मैच (15)
T20 वर्ल्ड कप (4)
CE Cup (3)
T20 Blast (8)
फ़ीचर्स

टी20 विश्व कप में चयन के बारे में अधिक नहीं सोच रहा : चक्रवर्ती

मिस्ट्री स्पिनर ने कहा कि स्पिन गेंदबाज़ी में प्रतिस्पर्धा बहुत अच्छी बात है

Varun Chakravarthy celebrates the wicket of Sadeera Samarawickrama, Sri Lanka vs India, 2nd T20I, Colombo, July 28, 2021

श्रीलंका के ख़िलाफ़ सीरीज़ के दौरान वरुण चक्रवर्ती  •  Sri Lanka Cricket

पहले विकेटकीपर बल्लेबाज़ और फिर मध्यम गति के गेंदबाज़ के रूप में अपना करियर शुरू करने वाले वरुण चक्रवर्ती का टीम इंडिया में खेलने का सपना अंततः पूरा हुआ। उन्होंने श्रीलंका के ख़िलाफ़ अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत करते हुए चार ओवर में 28 रन देकर एक विकेट लिए।
मिस्ट्री स्पिनर चक्रवर्ती ने ESPNcricinfo से बातचीत के दौरान कहा कि मैच से एक रात पहले उन्हें नींद ही नहीं आई, लेकिन जब वह मैदान में उतरे तो सारी घबराहट दूर हो गई थी। गेंदबाज़ी कोच पारस महाम्ब्रे ने मुझे डेब्यू कैप दिया और यह मेरे लिए बहुत भावुक क्षण था। यह एक सपने के सच होने जैसा था। मैं नर्वस भी था और भावुक भी, लेकिन इसे मैंने अपने खेल पर हावी नहीं होने दिया।
चक्रवर्ती ने बताया कि मैच से एक दिन पहले उन्होंने अपने तमिलनाडु और कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) टीम के साथी व मेंटर दिनेश कार्तिक को फ़ोन किया। कार्तिक ने श्रीलंका में प्रभावी गेंदबाज़ी करने के लिए चक्रवर्ती को कुछ इनपुट भी दिए।
इस मैच में चक्रवर्ती की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। चरिथ असलंका ने उन पर मिडविकेट की दिशा में दो छक्के जड़े, लेकिन श्रीलंकाई कप्तान दसुन शनका को कैरम गेंद पर आउट कर चक्रवर्ती ने वापसी की। उन्होंने अपने पहले अंतर्राष्ट्रीय विकेट का जश्न बहुत शांत ढंग से मनाया।
चक्रवर्ती ने कहा कि मैं बस खुश था क्योंकि मैं जहां चाहता था, गेंद ने वहीं टप्पा खाया और फिर टर्न हो गई। मैं सामान्यतया विकेट लेने पर आक्रामक जश्न नहीं मनाता।
चक्रवर्ती ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की तरह अपने डेब्यू अंतर्राष्ट्रीय मैच में भी पॉवरप्ले और डेथ दोनों में गेंदबाज़ी की। उन्होंने कहा, "आप अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खेल के किसी भी मौके (पॉवरप्ले या डेथ) पर गेंदबाज़ी करने से इनकार नहीं कर सकते हैं। मुझे तो अब इसकी आदत है। मैं किसी भी समय पर गेंदबाज़ी के लिए तैयार रहता हूं। आपका प्रदर्शन इस बात पर निर्भर नहीं करता कि आप कब गेंदबाज़ी के लिए आ रहे हैं, बल्कि इस पर निर्भर करता है कि आपने अपनी योजनाओं को कैसे अमल में लाया है। अगर आप अपनी बनाई हुई योजनाओं पर अमल करते हैं, तो आप निश्चित तौर पर अच्छा करेंगे।"
उन्होंने आगे कहा, "मैं डेथ ओवर्स में फ़ुल और यॉर्कर गेंदबाज़ी करने का प्रयास करता हूं क्योंकि इस समय गेंदबाज़ रन बनाने के लिए जाते हैं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की सबसे खास बात यह है कि आपके पास गलती करने के बहुत कम मौके होते हैं। अगर आप लगातार गलतियां करेंगे, तो आप खेल से बाहर हो जाएंगे। इसके अलावा आप हर मैच से कुछ ना कुछ सीखते हैं।"
चक्रवर्ती अब आईपीएल के दूसरे चरण में भाग लेने के लिए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाएंगे। यह पूछने पर कि क्या उनकी नज़र टी20 विश्व कप पर है, इस सवाल के जवाब में चक्रवर्ती ने कहा, "हमारी टीम केकेआर प्लेऑफ के लिए क्वालीफ़ाई करे, अभी मेरा लक्ष्य यही है। अगर विश्व कप के लिए मेरा चयन होना होगा, तो जरूर जाएगा। यह मेरे दिमाग में भी है, लेकिन मैं इसके बारे में अधिक नहीं सोच रहा हूं।"
उन्होंने कहा कि टी20 विश्व कप में स्पिन विभाग के लिए बहुत ही अधिक प्रतिस्पर्धा है और यह टीम व खिलाड़ियों के लिए बढ़िया भी है। इससे खिलाड़ी और बेहतर करने के लिए प्रेरित होंगे। यह नकारात्मक नहीं एक सकारात्मक प्रतिस्पर्धा है।
चक्रवर्ती 2019 में केकेआर के साथ एक नेट गेंदबाज़ के रूप में जुड़े थे और उन्होंने सुनील नारायण के साथ काम किया था। नारायण के बारे में चक्रवर्ती ने कहा कि अभी भी मैं अगर कोई गलती करता हूं तो नारायण खुद मेरे पास आते हैं और बताते हैं कि ये गलतियां हो रही हैं। वह मेरे लिए मेंटर हैं और अभी भी सर्वश्रेष्ठ है।
चक्रवर्ती ने कहा कि वह केकेआर के गेंदबाज़ी कोच कार्ल क्रो के साथ एक और गेंदबाज़ी वैरिएशन पर काम कर रहे हैं और यूएई में आईपीएल के दौरान उसकी झलक दिखला सकते हैं। अगर चक्रवर्ती यूएई में अच्छी गेंदबाज़ी करते हैं, तो उनका चयन विश्व टी20 के लिए लगभग तय हो सकता है।

देवरायन मुथु ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के दया सागर ने किया है