मैच (9)
IPL (2)
SA v SL (W) (1)
ACC Premier Cup (4)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

नेपाल ने यूएई के मुंह से जीत छीन विश्व कप क्वालिफ़ायर का टिकट कटाया

कम होती रोशनी के चलते जब मैच रद्द किया गया तब नेपाल डीएलएस के अनुसार नौ रन से आगे था

नेपाल ने पिछले 12 वनडे मैचों में 11 में जीत दर्ज की है  •  AFP/Getty Images

नेपाल ने पिछले 12 वनडे मैचों में 11 में जीत दर्ज की है  •  AFP/Getty Images

नेपाल ने जून में ज़िम्बाब्वे में होने वाले 2023 विश्व कप क्वालिफ़ायर में अपनी अपनी जगह पक्की कर ली है। उन्होंने नाटकीय अंदाज में इस कारनामे की पटकथा लिखी। काठमांडू में नेपाल ने कम होती रोशनी के चलते विवादास्पद परिस्थितियों में यूएई को डीएलएस मेथड के अनुसार नौ रन से हराकर विश्व कप क्वालिफ़ायर का टिकट कटाया।
नेपाल के सामने 310 रन का लक्ष्य था। जब अंपायरों ने स्थानीय समयनुसार 5:37 में मैच रद्द करने की घोषणा की तब उन्हें छह ओवर में 41 रन बनाने थे और उनके पास चार विकेट बचे थे। अधिकारियों ने माना कि मैच जारी रखने के लिए पर्याप्त रोशनी नहीं है। डीएलएस की गणना के अनुसार उस समय नेपाल के लिए 260 रन का लक्ष्य था, लेकिन वे 269 रन बना चुके थे, लिहाज़ा उन्हें नौ रन से विजेता घोषित किया गया।
इस जीत के साथ-साथ नेपाल ने पिछले 12 वनडे मैचों में 11 में जीत दर्ज की है और इस प्रभावशाली प्रदर्शन के चलते उन्हें ज़िम्बाब्वे क्वालिफ़ायर के लिए डायरेक्ट एंट्री मिली। इस साल अक्तबूर-नवंबर में भारत में होने वाले वनडे विश्व कप में क्वालिफ़ाई करने के लिए यह अंतिम बाधा है। क्रिकेट विश्व कप लीग 2 से नेपाल के अलावा ओमान और स्कॉटलैंड ने भी ज़िम्बाब्वे क्वालिफ़ायर में डायरेक्ट एंट्री की।
नेपाल ने दोपहर 1:45 में लक्ष्य का पीछा करना शुरू किया, जिसका मतलब है कि यूएई ज़रूरी ओवर रेट से काफ़ी पीछे थी। उन्हें 44 ओवर डालने के लिए लगभग चार घंटे लगे, जिस वजह से उन्हें अंत में नुक़सान पहुंचा। नेपाल के लिए गुलशन झा और दीपेंद्र सिंह ऐरी ने सातवें विकेट लिए 44 रन जोड़े।
मैच में अहम मोड़ उस समय आया जब आठ ओवर बचे थे और नेपाल डीएलएस के अनुसार पीछे था। गुलशन और दीपेंद्र ने 42वां ओवर डालने आए वसीम मुहम्मद को 20 रन जड़े, जिससे नेपाल डीएलएस के पार स्कोर से आगे निकल गया। वसीम मैच का अपना पहला ओवर ही डालने आए थे और नेपाल के बल्लेबाज़ इस मध्यम गति के गेंदबाज़ पर टूट पड़े। पहली गेंद पर सिंगल आया और दूसरी गेंद पर दो रन उसके बाद अगली चारों गेंद सीमारेखा के बाहर गई।
पोस्ट मैच प्रेज़ेंटेशन में नेपाल के कप्तान रोहित पॉडेल न बताया कि बाहर बैठे खिलाड़ी पार स्कोर को लेकर मैदान में मौजूद बल्लेबाज़ों से लगातार संपर्क में थे। उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि जिस तरह से हमने आख़िरी 12 मैच खेले, हमें विश्वास था कि हम इस लक्ष्य का पीछा कर लेंगे। हम डीएलएस स्कोर देख रहे थे। साथ ही हम मैसेज भी भेज रहे थे कि हमें डीएलएस से आगे रहने की ज़रूरत है। फलस्वरूप लड़कों ने अच्छा खेला।"
यूएई के खिलाड़ी अंपायरों द्वारा खेल रद्द करने के फ़ैसले से हैरान थे और उन्होंने इस फ़ैसले का विरोध किया। वहीं नेपाल के खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ़ ने उनके आसपास जमकर जश्न मनाया। कुथ देर के लिए भ्रम की स्थिति बनी रही और एक समय पर तो भारत के पूर्व ऑलराउंडर और यूएई के मुख्य कोच रॉबिन सिंह, वसीम के साथ आईसीसी मैच रेफ़री मनु नय्यर से बातचीत करने चले गए। रेफ़री ने बताया कि काफ़ी अंधेरा हो चुका है, भले ही आप स्पिन गेंदबाज़ी करवाएं या तेज़ गेंदबाज़ी।
यह बातचीत यूएई के ड्रेसिंग रूम को शांत कराने वाली लग रही थी और आख़िरकार यूएई के खिलाड़ी नेपाल के खिलाड़ियों से हाथ मिलाने के लिए आए। यह पूरा माजरा कीर्तिपुर के त्रिभुवन विश्वविद्याल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट ग्राउंड में खचाखच भरे दर्शकों के सामने हुआ। आईसीसी टीवी के कॉमेंटेटरों के अनुसार, मैच देखने के लिए सुबह 4:30 से ही दर्शक जुटने लगे थे। पूरा स्टेडियम भरा हुआ था और दर्शक छतों पर चढ़े हुए थे। मैच की एक झलक पाने के लिए कई दर्शक तो पेड़ों पर चढ़ गए थे। 6:30 बजे के आसपास तक पोस्ट मैच जश्न के लिए भी सभी मौजूद थे। रोहित ने प्रशंसकों को लेकर कहा, " जिस तरह से वे बड़ी संख्या में आए और हमें समर्थन दिया और प्रेरित किया। मैं उन सबका आभारी हूं।"

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo के न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।