मैच (17)
IPL (3)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CAN T20 (2)
ख़बरें

मैं टेस्ट टीम की घोषणा से पहले ही वनडे कप्तान नहीं था : कोहली

वनडे सीरीज़ के लिए भी उपलब्ध हैं कोहली

विराट कोहली को भारतीय वनडे टीम की कप्तानी से हटाकर रोहित शर्मा को टीम की कमान सौंपी गई है  •  BCCI

विराट कोहली को भारतीय वनडे टीम की कप्तानी से हटाकर रोहित शर्मा को टीम की कमान सौंपी गई है  •  BCCI

विराट कोहली ने कहा है कि टेस्ट दल की घोषणा होने से डेढ़ घंटे पहले उन्हें वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया था। इसकी सूचना उन्हें मुख्य चयनकर्ता से मिली थी। उन्होंने यह भी कहा कि वह वनडे सीरीज़ के लिए उपलब्ध हैं और मीडिया में उनके आराम करने के रिपोर्ट्स झूठे हैं। इसके अलावा उनका इस बारे में टीम प्रबंधन से कोई बात नहीं हुई।
रोहित शर्मा को साउथ अफ़्रीका दौरे से पहले वनडे टीम का कप्तान बनाया गया। इसके अलावा उन्हें टेस्ट टीम की उपकप्तानी की भी ज़िम्मेदारी सौंपी गई।
साउथ अफ़्रीका दौरे से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में टेस्ट कप्तान कोहली ने कहा, "आठ दिसंबर को मुख्य चयनकर्ता ने पहले मुझसे टेस्ट टीम के बारे में विमर्श किया। उसके बाद उन्होंने मुझे जानकारी दी कि मैं अब वनडे कप्तान नहीं हूं और यह पांचों चयनकर्ताओं का फ़ैसला है। मैंने भी 'ओके फ़ाइन' कहके उनका जवाब दिया। बस उस दिन यही हुआ था। इसके पहले मुझसे इस बारे में कोई चर्चा नहीं हुई थी।"
वनडे सीरीज़ के लिए अनुपलब्ध रहने की बात पर कोहली ने कहा कि यह सब झूठ है। वह हमेशा से उपलब्ध थे। उन्होंने कहा, "आप लोगों को मुझसे नहीं उनसे यह सवाल करना चाहिए, जो अपने सोर्स के हवाले से ऐसी ख़बरें लिख रहे थे। मेरी बीसीसीआई से भी इस बारे में कोई बात नहीं हुई थी कि मैं आराम चाहता हूं। जो लोग ऐसी रिपोर्ट लिख रहे थे, वे विश्वसनीय नहीं हैं। मैं साउथ अफ़्रीका दौरे के वनडे मैचों के लिए भी उपलब्ध हूं और हमेशा से ही भारत के लिए खेलना चाहता हूं।"
कोहली ने स्पष्ट किया कि टी20 विश्व कप से पहले टी20 अंतर्राष्ट्रीय की कप्तानी छोड़ने के फ़ैसले से बीसीसीआई में उनसे कोई नाराज़ नहीं था, जबकि इसे भविष्य के लिए अच्छा क़दम समझा गया। हालांकि कोहली का यह बयान बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से उलट है जिसमें गांगुली ने कहा था कि उन्होंने कोहली को अपने निर्णय पर पुनः विचार करने को कहा था।
कोहली ने कहा, "मुझसे पुनर्विचार के लिए नहीं कहा गया, जबकि यह कहा गया कि यह भारतीय क्रिकेट के भविष्य के लिए सही दिशा में उठाया गया एक सही फ़ैसला है। फिर मैंने उनसे कहा कि मैं वनडे और टेस्ट की कप्तानी जारी रखने का इच्छुक हैं। मेरी तरफ़ से सब कुछ स्पष्ट था। मैंने यह भी कह दिया था कि अगर उन्हें लगता है कि मुझे टेस्ट और वन डे की कप्तानी से भी हट जाना चाहिए, तो मैं उसके लिए भी तैयार हूं।"
कोहली ने ज़ोर देकर कहा कि उन्हें भारत के लिए खेलने से कोई भी घटना प्रभावित नहीं कर सकती। उन्होंने कहा, "बाहर जो कुछ भी हुआ, वह आदर्श स्थिति नहीं है, लेकिन हम इस पर नियंत्रण भी नहीं रख सकते। मैं इस दौरे के लिए मानसिक रूप से तैयार हूं और टीम को जिताने के लिए सर्वश्रेष्ठ देना चाहता हूं।"
केपटाउन में होने वाला तीसरा टेस्ट कोहली का 100वां टेस्ट होगा। हालांकि टीम को इस दौरे पर कोई अभ्यास नहीं मिलेगा। कोहली ने कहा, "साउथ अफ़्रीका की उछाल और तेज़ पिचों पर अभ्यास मैच बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। इससे आपको काफ़ी मदद मिलती है। लेकिन हम अभ्यास सत्रों के ज़रिये इस कमी को पूरा करने की कोशिश करेंगे।"
चोट के कारण टेस्ट टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा टेस्ट सीरीज़ में नहीं खेल पाएंगे। उनकी अनुपस्थिति के बारे में कोहली कहते हैं, "निश्चित रूप से हमें रोहित की कमी खलेगी। इंग्लैंड में उन्होंने दिखाया कि वह किसी भी परिस्थिति में टेस्ट के लिए तैयार हैं। हमारे लिए सलामी साझेदारी बहुत महत्वपूर्ण है। हमें उनके अनुभव और कौशल की कमी खलेगी। लेकिन यह केएल राहुल और मयंक अग्रवाल के लिए एक बेहतरीन मौक़ा भी है कि वह टीम को एक बेहतरीन शुरुआत दें।"
रवींद्र जाडेजा भी चोट के कारण इस सीरीज़ का हिस्सा नहीं हैं। इससे टीम का संतुलन भी प्रभावित होगा। विराट ने कहा, "वह हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वह खेल के तीनों विभागों में अपना योगदान देते हैं। हालांकि हमारे पास बेंच पर भी ऐसे खिलाड़ी हैं, जिससे हम टीम का संतुलन बना पाएं। ऐसे में उनकी कमी सीरीज़ के लिए कोई निर्णायक कारक नहीं होगी।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर दया सागर ने किया है।