मैच (6)
हज़ारे ट्रॉफ़ी (4)
श्रीलंका बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
न्यूज़ीलैंड बनाम भारत (1)
परिणाम
फ़ाइनल, कोयंबतूर, September 21 - 25, 2022, दलीप ट्रॉफ़ी

पश्चिम क्षेत्र की 294 रन से जीत

प्लेयर ऑफ़ द मैच
265
yashasvi-jaiswal
प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़
50 runs • 13 wkts
jaydev-unadkat
रिपोर्ट

जायसवाल, सरफ़राज़ की बल्लेबाज़ी के बाद मुलानी की गेंदबाज़ी से पश्चिम क्षेत्र बना दलीप ट्रॉफ़ी विजेता

529 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण क्षेत्र की टीम 234 पर सिमटी

The victorious West Zone team with the Duleep Trophy, West Zone vs South Zone, Duleep Trophy final, 5th day, Coimbatore, September 25, 2022

दलीप ट्रॉफ़ी के साथ पश्चिम क्षेत्र की टीम  •  TNCA

पश्चिम क्षेत्र 270 (पटेल 98, साई किशोर 5-86) और 585/4 (जायसवाल 265, सरफ़राज़ 127*, अय्यर 71, साई किशोर 2-157) ने दक्षिण क्षेत्र 234 (कुन्नुमल 93, मुलानी 4-51) और 327 (इंद्रजीत 118, उनदकट 4-52) को 294 रन से हराया
पश्चिम क्षेत्र ने दक्षिण क्षेत्र को 294 रन के बड़े अंतर से हराकर दलीप ट्रॉफ़ी जीत लिया है। 529 रन के बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण क्षेत्र की टीम दूसरी पारी में बस 234 रन बना सकी।
पश्चिम क्षेत्र की जीत में यशस्वी जायसवाल (265) और सरफ़राज़ ख़ान (127) की अहम भूमिका रही। वहीं गेंदबाज़ी में जयदेव उनादकट ने मैच में 6/80 के आंकड़े दर्ज किए।
पहली पारी में 57 रन से पिछड़ने के बाद पश्चिम क्षेत्र ने दूसरी पारी में विशाल 585 रन बनाए थे। जायसवाल के दोहरे शतक के बाद सरफ़राज़ ने शानदार शतक ठोका। इस दौरान जायसवाल, अमोल मज़ूमदार और रूसी मोदी के साथ सबसे तेज़ 1000 प्रथम श्रेणी रन पूरा करने वाले भारतीय बने। उन्होंने 13वीं पारी में यह कारनामा किया।
इसके बाद का काम पश्चिम क्षेत्र के गेंदबाज़ों ने किया। शम्स मुलानी ने दूसरी पारी में चार विकेट लिए। दक्षिण क्षेत्र की तरफ़ से सलामी बल्लेबाज़ रोहन कुन्नुमल (93) ही कुछ संघर्ष कर पाए।
जायसवाल को मैदान से बाहर भेजा गया
मैच के पांचवें दिन एक अजीबोगरीब वाकया देखने को मिला जब पश्चिम क्षेत्र के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने अपने खिलाड़ी जायसवाल को मैदान से वापस भेज दिया। न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार दक्षिण क्षेत्र के बल्लेबाज़ रवि तेजा ने अंपायरों से शिकायत की कि जायसवाल लगातार उन्हें स्लेज़ कर रहे हैं। इसके बाद अंपायरों ने उन्हें चेतावनी दी लेकिन जायसवाल फिर भी ना रूके। 57वें ओवर में रहाणे को जायसवाल को मैदान छोड़ने को कहना पड़ा। कुछ देर तक पश्चिम क्षेत्र की टीम 10 खिलाड़ियों के साथ फ़ील्डिंग करती रही। जायसवाल सात ओवर बाद फ़ील्डिंग करने आए।
मैच के बाद रहाणे ने कहा, "हम विपक्षी टीम, अंपायर और मैच अधिकारियों, सभी का सम्मान करते हैं। कई बार आपको ऐसी घटनाओं को इसी तरह संभालना पड़ता है।"

Language
English
Hindi
AskESPNcricinfo Logo
Instant answers to T20 questions
दक्षिण क्षेत्र पारी
<1 / 3>