मैच (14)
आईपीएल (2)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Charlotte Edwards (1)
T20I Tri-Series (1)
ख़बरें

पहले हम टीम डिनर करते थे, अब पूरी टीम एक साथ रील भी बनाती है : शिखर धवन

भारतीय वनडे टीम के कार्यवाहक कप्तान के अनुसार काम को एक साथ करने से काम आसान हो जाता है

वेस्टइंडीज़ दौरे पर शिखर धवन ने वनडे सीरीज़ शुरू होने से पहले वह काम कर दिया है, जो काफ़ी कम लोग कर सकते हैं। उन्होंने राहुल द्रविड़ को एक इंस्टाग्राम रील बनाने के लिए राज़ी कर लिया। इस रील में भारतीय वनडे टीम के अन्य कई खिलाड़ी शामिल थे।
धवन के लिए मैदान के बाहर "चीज़ों को एक साथ करना" और "अनुभव साझा करना" उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि मैदान पर जीतना। वनडे सीरीज़ के शुरू होने से पहले भारतीय टीम के खिलाड़ियों के पास एक दूसरे के साथ समय बिताने के लिए पर्याप्त समय था। इसके इतर बारिश के कारण भारतीय टीम मैदान पर अभ्यास नहीं कर सकी। उन्हें इनडोर स्टेडियम में प्रशिक्षण लेना पड़ा।
धवन ने पहले वनडे की पूर्वसंध्या कहा, "मैं बहुत उत्साहित हूं। जब भी मुझे युवाओं के साथ काम करने का मौक़ा मिलता है, मुझे लगता है कि मैं अपने अनुभवों को उनके साथ साझा कर सकता हूं। हर कोई अपने कौशल पर काम करता है, लेकिन मुझे मानसिक पहलू के बारे में बात करना और उनके खेल पर एक सकारात्मक प्रभाव डालना पसंद है।"
एक पूर्णकालिक कप्तान के तौर पर धवन के लिए यह दूसरी सीरीज़ है। इससे पहले वह पिछले साल श्रीलंका गई भारतीय टीम की कप्तानी कर चुके हैं। राहुल द्रविड़ भी उस सीरीज़ में मौजूद थे। भारत के कार्यवाहक कप्तान ने ड्रेसिंग रूम में जीवंत माहौल को बनाए रखने के महत्व को बताया।
मैं एक बहुत ही सकारात्मक व्यक्ति हूं। मैं यहां इसलिए हूं क्योंकि मैंने अच्छा प्रदर्शन किया है। यही वह सकारात्मकता है जो मैं युवाओं को देना चाहता हूं।
शिखर धवन
उन्होंने कहा, "हमारे सभी खिलाड़ियों के बीच बहुत अच्छा रिश्ता है। हम पिछले साल श्रीलंका गए थे और वहां हमारे टीम की बोंडिंग काफ़ी अच्छी थी। मुझे लगता है कि मेरी ऊर्जा और प्रकृति ऐसी है कि हम सब एक साथ रहते हैं। समूह के भीतर जीवंतता एक अच्छा रिश्ता बनाती है। हम हमेशा हंसी मज़ाक़ करते रहते हैं। पहले हम एक साथ टीम डिनर करते थे। अब हम रील भी बनाते हैं। अगर लोग इससे खुश हैं, तो यह हमें भी खु़शी देती है (हंसते हुए)।"
धवन ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ खेली गई वनडे सीरीज़ में 1, 9 और 31 का स्कोर बनाया था। सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर बढ़िया प्रदर्शन करने पर नाकाम थे। इसके कारण भारतीय टीम को कई बार दिक्कतों से गुज़रना पड़ा था।
हालांकि धवन अपनी फ़ॉर्म या प्रशंसकों और मीडिया में हो रही बातों को लेकर चिंतित नहीं थे। मौजूदा वनडे टीम में ही भारत के पास कई ओपनिंग विकल्प हैं: ऋतुराज गायकवाड़, इशान किशन, संजू सैमसन और शुभमन गिल जैसे बल्लेबाज़ टीम में हैं। टीम में बढ़ते प्रतिस्पर्धा से भी परेशान नहीं हैं।
"मुझे आलोचनाओं से समस्या नहीं है। ये सारी बातें मैं 10 साल से सुनते आ रहा हूं। लोग बात करते रहते हैं और मैं प्रदर्शन करता रहता हूं। अगर मैं उनकी बात सुनता, तो मैं यहां नहीं होता। मेरे पास अनुभव है, इसलिए मैं बहुत चिंतित नहीं हूं। जब तक मैं आत्म-विश्लेषण और सुधार करते रहता हूं, तब तक और कुछ मायने नहीं रखता।"
धवन ने आगे कहा "मैं एक बहुत ही सकारात्मक व्यक्ति हूं। मैं यहां इसलिए हूं क्योंकि मैंने अच्छा प्रदर्शन किया है। यही वह सकारात्मकता है जो मैं युवाओं को देना चाहता हूं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में दबाव ज़रूर है लेकिन यह मेरे व्यक्तित्व या खेलने की शैली को नहीं बदल सकता। मुझे खु़द पर और टीम पर बहुत भरोसा है।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo के सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।