मैच (16)
आईपीएल (2)
ENG v PAK (W) (1)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
फ़ीचर्स

बेन स्टोक्स को उम्मीद है कि लॉर्ड्स की जीत के बाद भी फ़ीलगुड फ़ैक्टर जारी रहेगा

स्टोक्स ने टीम पर मक्कलम के प्रभाव की तारीफ़ की

Ben Stokes looks on during an intra-squad penalty shootout at Trent Bridge, England vs New Zealand, 2nd Test, Trent Bridge, June 9, 2022

सीरीज़ में बढ़त बनाने के बाद उत्साहित हैं बेन स्टोक्स  •  Getty Images

इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स को उम्मीद है कि पिछले हफ़्ते न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ लॉर्ड्स में पहले टेस्ट में जीत के बाद फ़ीलगुड फ़ैक्टर इस हफ़्ते ट्रेंट ब्रिज पर भी कायम रहेगा, जैसा कि उन्होंने अपने खिलाड़ियों को याद दिलाया कि इंग्लैंड की जर्सी में "जितना संभव हो उतना लुत्फ़" लें।
लॉर्ड्स में इंग्लैंड के रन-चेज़ में स्टोक्स ने ख़ुद एक महत्वपूर्ण अर्धशतक बनाया। इससे पहले जो रूट के नाबाद शतक ने एक शानदार मैच को पांच विकेट जिता दिया, लेकिन फिर भी अगर इंग्लैंड हार जाता, तब भी टीम की नई सकारात्मक ऊर्जा मैच के चार दिनों के दौरान देखने लायक थी। वापसी करने वाले दिग्गज जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड से लेकर डेब्यूटेंट सीमर मैट पॉट्स तक सबका प्रदर्शन उल्लेखनीय था।
स्टोक्स के लिए मुख्य कोच ब्रेंडन मक्कलम के साथ अपनी नई साझेदारी के पहले टेस्ट में इंग्लैंड के लिए जीत हासिल करना एक बहुत राहत की बात थी। ख़ासकर एक ख़राब दौर के बाद जिसमें इंग्लैंड ने पिछले 15 महीनों में 17 में से सिर्फ़ एक मैच जीता था। .
स्टोक्स ने स्काई स्पोर्ट्स को बताया "यह शानदार है। मैं बतौर कप्तान और मक्कलम कोच के रूप में सीधे जीत के साथ यहां दूसरे मैच के लिए आए हैं। यह स्पष्ट रूप से हारने से बेहतर है।"
उन्होंने कहा "लेकिन मुझे सबसे अच्छी चीज़ लगी कि यह कितना मज़ेदार रहा। कभी-कभी एक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर होने के दबाव के साथ साप्ताहिक आधार पर प्रदर्शन करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है, लेकिन हम इंग्लैंड के लिए खेल रहे हैं। हम एक ऐसा काम कर रहे हैं जिसे हम सभी एक शौक के रूप में खेलते हुए बड़े हुए हैं।"
स्टोक्स ने आगे कहा "और मुझे लगता है कि हर किसी ने आनंद लिया है, क्योंकि दिन के अंत में जब आप अपने देश के लिए खेल रहे होते हैं, तो सबसे पहली और महत्वपूर्ण बात यह सुनिश्चित करना है कि आप जितना संभव हो उतना लुत्फ़ उठाएं।"
यह उस लापरवाह रवैये से बहुत अलग है जिसे इंग्लैंड ने पिछले वर्षों में अपने क्रिकेट में अपनाया था। विशेष रूप से ऐशेज़ के दौरान जब टीम को अभी भी कोविड के प्रतिबंधों से निपटना था, न कि करारी हार का उल्लेख करना था।
स्टोक्स का भी विशेष रूप से जोशीला रवैया देखना उत्साहजनक है। 2021 में जब उनकी उंगली बुरी तरह से टूट गई थी तब उन्हें खेल से अनिश्चितकालीन ब्रेक लेना पड़ा था और स्टोक्स को इस बात की भी चिंता सताने लगी थी कि क्या वह फिर से उच्चतम स्तर पर खेलने के लिए पर्याप्त रूप से फ़िट हो पाएंगे या नहीं।
स्टोक्स ने कहा "आपको अपने देश का प्रतिनिधित्व करने से बड़ा सम्मान नहीं मिल सकता, और यदि यह मज़ेदार और आनंददायक नहीं है तो शायद इसे एक दिन छोड़ देना ठीक है।"
अगले साल ऐशेज़ के शेड्यूल में ट्रेंट ब्रिज टेस्ट नहीं होने के कारण इस हफ़्ते का मुक़ाबला, नॉटिंघमशायर के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक ब्रॉड के लिए घरेलू मैदान पर आख़िरी मैच हो सकता है। हालांकि स्टोक्स यह नहीं मानकर चल रहे हैं कि इस ख़ास मौक़े पर ब्रॉड को अपना सब कुछ देने के लिए किसी अतिरिक्त प्रेरणा की आवश्यकता होगी। ख़ासकर लॉर्ड्स के तीसरे दिन सुबह में जब ब्रॉड ने नाजुक मौके पर तीन गेंदों के अंतराल में एक रन-आउट सहित तीन विकेट दिला दिए थे।
स्टोक्स ने कहा, "मुझे नहीं लगता कि उन्हें ज़्यादा प्रेरणा की ज़रूरत है। हर बार जब वह इंग्लैंड की जर्सी पहनते हैं, तो वह अपना सब कुछ देने की कोशिश करतें हैं। उन्होंने और जेम्स [एंडरसन] ने पिछले हफ़्ते उदाहरण भी सेट किया।
इंग्लैंड के लिए मैदान पर कमाल करने वाले दो खिलाड़ियों को पिछले हफ़्ते की तरह तैयारी करते हुए देखना बहुत अच्छा लगा। यह मेरे लिए और साथ ही सभी युवा खिलाड़ियों के लिए भी प्रेरणादायक था, इसलिए मुझे उम्मीद है कि वे इस हफ़्ते फिर से वैसा ही कर सकते हैं।
स्टोक्स ने आगे कहा " ब्रॉड को ट्रेंट ब्रिज में खेलना पसंद है। यह वह जगह है जहां उन्होंने लीसेस्टर से आने के बाद से अपना सारा क्रिकेट खेला है, और उसे यहां कुछ बेहतरीन यादें मिली हैं। शायद उनका सबसे अच्छा ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 15 रन देकर 8 विकेट लेना है। लेकिन हर बार जब आप अपनी काउंटी टीम के घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के लिए खेलने उतरते हैं तो बहुत ख़ास होता है।"

ऐंड्रयू मिलर ESPNcricinfo के यूके एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।