मैच (25)
Legends WC (1)
ENG v NZ (W) (1)
LPL (3)
TNPL (4)
ZIM v IND (2)
MLC (3)
T20 Blast (8)
RHF Trophy (3)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : प्रभसिमरन सिंह को रोकने की ज़िम्मेदारी कौन लेगा?

इशांत शर्मा धर्मशाला में पंजाब के बल्लेबाज़ों के लिए चुनौती बन सकते हैं

David Warner got Delhi Capitals off to a good start, Delhi Capitals vs Punjab Kings, IPL 2023, Delhi, May 13, 2023

वॉर्नर को रोकने के लिए कप्तान धवन के पास हैं कौन से विकल्प?  •  BCCI

बुधवार को धर्मशाला में पंजाब किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स एक बार फिर आमने सामने होंगी। एक तरफ़ दिल्ली जहां घर में मिली हार का बदला लेने की उम्मीद से उतरेगी तो वहीं पंजाब की नज़र प्लेऑफ़ में प्रवेश पाने के रास्ते को और आसान करने पर होंगी। यह एक ऐसा मुक़ाबला होगा जिसके नतीजों पर नज़र अन्य टीमों की भी होंगी। ऐसे में हम भी कुछ ऐसे आंकड़ों पर नज़र डालते हैं जो कि इस मैच के नतीजे को प्रभावित कर सकते हैं।
प्रभसिमरन को रोकने की ज़िम्मेदारी कौन लेगा?
पंजाब के ख़िलाफ़ दिल्ली को घर पर मिली हार का सबसे बड़ा कोई कारक था तो वह उस मैच में शतक बनाने वाले प्रभसिमरन सिंह थे। दिल्ली के अधिकतर गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ प्रभसिमरन का रिकॉर्ड लाजवाब है। हालांकि इशांत शर्मा प्रभसिमरन को रोकने की ज़िम्मेदारी उठा सकते हैं। प्रभसिमरन ने टी20 में इशांत की 19 गेंदों पर 95 के स्ट्राइक रेट से 18 रन ही बनाए हैं जबकि तीन पारियों में एक बार उन्हें इशांत की गेंद पर पवेलियन भी लौटना पड़ा है।
इशांत से मिलेगी पंजाब को चुनौती
इशांत सिर्फ़ प्रभसिमरन ही नहीं बल्कि पंजाब के अन्य बल्लेबाज़ों के लिए भी बड़ी चुनौती साबित हो सकते हैं। कम से कम आंकड़े तो इशांत के पक्ष में ही गवाही दे रहे हैं। इशांत ने शिखर धवन को टी20 की छह पारियों में दो बार आउट किया है जबकि धवन ने उनकी गेंदों पर 120 के स्ट्राइक रेट से 36 (30 गेंद) रन बनाए हैं। वहीं लियम लिविंगस्टन ने इशांत की 12 गेंदों पर 125 के स्ट्राइक रेट से 15 रन ज़रूर बनाए हैं लेकिन टी20 की दोनों पारियों में उन्हें इशांत का ही शिकार बनना पड़ा है।
वॉर्नर के लिए इस गेंदबाज़ को देना होगा पंजाब को मौक़ा
डेविड वॉर्नर अगर पिछले मुक़ाबले में 54 के स्कोर पर हरप्रीत बराड़ का शिकार नहीं बने होते तो वह मैच पंजाब के हाथ से फिसल सकता था। दिल्ली की वह पिच स्पिनर्स के लिए मददगार थी इसलिए पंजाब के स्पिनर्स का बोलबाला रहा। हालांकि धर्मशाला में वॉर्नर को रोकने के लिए कप्तान धवन रबाडा का रुख़ कर सकते हैं जिन्होंने टी20 में पांच बार वॉर्नर को आउट किया है। हालांकि रबाडा ने इस सीज़न में अपना अंतिम मैच 30 अप्रैल को चेपॉक में चेन्नई के ख़िलाफ़ खेला था।
क्या करन अपनी लय ख़ोज पाएंगे?
पंजाब के सबसे महंगे खिलाड़ी सैम करन इस सीज़न में पंजाब के लिए महंगे ही साबित हुए हैं। करन के फ़ॉर्म में होने की चिंता पंजाब के लिए चुनौती भी है। हालांकि करन के आंकड़े दिल्ली के बल्लेबाज़ों के ख़िलाफ़ संतोषजनक हैं। उन्होंने फ़िल सॉल्ट को टी20 में दो बार अपना शिकार बनाया है। जबकि दिल्ली के कप्तान वॉर्नर टी20 में उनकी 43 गेंदों पर 98 के स्ट्राइक रेट से 42 रन बनाए हैं। ऐसे में अगर धवन रबाडा के विकल्प के साथ नहीं जाते हैं तो वह करन को भी दिल्ली की सलामी जोड़ी के सामने आक्रमण पर ला सकते हैं।