मैच (13)
T20 वर्ल्ड कप (4)
SL vs WI [W] (1)
T20 Blast (8)
ख़बरें

बाउचर ने माना कि फ़ैंस की हूटिंग से हार्दिक को परेशानी हुई

MI के कोच ने कहा कि रोहित अपनी क़िस्मत के मालिक खु़द हैं

मुंबई इंडियंस के मुख्य कोच मार्क बाउचर ने यह माना है कि हार्दिक पंड्या को रोहित शर्मा की जगह पर कप्तान बनाने के बाद, प्रशंसकों की आलोचना ने IPL 2024 में उनकी टीम के प्रदर्शन को प्रभावित किया।
शुक्रवार को MI की टीम को उनके लीग स्टेज के आख़िरी मैच में लखनऊ सुपर जायंट्स के ख़िलाफ़ 18 रनों की हार झेलनी पड़ी। इस हार के बाद मुंबई की टीम ने अंक तालिका में 10वें स्थान पर इस सीज़न को समाप्त किया है। रोहित शर्मा इस मैच में फिर से एक इम्पैक्ट प्लेयर के तौर पर खेले। हालांकि पहली पारी में भले ही वह मैदान पर नहीं थे लेकिन जब हार्दिक गेंदबाज़ी करने आए तो स्टेडियम में मौजूद फ़ैंस रोहित शर्मा का नारा लगाते दिखे।
दूसरी पारी के दौरान भी हाल कुछ ऐसा ही था। जब रोहित 38 गेंदों में 68 रनों की पारी खेलने के बाद वापस डगआउट जा रहे थे, तब फ़ैस ने तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उनकी इस पारी के लिए उनका धन्यवाद किया लेकिन उसके बाद जैसे ही हार्दिक बल्लेबाज़ी के लिए आए तो लोगों ने उनके ख़िलाफ़ हूटिंग शुरू कर दी।
हार्दिक जब से मुंबई के कप्तान बने हैं, फ़ैस का यह रवैया पहले ही मैच से जारी रहा है। मुंबई के कोच बाउचर ने कहा, "फ़ैंस के द्वारा इस तरह की प्रतिक्रियाओं को सुनना अच्छा अनुभव नहीं था। मुझे हार्दिक के लिए काफ़ी बुरा लग रहा था। इस तरह के अनुभव से गुजरना कहीं से भी आसान नहीं होता है। टीम में कई ऐसी चीज़ें हैं, जिनके बारे में हमें चर्चा करनी होगी। हालांकि अभी तुरंत उन चीज़ों पर चर्चा करना सही नहीं है। अभी टीम का हर सदस्य काफ़ी भावुक और निराश है। इसी कारण से हम अभी कोई फ़ैसला नहीं लेने वाले हैं। सबसे पहले हमें यह मूल्यांकन करना है कि हमने कहां ग़लती की। "
बाउचर ने स्वीकार किया कि इस सीज़न में टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं था, लेकिन उम्मीद है कि टीम प्रबंधन अगले सीज़न से पहले कुछ "अच्छे फै़सले" करेगा।
बाउचर ने कहा, "ऐसी कई चीजे़ं हैं जिनमें हमें सुधार की ज़रूरत है, चाहे वह मैदान पर हो या मैदान के बाहर। हमारे टीम प्रबंधन में कई महान खिलाड़ी मौजूद हैं। हम एक साथ बैठेंगे और इस पर चर्चा करेंगे कि कैसे इन खिलाड़ियों से उस तरह के प्रदर्शन को बाहर निकाला जाए, जिसके लिए ये सक्षम हैं।
"इस सीज़न में बहुत सारी ऐसी चीज़ें हो रही थीं, जिनका हिस्सा बनना कहीं से भी अच्छा अनुभव नहीं था। कुछ चीज़ें पहले किसी खिलाड़ी को प्रभावित करती हैं और फिर टीम को भी प्रभावित करती है। इस संदर्भ में हमें विचार करने की ज़रूरत है और उम्मीद है कि आगे कुछ अच्छे फै़सले किए जाएंगे ताकि मैदान के बाहर की चीज़ों पर भी ध्यान दिया जा सके।''
हार्दिक ने इस सीज़न 13 पारियों में सिर्फ़ 18 की औसत से मात्र 216 रन बनाए। साथ ही गेंद के साथ उन्होंने 12 पारियों में 11 विकेट लिए और उनकी इकॉनमी 10.75 की रही। बाउचर ने इस बात को भी स्वीकार किया कि मैदान के बाहर जिस तरह की चीज़ें हुईं, उससे हार्दिक के प्रदर्शन पर प्रभाव पड़ा, हालांकि इस तरह की चीज़ें उन्हें एक बेहतर कप्तान बनने में मदद करेगी।
उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि अगर हार्दिक यहां होते तो वह भी अपने प्रदर्शन से निराश होते। एक कप्तान के दृष्टिकोण से मुझे लगा कि उन्होंने कुछ अच्छे मैच खेले हैं। उनके आसपास बहुत सारी चीजे़ं चल रही थीं, जो शायद उनके योजनाओं और विचार को प्रभावित कर रही थी। कप्तान के तौर पर यह उनके लिए काफ़ी मुश्किल समय था।"
"निश्चित रूप से हमारे ड्रेसिंग रूम में उन्हें बहुत समर्थन मिल रहा था, लेकिन एक खिलाड़ी के रूप में इससे गुजरना एक कठिन अनुभव है। मुझे लगता है कि वह जिन चीज़ों से गुजर रहे हैं, उनमें से बहुत सी चीजे़ं अनावश्यक हैं। यह निश्चित रूप से हार्दिक के लिए सीखने का एक बेहतर अवसर होगा।
रोहित के भविष्य पर बाउचर: 'वह अपनी क़िस्मत के मालिक खु़द हैं'
ऐसी अटकलें हैं कि शुक्रवार का मैच रोहित का MI के लिए आख़िरी मैच था। हालांकि बाउचर ने कहा कि अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है।
बाउचर ने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो रोहित के भविष्य के बारे में ज़्यादा बातचीत नहीं हुई है। इस पूरे सीज़न की थोड़ी समीक्षा करने के लिए मैंने उनसे बात की थी। मैंने उनसे पूछा कि आगे आप किस बारे में सोच रहे हैं, और उन्होंने मुझसे कहा 'विश्व कप' और यह बिल्कुल सही है।
"मेरे लिए वह अपनी क़िस्मत के मालिक खु़द हैं। अगले सीज़न में मेगा ऑक्शन होने वाला है। किसी को नहीं पता कि क्या होने वाला है? "