मैच (17)
IPL (2)
ACC Premier Cup (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : हरफ़नमौला हार्दिक और चहल के चलने पर होगा अफ़्रीका से हिसाब बराबर

चहल ने टी20 में डिकॉक को कुल छह बार जबकि मिलर को तीन बार अपना शिकार बनाया है

अपील करते हुए युज़वेंद्र चहल  •  BCCI

अपील करते हुए युज़वेंद्र चहल  •  BCCI

रविवार को भारतीय टीम कटक के मैदान में दूसरी बार इस टी20 श्रृंखला में साउथ अफ़्रीका से भिड़ेगी। भारत के सामने इस मुक़ाबले को अपने नाम कर सीरीज़ में बराबरी करने की चुनौती है। इस मैच में शामिल रहने वाले खिलाड़ियों और दोनों ही टीमों से संबंधित कुछ ऐसे आंकड़ों को टटोलते हुए जिनकी छाप दूसरे टी20 में होने वाले न सिर्फ़ खेल पर पड़ सकती है बल्कि उसके नतीजे भी प्रभावित हो सकते हैं।
भारत में अफ़्रीका के ख़िलाफ़ टीम इंडिया का प्रदर्शन है फ़ीका
टी20 में भारतीय टीम और साउथ अफ़्रीका के बीच कुल 16 बार भिड़ंत हुई है जिसमें भारतीय टीम ने अफ़्रीकी टीम पर हावी होते हुए कुल नौ मैच जीते हैं। हालांकि ख़ुद भारतीय समरज़मीं पर अफ़्रीका के ख़िलाफ़ टीम इंडिया का प्रदर्शन काफ़ी फ़ीका है। भारत में खेले गए कुल पांच टी20 मैचों में अफ़्रीकी टीम ने चार बार भारतीय टीम को पटखनी दी है।
डिकॉक को पवेलियन भेजने की पहल कर सकते हैं चहल
साउथ अफ़्रीका के सलामी बल्लेबाज़ क्विंटन डिकॉक का टी20 में भारतीय गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन तो संतोषजनक है। पावरप्ले के दौरान डिकॉक को पवेलियन भेजने की ज़िम्मेदारी भुवनेश्वर कुमार निभा सकते हैं। डिकॉक टी20 में भुवनेश्वर की 57 गेंदों पर 56 रन ही बना पाए हैं। हालांकि वह भुवनेश्वर को अपना विकेट भी इतनी आसानी से नहीं देते। भुवी सिर्फ़ एक बार ही डिकॉक को आउट नहीं कर पाए हैं। हार्दिक पंड्या के ख़िलाफ़ भी डिकॉक ने 17 गेंदों में 153 के स्ट्राइक रेट से 26 रन बनाए हैं। वह भी डिकॉक को एक बार भी आउट नहीं कर पाए हैं।
डिकॉक का बल्ला अगर शुरुआत में बोलता है तो युज़वेंद्र चहल उन्हें पवेलियन भेजने की पहल कर सकते हैं। चहल ने डिकॉक को टी20 में कुल छह बार अपना शिकार बनाया है। जबकि इस दौरान डिकॉक ने चहल की 44 गेंदों पर 54 रन बनाए हैं। हालांकि अक्षर पटेल ने भी डिकॉक को टी20 में दो बार आउट ज़रूर किया है लेकिन डिकॉक ने अक्षर की 59 गेंदों पर 151 के स्ट्राइकर रेट और 44 की औसत से 89 रन भी बनाए हैं।
हरफ़नमौला हार्दिक कर सकते हैं हिसाब बराबर
दूसरे टी20 में भारतीय टीम का प्रदर्शन हार्दिक के खेल पर बहुत हद तक निर्भर कर सकता है। साउथ अफ़्रीका के खिलाड़ियों के ख़िलाफ़ गेंद और बल्ले दोनों ही क्षेत्रों में हार्दिक का प्रदर्शन काफ़ी प्रभावशाली है। हार्दिक ने टी20 में अनरिख़ नॉर्खिये और कगिसो रबाडा के ख़िलाफ़ क्रमश: 214 और 150 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। फ़िनिशर हार्दिक डेथ ओवरों के दौरान इन दोनों ही गेंदबाज़ों के लिए बड़ा सिरदर्द साबित हो सकते हैं।
इसके अलावा गेंदबाज़ी में भी वह साउथ अफ़्रीका के मध्य क्रम की रीढ़ डेविड मिलर को किलर बनने से रोक सकते हैं। उन्होंने टी20 में कुल चार बार मिलर को पवेलियन भेजा है। मिलर ने हार्दिक की कुल 18 गेंदों पर 28 रन बनाए हैं। हार्दिक के अलावा चहल भी टी20 में मिलर को तीन बार अपना शिकार बना चुके हैं।
किशन के प्रदर्शन पर भी निर्भर करेगा भारत का मिशन
पिछले मुक़ाबले में अपनी अर्धशतकीय पारी की बदौलत भारतीय टीम को एक बड़े स्कोर तक पहुंचाने वाले सलामी बल्लेबाज़ इशान किशन पर दूसरे टी20 में दारोमदार रहने वाला है। किशन ने साउथ अफ़्रीका की गेंदबाज़ी के तीन प्रमुख स्तंभ नॉर्खिये, रबाडा और केशव महाराज के विरुद्ध टी20 में ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी की है। किशन ने टी20 में नॉर्खिये की 28 गेंदों पर 211 के स्ट्राइक रेट से 59, रबाडा की 39 गेंदों पर 174 के स्ट्राइक रेट से 68 और महाराज की 15 गेंदों पर 240 के स्ट्राइक रेट से 36 रन बनाए हैं। हालांकि रबाडा और महाराज की गेंद पर किशन एक-एक बार आउट भी हो चुके हैं।
क्या रबाडा करेंगे टीम इंडिया का काम कबाड़ा
भले ही किशन के ख़िलाफ़ रबाडा का रिकॉर्ड अच्छा न हो लेकिन किशन के जोड़ीदार ऋतुराज गायकवाड़ को वह टी20 में दो बार आउट कर चुके हैं। हार्दिक को भी रबाडा टी20 में दो बार अपना शिकार बना चुके हैं।

नवनीत झा ESPNcricinfo हिंदी में एडिटोरियल फ़्रीलांसर हैं।