मैच (7)
AFG v IRE (1)
WPL (1)
PSL 2024 (1)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (1)
Durham in ZIM (1)
QAT v HKG (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : चेन्नई की यह जोड़ी कर सकती है चहल को चकमा देने की पहल

रहाणे के लिए चुनौती है अश्विन की स्पिन

कॉन्वे से एक बार फिर चेन्नई की उम्मीदें बंधी होंगी  •  Associated Press

कॉन्वे से एक बार फिर चेन्नई की उम्मीदें बंधी होंगी  •  Associated Press

गुरुवार को चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स इस सीज़न में दूसरी बार एक दूसरे के आमने-सामने होंगे। पहले मुक़ाबले में चेन्नई को राजस्थान के हाथों इस सीज़न की चेपॉक पर इकलौती हार मिली थी, लेकिन इस बार मुक़ाबला है राजस्थान के घर यानी जयपुर में। ऐसे में इस मैच से जुड़े कुछ ऐसे मैच-अप्स को टटोलते हैं, जो कि मुक़ाबले में अपनी छाप छोड़ सकते हैं।
रहाणे के लिए चुनौती अश्विन की स्पिन
अजिंक्य रहाणे इस सीज़न में एक अलग ही शैली में नज़र आ रहे हैं, जिसका परिणाम यह हुआ कि लगभग डेढ़ साल बाद उनकी भारतीय टेस्ट टीम में वापसी हो गई। हालांकि सवाई मानसिंह स्टेडियम पर रविचंद्रन अश्विन की स्पिन को खेलना उनके लिए बड़ी चुनौती हो सकती है। अश्विन ने टी20 में रहाणे को पांच बार अपना शिकार बनाया है। रहाणे अश्विन की 42 गेंदों पर 52 रन ही बना पाए हैं।
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और कोलकाता नाइट राइडर्स के ख़िलाफ़ अपने बल्ले का जौहर दिखाने वाले शिवम दुबे की भी अश्विन एक बार अपना शिकार बना चुके हैं। जबकि अंबाती रायुडु भी चार बार अश्विन की गेंद पर आउट हो चुके हैं। पिछले मुक़ाबले में भी अश्विन ने ही रहाणे और शिवम को पवेलियन चलता किया था।
चेन्नई के लिए सबसे बड़ी चिंता हैं चहल
चेन्नई के बल्लेबाज़ों के लिए युजवेंद्र चहल इस बार भी चिंता का सबसे बड़ा सबब बन सकते हैं, वजह चेन्नई के ख़िलाफ़ चहल का ट्रैक रिकॉर्ड है। चहल ने चेन्नई के लगभग सभी बल्लेबाज़ों को परेशान किया है। चहल ने टी20 मैचों में ऋतुराज गायकवाड़ को तीन, रहाणे को तीन, रायुडू को चार, मोईन अली को दो बार आउट किया है। पिछले मुक़ाबले में भी चहल ने रायुडू सहित कुल दो विकेट झटके थे। चहल के अलावा ट्रेंट बोल्ट भी गायकवाड़ और महेंद्र सिंह धोनी को टी20 में तीन-तीन बार आउट कर चुके हैं, जबकि रहाणे को भी उन्होंने दो बार आउट किया है।
यह जोड़ी कर सकती है चहल को चकमा देने की पहल
चेन्नई के अधिकतर बल्लेबाज़ों के ख़िलाफ़ भले ही चहल का रिकॉर्ड अच्छा हो लेकिन चेन्नई के पास बाएं हाथ के बल्लेबाज़ों डेवन कॉन्वे और मोईन अली की जोड़ी है। हालांकि चहल ने कॉन्वे को एक जबकि मोईन को दो बार टी20 में आउट किया है लेकिन चहल के ख़िलाफ़ इनका स्ट्राइक रेट भी चेन्नई के अन्य बल्लेबाज़ों की तुलना में बेहतर है। चहल ने पिछले मुक़ाबले में कॉन्वे को अपना शिकार ज़रूर बनाया था लेकिन उन्हें दो चौके भी खाने पड़े थे। चहल ने अब तक टी20 में कॉन्वे को कुल 28 गेंदें डाली हैं जिसमें उन्होंने 132 के स्ट्राइक रेट से 37 रन बनाए हैं, जबकि मोईन ने चहल की 34 गेंद में 46 रन बनाए हैं।
बटलर और सैमसन को रहना होगा मोईन और जाडेजा से सावधान
जॉस बटलर ने चेन्नई के ख़िलाफ़ खेले पिछले मुक़ाबले में अर्धशतक जड़ा था, लेकिन मोईन ने ही बटलर को आउट कर चेन्नई को अहम सफलता दिलाई थी। टी20 में बटलर और मोईन की भिड़ंत हमेशा से कांटे की रही है। बटलर ने मोईन की 38 गेंदों पर 57 रन मारे तो हैं लेकिन इन्हीं सात पारियों में चार बार मोईन ने उन्हें पवेलियन का रास्ता भी दिखाया है।
वहीं रवींद्र जाडेजा ने राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन को दो बार आउट किया है। पिछले मुक़ाबले में तो उन्होंने शून्य के निजी स्कोर पर ही सैमसन को बोल्ड कर दिया था। हालांकि जाडेजा टी20 में शिमरॉन हेटमायर को भी दो बार आउट कर चुके हैं लेकिन हेटमायर ने उनकी 30 गेंदों पर 173 के स्ट्राइक रेट से 52 रन बनाए हैं।