मैच (6)
एशिया कप (4)
त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
ख़बरें

वनडे क्रिकेट को अभी कोई ख़तरा नहीं है : रोहित

'जब भी हम वनडे क्रिकेट खेलते हैं, स्टेडियम भरे होते हैं और उत्साह चरम पर होता है'

Rohit Sharma and Shikhar Dhawan led India to a commanding ten-wicket win, England vs India, 1st ODI, The Oval, London, July 12, 2022

रोहित शर्मा और शिखर धवन वनडे क्रिकेट के बहुत बड़े फ़ैन हैं  •  Getty Images

इंग्लैंड के टेस्ट टीम के कप्तान बेन स्टोक्स के वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद से ही इस प्रारूप के भविष्य पर चर्चे होने लगे हैं। हाल ही में मोईन अली ने भी इस फ़ॉर्मेट के भविष्य पर शंका जताया था। आर अश्विन तो यहां तक कह चुके हैं कि वह वनडे क्रिकेट के दौरान कई बार बीच मैच में ही अपने टीवी को बंद कर देते हैं।
हालांकि भारतीय कप्तान रोहित शर्मा इससे अलग राय रखते हैं। इससे पहले उनके वनडे ओपनिंग पार्टनर शिखर धवन भी वनडे क्रिकेट के प्रति अपना प्यार और समर्थन जता चुके हैं।
समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए रोहित ने कहा, "मेरे लिए क्रिकेट ज़रूरी है फिर चाहे वह कोई भी फ़ॉर्मेट हो। मैं कभी नहीं कहूंगा कि वनडे क्रिकेट ख़त्म होने वाला है। मेरे लिए खेलना बहुत ज़रूरी है। बचपन से ही हम भारत के लिए खेलने का सपना देखकर बड़ा होते हैं। जब भी हम वनडे क्रिकेट खेलते हैं, स्टेडियम भरे होते हैं और उत्साह चरम पर होता है। यह किसी का व्यक्तिगत फ़ैसला है कि वह कौन सा फ़ॉर्मेट खेलता है और कौन सा नहीं। हां, मेरे लिए सभी तीनो फ़ॉर्मेट महत्वपूर्ण है।"
भारतीय टीम अभी वनडे सीरीज़ के लिए ज़िम्बाब्वे में है। लेकिन रोहित सहित कई खिलाड़ी ज़िम्बाब्वे नहीं गए हैं और एशिया कप के लिए तैयारी कर रहे हैं, जो कि 27 अगस्त से यूएई में शुरू होना है। भारतीय टीम एशिया कप की गत विजेता है, जो 2018 में अंतिम बार वनडे फ़ॉर्मेट में खेला गया था। तब भी रोहित शर्मा ही टीम के कप्तान थे। इस बार एशिया कप टी20 फ़ॉर्मेट में खेला जाना है।
रोहित ने कहा, "एशिया कप लंबे समय (चार साल) बाद हो रहा है लेकिन हमने पिछले साल दुबई में ही पाकिस्तान के ख़िलाफ़ खेला था। हालांकि एशिया कप अलग है और हमारी तैयारियां भी अलग है। हमें परिस्थितियों का मूल्यांकन करना होगा और यह बात भी ध्यान में रखनी होगी कि हमें 40 डिग्री तापमान में खेलना है। उसी हिसाब से हमें अपनी तैयारियों को अंज़ाम देना होगा।"
अब टी20 विश्व कप में भी दो महीने से कम का समय बचा है। रोहित ने कहा, "टी20 विश्व कप में भी अब भी कुछ समय है। उसके पहले हमारे पास एशिया कप, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ घरेलू सीरीज़ है। 80 से 90 प्रतिशत टीम निश्चित है और तीन या चार स्थान परिस्थितियों पर निर्भर करते हैं। ऑस्ट्रेलिया में परिस्थितियां भारत और यूएई से बिल्कुल अलग होंगी। हमें यह ध्यान देना होगा कि ऑस्ट्रेलिया में हमारी टीम के लिए कौन सा संतुलन बेहतर होगा।"
फ़िलहाल जसप्रीत बुमराह और हर्षल पटेल चोटिल हैं और एशिया कप में टीम के साथ नहीं हैं। टी20 विश्व कप में भी उनका चयन उनकी फ़िटनेस पर निर्भर करेगा। रोहित कहते हैं कि जिस तरह से अधिक मात्रा में क्रिकेट खेला जा रहा है, वैसे में खिलाड़ियों का चोटिल होना आम है और हमें अपना बेंच स्ट्रेंथ खड़ा करना होगा।
उन्होंने कहा, "बुमराह या शमी हमेशा टीम के साथ नहीं रहेंगे, इसलिए अन्य युवा खिलाड़ियों को भी तैयार रहना होगा। मैंने और राहुल (द्रविड़) भाई ने इस बारे में ही चर्चा की है कि कैसे एक बेंच स्ट्रेंथ तैयार किया जाए। मैं कभी भी ऐसी टीम नहीं चाहता जो एक या दो नामों पर निर्भर हो। मैं ऐसी टीम बनाना चाहता हूं जिसमें हर कोई अपना योगदान दे।"