मैच (7)
लेजेंड्स लीग (1)
काउंटी डिवीज़न एक (1)
काउंटी डिवीज़न 2 (1)
सीपीएल (2)
इंडिया ए बनाम न्यूज़ीलैंड ए (1)
यूएई बनाम बांग्लादेश (1)
ख़बरें

नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज़ बन सकते हैं बाबर : जयवर्दना

पूर्व श्रीलंकाई कप्तान बाबर की निरंतरता से काफ़ी प्रभावित हुए हैं

Babar Azam continued his excellent form, Sri Lanka vs Pakistan, 1st Test, Galle, 4th day, July 19, 2022

बाबर आज़म इस समय आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में तीसरे स्थान पर हैं  •  AFP/Getty Images

पूर्व श्रीलंकाई कप्तान महेला जयवर्दना के अनुसार पाकिस्तानी कप्तान बाबर आज़म इंग्लैंड के जो रूट को पछाड़कर विश्व के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज़ बन सकते हैं।
जून महीने से रूट टेस्ट बल्लेबाज़ों की रैंकिंग के शीर्ष स्थान पर विराजमान हैं। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में उनका फ़ॉर्म शानदार रहा है और नए कोच ब्रेंडन मक्कलम के आने के बाद वह बेहतर होते चले गए हैं।
इंग्लैंड के पूर्व कप्तान रूट ने साल 2021 से सर्वाधिक टेस्ट रन बनाए हैं और इसके चलते उन्हें पिछले साल आईसीसी टेस्ट प्लेयर ऑफ़ द ईयर चुना गया था। आईसीसी रिव्यू के हालिया एपिसोड में जयवर्दना से पूछा गया कि कौन रूट को पछाड़कर पहले स्थान पर जा सकता है। इसके उत्तर में उन्होंने कहा, "(कहना) मुश्किल है!"
"मैं कहूंगा कि बाबर आज़म के पास मौक़ा है। वह तीनों प्रारूपों में निरंतर रहे हैं और यह रैंकिंग में साफ़ नज़र आता है। वह एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं और सभी परिस्थितियों में अच्छा कर रहे हैं। यह इस बात पर भी निर्भर करेगा कि कौन कितना क्रिकेट खेलता है।"
बाबर आईसीसी रैंकिंग में तीनों प्रारूपों में टॉप तीन सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों में शामिल हैं। वनडे और टी20 अंतर्राष्ट्रीय में नंबर एक पर विराजमान बाबर टेस्ट रैंकिंग में तीसरे स्थान पर हैं।
जयवर्दना ने कहा, "टी20 अंतर्राष्ट्रीय और वनडे में शीर्ष स्थान पर बने रहना कठिन है क्योंकि कई बढ़िया खिलाड़ियों के बीच आपको निरंतर रहना पड़ता है। मैं कहना चाहूंगा कि बाबर तीनों प्रारूपों में नंबर एक बनेंगे लेकिन कई बढ़िया खिलाड़ी उन्हें चुनौती देंगे।"
बाबर की विशेषताओं पर जयवर्दना ने कहा, "उनकी तकनीक और क्रीज़ पर उनका धैर्य अद्भुत है। टी20 हो, वनडे हो या टेस्ट, वह परेशान नहीं होते।"
उन्होंने आगे कहा, "टेस्ट क्रिकेट में जो (रूट) भी ऐसे ही हैं। उन्हें पता है कि क्या करना चाहिए और वह मैच की स्थिति के अनुसार खेलने के अंदाज़ में बदलाव करते हैं। बाबर के पास भी यह क्षमता है और इस वजह से वह तीनों प्रारूपों में निरंतर रहे हैं।"
यह दोनों बल्लेबाज़ इस साल आमने-सामने होंगे जब दिसंबर में तीन टेस्ट मैचों के लिए इंग्लैंड पाकिस्तान का दौरा करेगा।
साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध आगामी सीरीज़ में रूट के पास पहले स्थान पर अपनी पकड़ को मज़बूत करने का बढ़िया अवसर होगा। वहीं बाबर को अपने अगले टेस्ट के लिए इंग्लैंड के ख़िलाफ़ होने वाली सीरीज़ तक इंतज़ार करना होगा।