हो सकता।
"धोनी ख़ुद भी एक बार फिर टीम के साथ जुड़कर बेहद उत्साहित हैं, और पहले भी वह जब हमारे साथ खेला करते थे तो भी हम सभी के लिए वह मेंटॉर ही थे। धोनी का मेंटॉर के तौर पर टीम के साथ जुड़ना ख़ासतौर से उन युवाओं के लिए बहुत अच्छा है जो इससे पहले इस तरह की बड़ी प्रतियोगिता का हिस्सा नहीं रहे हैं। खेल के दौरान जब धोनी युवाओं के साथ अपना अनुभव साझा करेंगे तो वह बेहतरीन होगा और इससे ज़्यादा अच्छा युवाओं के लिए और कुछ नहीं हो सकता। धोनी जब भी किसी टीम में लीडरशीप की भूमिका में रहते हैं तो उसका कैसा और कितना फ़ायदा मिलता है ये किसी से छुपा नहीं है। इसलिए उनको टीम में दोबारा पाकर मैं बेहद ख़ुश हूं और इसका असर पूरी टीम के मनोबल पर पड़ेगा।"
विराट कोहली, कप्तान, भारतीय क्रिकेट टीम
धोनी के साथ-साथ इस टीम में एक और खिलाड़ी की वापसी भी हो रही है और वह हैं ऑफ़ स्पिनर आर अश्विन। अश्विन को लेकर भी कोहली काफ़ी उत्साहित दिखे और उन्होंने जाडेजा और अश्विन की जोड़ी को बिल्कुल फ़िट क़रार दिया।
"अश्विन काफ़ी आत्मविश्वास और बहादुरी के साथ गेंदबाज़ी करते हैं, अगर आप आईपीएल में भी उनके पिछले एक दो साल के प्रदर्शन पर नज़र डालें तो वह बेहद बोल्ड अंदाज़ में गेंदबाज़ी कर रहे हैं। ख़ासतौर से जब आक्रामक बल्लेबाज़ जैसे कि कायरन पोलार्ड भी उनके सामने आते हैं तो भी अश्विन उन्हें फ़्लाइट देने से नहीं डरते, जबकि अमूमन स्पिनर्स आक्रामक बल्लेबाज़ों के सामने कुछ अलग करना के लिए जाते हैं। लेकिन अश्विन को अपने कौशल पर भरोसा है और उनके पास कई विविधताएं भी हैं जो उनकी सबसे बड़ी ताक़त है और मुझे उम्मीद है कि उनकी यह वापसी हमारे लिए बहुत बेहतर साबित होगी। ख़ासतौर से रवींद्र जाडेजा के साथ अश्विन की जोड़ी इस टी20 विश्वकप में बेहद अहम हो सकती है।"
एक तरफ़ जहां पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मुक़ाबले को लेकर हर तरफ़ चर्चा हो रही है तो कोहली की नज़र में यह बस एक साधारण सा ही मैच है, और इसके लेकर वह या टीम कुछ अलग योजना नहीं बना रही।
"पाकिस्तान के ख़िलाफ़ होने वाले मैच को हम एक साधारण मैच की ही तरह देख रहे हैं, मैं जानता हूं कि किस तरह से इस मैच को लेकर सुर्ख़ियां बनाईं जा रही हैं। हां इसमें कोई शक़ नहीं है कि भारत और पाकिस्तान जब मैदान पर होते हैं तो माहौल अलग रहता है, ख़ासतौर से फ़ैन्स के नज़रिए से लेकिन खिलाड़ी के तौर पर ये हमारे लिए एक साधारण मैच ही है।"
भारत को टी20 विश्वकप के अभियान का आग़ाज़ 24 अक्तूबर को पाकिस्तान के ख़िलाफ़ दुबई में करना है। जबकि उससे पहले टीम इंडिया को दो वॉर्म-अप मैच भी खेलने हैं।

सैयद हुसैन ESPNCricinfo हिंदी में मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट हैं।@imsyedhussain