मैच (7)
T20 वर्ल्ड कप (3)
T20 Blast (2)
CE Cup (1)
SL vs WI [W] (1)
ख़बरें

हेज़लवुड: ऑस्ट्रेलिया को एक ऐसा वनडे कप्तान चाहिए जो ज़्यादातर मैचों में उपलब्ध हो

मैक्सवेल ने कहा कि दबाव वाली परिस्थिति में फ़िच ने टीम को बढ़िया संभाला

Mitchell Starc, Glenn Maxwell and Josh Hazlewood wearing Australia's Indigenous-themed T20 World Cup kit, Sydney, September 14, 2022

टी20 विश्व के लिए ऑस्ट्रेलिया के कि लांच पर हेज़लवुड, मैक्सवेल और स्टार्क  •  AFP/Getty Images

जोश हेज़लवुड का मानना ​​है कि ऑस्ट्रेलियाई वनडे टीम की कमान उसी खिलाड़ी के पास होना चाहिए, जो ज़्यादा से ज़्यादा मैचों के लिए उपलब्ध हो। लगातार कप्तान बदलते रहने से टीम में स्थिरता की कमी आएगी।
हेज़लवुड पहले टेस्ट टीम के उप-कप्तान रह चुके हैं और अब वनडे और टी20 टीमों का एक अभिन्न अंग भी हैं। हालांकि उन्होंने कहा है कि इस बारे में उन्होंने विचार नहीं किया है कि पैट कमिंस को वनडे टीम का कप्तान होना चाहिए या नहीं होना चाहिए।
ऐरन फ़िच से सफेद गेंद के क्रिकेट में कप्तानी करने के बारे में पूछा गया था। उन्होंने इसे ख़ारिज तो नहीं किया लेकिन उन्होंने अपने कार्यभार को प्रबंधित करने की आवश्यकता के बारे में ज़रूर बात की। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि फ़िच टी20 विश्व कप के बाद अपना टी20 करियर समाप्त कर लेंगे। अगर ऐसा होता है तो ऑस्ट्रेलिया को दो प्रारूपों में नए कप्तान की आवश्यकता होगी।
डेविड वाॅर्नर की कप्तानी पर लगाए गए प्रतिबंध के बारे में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा समीक्षा की जानी है। अगर प्रतिबंध किसी भी तरीक़े से हटता है तो वॉर्नर के पास एक कप्तान के तौर पर अपने के करियर के आख़िरी सालों को खेलने का अवसर मिल जाएगा। वहीं स्टीवन स्मिथ और ऐलेक्स कैरी के साथ वनडे टीम की कप्तानी संभालने के लिए एक अन्य उम्मीदवार हैं।
हेज़लवुड ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के टी20 कीट के लॉन्च पर कहा, "तेज़ गेंदबाज़ के तौर पर आराम की ज़रूरत जब तब पड़ सकती है। पैटी (पैट कमिंस) टेस्ट के साथ अन्य प्रारूप के सभी मैच खेलने के लिए शायद उपलब्ध नहीं हो सकते हैं। इससे बार-बार आपको कप्तानी में बदलाव करने की आवश्यकता पड़ सकती है। इसलिए आप शायद किसी ऐसे व्यक्ति को कप्तान के तौर पर चुनना चाहेंगे, जो हर मैच खेलता हो।"
हालांकि ग्लेन मैक्सवेल ने कहा कि कप्तान के रूप में फ़िंच टी20 टीम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। साथ ही ख़राब फ़ॉर्म के बावजूद मैदान पर जिस तरीक़े से ख़ुद को संंभाल रहे हैं, मैक्सवेल ने उस बात की भी प्रसंशा की।
उन्होंने कहा,"फ़िंच ने यूएई में टीम को काफ़ी बढ़िया तरीक़े से संभाला और गेंदबाज़ी समूह के साथ उन्होंने काफ़ी बढ़िया प्लानिंग की। एक बार जब वह मैदान पर उतर जातै हैं तो वह अपने काम पर इतना केंद्रित हो जाते हैं कि वह भूल जाते हैं कि कुछ दिन पहले क्या हुआ है।"
मैक्सवेल ने आगे कहा, "जाहिर है कि उनके लिए हाल-फ़िलहाल में वनडे क्रिकेट में प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा लेकिन उनका रवैया कभी नहीं बदला और उन्होंने टीम में जो पेशेवरता लाई वह शानदार थी। जिस तरह से उन्होंने हमारा नेतृत्व किया, हम सभी को उन पर वास्तव में गर्व है।"

एंड्रयू मैकग्लाशन ESPNcricinfo की डिप्टी एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।