मैच (8)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड (1)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम इंग्लैंड (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
बांग्लादेश ए बनाम इंडिया ए (1)
एलपीएल (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
फ़ीचर्स

कार्तिक से मेहनत करने की प्रेरणा लेते हुए इंद्रजीत ने खेली अहम पारी

इंडिया ए में चयनित नहीं होने के बाद इंद्रजीत ख़ुद से काफ़ी निराश थे

B Indrajith defends

इंद्रजीत को पिछले सीज़न आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम से खेलना का मौक़ा भी मिला था  •  B Indrajith

बाबा इंद्रजीत हालिया समय में घरेलू क्रिकेट में काफ़ी बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं। लाल गेंद की क्रिकेट में वह सीज़न दर सीज़न निरंतरता के साथ रन बना रहे हैं। मौजूदा दलीप ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में भी सिर्फ़ 125 गेंदों में 118 रनों की पारी खेल कर अपनी टीम को बढ़त दिलाने में मदद की थी।
इंद्रजीत यक़ीनन तमिलनाडु की ओर से स्पिन के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। वह अपने पैरों का उपयोग करने और कई तरह के स्वीप मारने में माहिर हैं। गुरुवार को इंद्रजीत 2021-22 के रणजी ट्रॉफी सीज़न में सबसे अधिक विकेट लेने वाले शम्स मुलानी और उनकी मुंबई टीम के साथी तनुश कोटियन पर उन दो विकल्पों के साथ हावी रहे।
इंद्रजीत ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो से कहा, "मैं दलीप ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में शतक लगाकर बहुत खु़श हूं। मैंने विपक्ष के (बड़े) नामों को दरकिनार करते हुए एक बड़ी पारी खेलना चाह रहा था। जब शुरुआत में मेरे बल्ले से रन आने शुरू हुए तो मुझे लगा कि मैं ज़ोन में हूं।"
"एक बार मैंने 15-20 रन बना लिए तो मुझे लगा कि मैं गेंद को बढ़िया मिडिल कर रहा हूं। मैंने कमोबेश उसी पैटर्न का पालन किया जो मैं पहले से करते आ रहा हूं। जब भी मुझे मौक़ा मिला, मैंने अपने पैरों का इस्तेमाल किया और उसके बाद मुझे बैकफ़ुट पर भी कई शॉट लगाने के कई विकल्प मिले। मैं रनों की तलाश में था लेकिन मैंने इसके लिए बहुत अधिक जोखिम नहीं लिया।"
रेड-बॉल क्रिकेट में उनके प्रदर्शन को देखते हुए इंद्रजीत न्यूज़ीलैंड ए के ख़िलाफ़ घरेलू श्रृंखला के लिए इंडिया ए की टीम में शामिल होने की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन उन्हें वह मौक़ा नहीं मिल पाया। इंद्रजीत ने निराश होने की बात भी स्वीकार की।
इंद्रजीत ने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो मैं भारत ए कॉल-अप की उम्मीद कर रहा था लेकिन मुझे काफ़ी निराशा हुई। हालांकि मैं दो दिनों के बाद ठीक था। मैं खु़द को किसी के सामने साबित नहीं करना चाहता था क्योंकि इससे खु़द पर दबाव पड़ता है। इसलिए मैंने वही चीजे़ं कीं जो मैं घरेलू क्रिकेट में करता हूं।"
इंद्रजीत ने अपने तमिलनाडु टीम के साथी और क़रीबी दोस्त दिनेश कार्तिक से प्रेरणा ली है, जिन्होंने भारत की टी20 विश्व कप टीम बनाने के लिए कई मुश्किल बाधाओं को पार किया है।
"ज़ाहिर है इतनी उम्र में विश्व कप के लिए वापसी करना दिनेश अन्ना (भाई) का एक लक्ष्य था लेकिन ऐसा करना और विश्व कप टीम का हिस्सा बनना बहुत बड़ी बात है। जब आप उन्हें क़रीब से देखते हैं, आप जानते हैं कि उन्होंने इसके लिए कितनी मेहनत की है। उसे देखकर आपको यह विश्वास भी मिलता है कि आप भी अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। उन्हें वापसी करते देखना मेरे लिए एक प्रेरणा का स्त्रोत है। इसलिए, जब कठिन परिस्थितियां आती हैं, आप टीम में जगह पाने के लिए लड़ते रहते हैं और कड़ी मेहनत करते हैं।"
इंद्रजीत को आईपीएल 2022 में भी शामिल होने का मौक़ा मिला। वह कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम में थे और यह उनका पहला आईपीएल सीज़न था। हालांकि वह 70 की स्ट्राइक रेट से तीन पारियों में केवल 21 रन ही बना सके।
इंद्रजीत ने कहा, "आईपीएल में आप दुनिया भर के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटरों के साथ खेलते हैं। वहां गेंदबाज़ी हो या बल्लेबाज़ी सभी चीज़ों के स्तर ऊंचे हैं। यह सीखने के लिए काफ़ी अच्छी जगह है। मुझे कुछ गेम मिले लेकिन वहां मैं पदर्शन नहीं कर पाया। हर बार आपको अच्छी शुरुआत नहीं मिलेगी और न ही हर बार टी20 क्रिकेट में चीजे़े सुचारू रूप से चलेंगी।"

देवरायण मुथु ESPNcricinfo सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।