मैच (16)
IND v ENG (1)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
BPL 2023 (2)
NZ v AUS (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
विश्व कप लीग 2 (1)
CWC Play-off (3)
ख़बरें

सिडनी टेस्ट में कम रोशनी होने पर भी खेल को जारी रखने के फ़ैसले से निराश ज़ॉन्डो

साउथ अफ़्रीकी बल्लेबाज़ को भरोसा है कि डीन एल्गर जल्द ही फ़ॉर्म में वापस आएंगे

पैट कमिंस की एक शानदार यॉर्कर गेंद पर ज़ॉन्डो को आउट करार दिया गया था  •  Getty Images

पैट कमिंस की एक शानदार यॉर्कर गेंद पर ज़ॉन्डो को आउट करार दिया गया था  •  Getty Images

साउथ अफ़्रीका के बल्लेबाज़ खाया ज़ॉन्डो ने यह सवाल उठाया है कि जब वह आउट हुए तो क्या खेल को जारी रखने के लिए रोशनी उपयुक्त थी? साथ ही उन्होंने यह भी माना कि पैट कमिंस की यॉर्कर उनके बल्ले पर लगने के बाद उनकी पैड पर लगी थी।

ज़ॉन्डो जब बल्लेबाज़ी करने आए तो उनकी टीम 37 के स्कोर पर तीन विकेट गंवा चुकी थी। वहां से उन्होंने टीम को संभालने का प्रयास किया और अपने निजी योग को 39 तक लेकर गए। इसके बाद जब पर्याप्त रोशनी नहीं थी, तब फ़्लड लाइट का सहारा लिया गया। उस वक़्त कप्तान कमिंस ख़ुद गेंदबाज़ी करने आए और शानदार गेंदबाज़ी की। उनकी एक यॉर्कर गेंद ज़ॉन्डो के पैड पर लगी और अंपायर ने उनको आउट करार दिया। अंपायर के इस फ़ैसले कि ख़िलाफ़ ज़ॉन्डो ने रिव्यू नहीं लिया लेकिन रिप्ले में यह दिखा कि अल्ट्रा ऐज में हरकत हो रही थी। हालांकि ऐसा भी प्रतीत हो रहा था कि बल्ले के ज़मीन पर टकराने के कारण अल्ट्रा ऐज में यह हरकत हो रही थी।

ज़ॉन्डो ने कहा, "हरकत साफ़ दिख रहा था। हालांकि मैं इसके बारे में ज़्यादा कुछ नहीं कहना चाहता। जो होना था, वह हो गया। मुझे ऐसा लगा कि मैदान पर लाइट काफ़ी कम थी और पैट कमिंस धीमी गति के गेंदबाज़ नहीं हैं।"

बुधवार को पहली बार खेल बाधित होने के समय पर अंपायरों ने ख़राब रोशनी के लिए एक स्तर निर्धारित किया था। जॉश हेज़लवुड ने भी स्वीकार किया कि दिन के खेल के ख़त्म होने के कुछ समय पहले रोशनी लगातार कम हो रही थी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा ज़ॉन्डो के आउट होने के बाद हुआ था।

ज़ॉन्डो के आउट होने के बाद कमिंस की गेंद पर ही काइल वेरेन भी स्लिप में कैच आउट हो गए थे। इसके बाद साउथ अफ़्रीका को फ़ॉलोऑन बचाने के लिए 127 रन चाहिए थे।

ज़ॉन्डो ने कहा, "हमारे पास बल्लेबाज़ी करने के लिए एक दिन है, मुझे यक़ीन है कि हम उस स्कोर तक पहुंच जाएंगे।"

इसके अलावा ज़ॉन्डो ने ख़राब फ़ॉर्म में चल रहे अपने कप्तान डीन एल्गर पर भी भरोसा जताते हुए कहा है कि वह जल्द ही अपनी फ़ॉर्म में वापसी करेंगे।

ज़ॉन्डो ने कहा, " चेंज़िंग रूम में उनका उत्साह काफ़ी अच्छा है। आपको उनमें कोई हताशा नज़र नहीं आती। मैं घरेलू स्तर पर कप्तान रहा हूं और मुझे पता है कि यह कितना कठिन हो सकता है। यदि आप अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कप्तानी कर रहे हैं तो यह काम 10 गुना ज़्यादा मुश्किल हो जाता है। हालांकि वह इस काम को बख़ूबी कर रहे हैं। मुझे पूरी उम्मीद है कि वह जल्द ही फिर से अपनी चमक बिखेरेंगे।"

एंड्रयू मैकग्लाशन ESPNcricinfo डिप्टी एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।