मैच (16)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
NZ v AUS (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
विश्व कप लीग 2 (1)
Nepal Tri-Nation (1)
Sheffield Shield (3)
CWC Play-off (3)
BAN v SL (1)
ख़बरें

रावलपिंडी पिच को डिमेरिट अंक देने के फ़ैसले के ख़‍िलाफ़ पीसीबी की अपील

यह अपील नजम सेठी के नेतृत्‍व वाले पीसीबी के नए प्रबंधन का पहला ऐक्‍शन है

बाबर आज़म भी उस समय पिच से संतुष्‍ट नहीं दिखे थे  •  AFP/Getty Images

बाबर आज़म भी उस समय पिच से संतुष्‍ट नहीं दिखे थे  •  AFP/Getty Images

इंग्‍लैंड के ख़‍िलाफ़ पिछले महीने रावलपिंडी टेस्ट की पिच को आईसीसी ने डिमेरिट अंक दिया था और अब पीसीबी ने इस निर्णय के ख़‍िलाफ़ अपील की है। मैच रेफ़री ऐंडी पायक्रॉफ़्ट ने पिच को औसत से नीचे बताया था और यह इस पिच को लेकर लगातार दूसरी बार दिया गया फ़ैसला था। उस समय पायक्रॉफ़्ट ने कहा था, "यह बेहद सपाट पिच थी और इसमें गेंदबाज़ों के लिए कोई मदद नहीं थी। यही कारण था कि बल्‍लेबाज़ों ने यहां तेज़ी से रन बनाए और दोनों ही टीम ने बड़ा स्‍कोर बनाया। मैच के दौरान पिच मुश्किल से ख़राब हुई।"

यह इस पिच को इस साल दिया गया दूसरा डिमेरिट अंक था, इससे पहले मार्च में ऑस्‍ट्रेलिया के ख़‍िलाफ़ टेस्‍ट में भी पिच को डिमेरिट अंक मिला था। अगर किसी मैदान को पांच साल में पांच डिमेरिट अंक मिलते हैं तो वहां पर एक साल तक के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय मैच नहीं हो सकता है।

यह अपील नजम सेठी के नेतृत्‍व वाले पीसीबी प्रबंधन का पहला ऐक्‍शन है। इससे पहले रमीज़ राजा पीसीबी के अध्‍यक्ष थे और यह टेस्‍ट उनके पद पर रहते हुए हुआ था। ऐसे में यह निर्णय उनके विपरीत जाने को रेखांकित करता है। उस समय राजा ने रिपोर्टरों से कहा था, "यह हमारे लिए शर्मनाक है, ख़ासतौर पर जब एक क्रिकेटर चेयरमैन हो। यह क्रिकेट के लिए अच्‍छा नहीं है। हम इससे बेहतर करने वाले देश हैं, जो क्रिकेट खेलते हैं।"

आईसीसी द्वारा प्रतिबंध की घोषणा के नौ दिन बाद 22 दिसंबर को सेठी ने अंतरिम प्रबंधन समिति के प्रमुख के रूप में पदभार संभाला। 26 दिसंबर को पीसीबी ने आधिकारिक तौर पर फै़सले की अपील की।

रमीज़ और आईसीसी ने ही रावलपिंडी विकेट की आलोचना नहीं की। इंग्‍लैंड के पूर्व बल्‍लेबाज़ों नासिर हुसैन और माइकल ऐथर्टन ने भी कॉमेंट्री के दौरान इसकी आलोचना की थी जबकि मैच के बाद बाबर आज़म भी पिच से ख़ुश नहीं दिखे थे।

बाबर ने कहा था, "हां जब पिच तैयार हो रही थी तो मैंने अपना इनपुट दिया था और हमने बता दिया था कि हम क्‍या चाहते हैं लेकिन चाहे मौसम हो या कोई अन्‍य कारण, यह इस तरह की पिच नहीं बन सकी। हम ऐसी पिच चाहते थे जहां गेंद स्पिनरों के लिए टर्न हो।"

इस टेस्‍ट का परिणाम रोमांचक रहा और यह इंग्‍लैंड की ऐतिहासिक जीतों में से एक था। इस टेस्‍ट में पहले ही दिन मेहमानों ने रिकॉर्ड 506 रन बना डाले थे। उन्‍होंने 101 ओवरों में ही 657 रन बना दिए थे और जवाब में पाकिस्‍तान ने 155 ओवरों में 579 रन बना डाले। इंग्‍लैंड ने 6.7 रन प्रति ओवर से रन बनाए। इसके बाद इंग्‍लैंड ने सही समय पर पारी घोषित की और पाकिस्‍तान ने लक्ष्‍य का पीछा करने को देखा लेकिन आउट हो गया।

वहीं ऑस्‍ट्रेलिया के ख़‍िलाफ़ टेस्‍ट में 14 विकेट गिरे लेकिन 1200 रन बने। ऑस्‍ट्रेलिया केवल चार ही विकेट ले पाया और यह उनका दूसरा सबसे ख़राब प्रदर्शन था। मैच रेफ़री मैच देखने और परिणाम को देखते हुए फ़ैसला ले सकते हैं, लेकिन इसके ख़‍िलाफ़ अपील की जा सकती है। प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट अब हॉकआई डेटा का उपयोग कर रहा है, अब उस मैदान पर हर गेंद की पिछले मैच से तुलना करते हुए निर्णय लिया जा सकता है।

पीसीबी की अपील का सटीक आधार स्पष्ट नहीं है, हालांकि इसकी जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने कहा कि "कई कारण थे, डेटा, वीडियो, रिपोर्ट द्वारा समर्थित" और अन्य कारणों की "लंबी सूची" थी।

जेरॉड किंबर ESPNcricinfo में लेखक हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।