मैच (13)
आईपीएल (2)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
USA vs BAN (1)
ख़बरें

इशांत शर्मा की उंगलियों में टांकें, लेकिन इंग्लैंड सीरीज़ से पहले फ़िट होने का भरोसा

इंग्लैंड की कॉउंटी खिलाड़ियों के बॉयो-बबल में ना होने के कारण भारतीय टीम को कॉउंटी टीमों के ख़िलाफ़ अभ्यास मैच मिलने की संभावना बहुत कम, इंग्लैंड से टेस्ट से पहले भारत खेलेगा दो इंट्रा स्क्वैड मैच

Ishant Sharma hurt his right hand while trying to stop a Ross Taylor drive, India vs New Zealand, World Test Championship (WTC) final, Southampton, Day 6 - reserve day, June 23, 2021

रॉस टेलर के एक ड्राइव को रोकने के लिए इशांत शर्मा के हाथ में लगी थी चोट  •  AFP/Getty Images

न्यूजीलैंड के ख़िलाफ़ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फ़ाइनल के आखिरी दिन चोटिल होने के बाद इशांत शर्मा को अपने गेंदबाज़ी हाथ पर कई टांके लगवाने पड़े हैं। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ अगस्त में शुरू होने वाली भारत की पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ से पहले इस तेज़ गेंदबाज़ के पूरी तरह से फ़िट हो जाने की संभावना है।
इशांत ने फ़ाइनल के दौरान रॉस टेलर के एक ड्राइव को रोकने की कोशिश की थी, जिसके बाद उनके हाथ से खून निकलने लगा और उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। वह इस कारण अपने सातवें ओवर में केवल दो गेंद ही फेंक सके और यह ओवर जसप्रीत बुमराह ने पूरा किया।
बीसीसीआई के एक अधिकारी ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को बताया, "इशांत के दाहिने हाथ की बीच की दो उंगलियों पर कई टांके लगे हैं। हालांकि, यह बहुत गंभीर नहीं है। लगभग दस दिनों में टांके हट जाएंगे और उनके समय पर ठीक होने की पूरी उम्मीद है।" गौरतलब है कि इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टेस्ट सीरीज़ शुरू होने में अभी 6 सप्ताह का समय बाकी है।
विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फ़ाइनल में न्यूज़ीलैंड से आठ विकेट से हार के बाद के भारतीय टीम को तीन सप्ताह का ब्रेक मिला है। वे इंग्लैंड के अंदर ही अपने परिवार के साथ घूम सकते हैं। टीम 14 जुलाई को लंदन में फिर से एकत्रित होगी और फिर नॉटिंघम के लिए रवाना होगी। उन्हें इंग्लिश कॉउंटी टीमों के ख़िलाफ़ प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच मिलने की संभावना बहुत कम है। वे इसके बजाय डरहम के रिवरसाइड मैदान में दो इंट्रा स्क्वैड खेल खेलेंगे।
विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फ़ाइनल के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अभ्यास मैच की इच्छा ज़ाहिर की थी। कोहली ने कहा था, "यह हम तय नहीं कर सकते हैं। हां, हम प्रथम श्रेणी मैच जरूर चाहते हैं, जो हमें नहीं दिया गया है। मुझे नहीं पता कि इसके क्या कारण हैं? लेकिन मुझे लगता है कि हमारे पास पहले टेस्ट की तैयारी के लिए पर्याप्त समय है।"
यह समझा जा रहा है कि बीसीसीआई ने कुछ अभ्यास मैचों के लिए ईसीबी से अनुरोध किया था, लेकिन कोरोना परिस्थितियों को देखते हुए यह संभव नहीं हो सका। ईसीबी के प्रवक्ता ने शुक्रवार को पीटीआई को बताया, "कोविड -19 प्रोटोकॉल के कारण भारतीय टीम अगस्त में पहले टेस्ट से पहले दो चार दिवसीय इंट्रा स्क्वैड मैच खेलेगी।" यह पूछे जाने पर कि क्या कॉउंटी टीमों के ख़िलाफ़ मैच की कोई भी संभावना है, इस पर प्रवक्ता ने 'नहीं' में जवाब दिया।
इंग्लैंड में कॉउंटी क्रिकेटरों का नियमित रूप से कोविड टेस्ट किया जा रहा है, लेकिन उन्हें किसी बॉयो बबल में नहीं रखा गया है। वहीं डरहम पहुंचने के बाद भारतीय टीम फिर से बॉयो बबल में होगी।
बीसीसीआई के अधिकारी ने कहा, "इंग्लैंड के घरेलू क्रिकेटरों का बॉयो बीबीएल में नहीं होना निश्चित रूप से एक मुद्दा है। इसलिए डरहम में इंट्रा स्क्वैड मैच होंगे।" भारत वर्तमान में 24 खिलाड़ियों के साथ यात्रा कर रहा है, जिससे इंट्रा स्क्वैड मैच संभव हो सकेंगे।