मैच (6)
एशिया कप (4)
लेजेंड्स लीग (1)
भारत बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते :शिखर धवन के हाथों में है पंजाब की जीत की कुंजी

राजस्थान और पंजाब के बीच पिछले कुछ समय में कई हाई स्कोरिंग मैच हुए हैं

Shikhar Dhawan batted through the innings to finish on 88 not out, Chennai Super Kings vs Punjab Kings, IPL 2022, Wankhede Stadium, Mumbai, April 25, 2022

शिखर जब भी 50 से ज़्यादा का स्कोर बनाते हैं तो उनके टीम की जीत लगभग पक्की हो जाती है।  •  PTI

शनिवार को पंजाब किंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मैच खेला जाएगा। इन दोनों टीमों के बीच हुए हालिया कुछ मैच काफ़ी रोमांचक रहे हैं। आइए देखते हैं कि इस मैच के संदर्भ में आंकड़ों की क्या राय है।
धवन लगातार शिखर पर चढ़ रहे हैं लेकिन…
इस आईपीएल सीज़न में शिखर धवन ने 10 मैचों में 46.1 के औसत से 369 रन बनाए हैं। शिखर जब भी 50 से ज़्यादा का स्कोर बनाते हैं तो उनके टीम की जीत लगभग पक्की हो जाती है। आईपीएल 2020 के बाद से शिखर ने 12 बार 50 से ज़्यादा का स्कोर बनाया है और इस दौरान 10 बार उनकी टीम को जीत मिली है। वानखेड़े पर धवन ने 2019 के बाद छह मैचों में 333 रन बनाया है। इस दौरान उनका औसत 66 का और स्ट्राइक रेट 149 का रहा है।
ट्रेंट बोल्ट और प्रसिद्ध कृष्णा के ख़िलाफ़ शिखर 52 के औसत और 139 की स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं। हालांकि राजस्थान के स्पिनरों के ख़िलाफ़ धवन का रिकॉर्ड कुछ ख़ास नहीं है। आर अश्विन और युज़वेंद्र चहल ने उन्हें अब तक तीन-तीन बार आउट किया है। साथ ही इन दोनों गेंदबाज़ के ख़िलाफ़ धवन का औसत क्रमश: 28 और 24 का है।
अश्विन और चहल की चालाकी से बचना होगा
शिखर का रिकॉर्ड तो इस जोड़ी के सामने ख़राब है ही लेकिन मयंक को भी इन दोनों गेंदबाज़ो ने अपनी फ‍़िरकी का शिकार कई बार बनाया है। अश्विन ने मयंक को नौ आठ पारियों में चार बार आउट किया है। वहीं चहल ने उन्हें नौ पारियों में पांच बार आउट किया है। इन दोनों गेंदबाज़ों ने अब तक इस आईपीएल में 28 विकेट लिए हैं और मात्र 7.61 की इकॉनमी से रन ख़र्च किए हैं।
रबाडा दाहिने हाथ के बल्लेबाज़ों को परेशान कर रहे हैं
2019 के बाद से कगिसो रबाडा ने आईपीएल में सबसे ज़्यादा विकेट(87) लिए हैं। इस सीज़न में भी रबाडा ने 17 विकेट लिए हैं, जो किसी भी तेज़ गेंदबाज़ के द्वारा सबसे ज़्यादा विकेट है। इस दौरान सबसे अहम बात यह है कि रबाडा के 17 में 14 विकेट दाहिने हाथ के बल्लेबाज़ों के हैं।
जॉनी और मयंक को फ़ॉर्म में आना होगा
पंजाब के ऊपरी क्रम के बल्लेबाज़ों में मयंक और जॉनी बेयरस्टो का फ़ॉर्म चिंता विषय बना हुआ है। बेयरस्टो ने सात मैचों में 11.4 के औसत से 80 रन बनाए हैं। उन्होंने इस आईपीएल में 76 गेंदों का सामना किया है और एक भी सिक्सर नहीं लगाया है। वहीं मयंक ने इस आईपीएल में आठ मैचों में सिर्फ़ एक पचासा लगाते हुए 160 रन बनाए हैं।
समस्या है तो समाधान भी होगा: आंकड़े कहते हैं कि बेयरस्टो ने अपने आईपीएल करियर में 27 पारियों में 972 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 40.5 और स्ट्राइक रेट 142 का रहा है। हालांकि पिछले मैच में उन्होंने ओपन किया था लेकिन सफल नहीं हो पाए थे।
पंजाब और राजस्थान का मैच हो तो मामला 'तेवतिया' (रोमांचक) हो जाता है
2019 की शुरुआत के बाद से इन दोनों टीमों ने जब भी एक-दूसरे का सामना किया है, तब-तब रनों के अंबार लग जाते हैं और मैच ऐसा होता है जहां से 'रोमांचक' शब्द भी एक बार के लिए मात खा जाता है। इन सभी मैचों में दोनों टीमों ने 179 से कम का स्कोर कभी नहीं बनाया।
2020 में शारजाह में, पंजाब ने 223 रन बनाए और राजस्थान ने इसका पीछा करते हुए इतिहास रच दिया, जो कि आईपीएल के इतिहास में सबसे अधिक सफल रन चेज़ है। आईपीएल 2021 में दोनों टीमों ने लगभग 220 से अधिक का स्कोर बनाया। पंजाब ने उस मैच में राजस्थान के ख़िलाफ़ 222 रनों का लक्ष्य रखा था। इस मैच में रोमांच अपने चरम पर था। हालांकि पंजाब को इस मैच में चार रनों से जीत मिली।
वहीं 2021 में संयुक्त अरब अमीरात में खेल में राजस्थान ने पंजाब को 185 रनों का लक्ष्य दिया था। उस मैच में पंजाब आख़िरी ओवर में चार रन नहीं बना पाई। कार्तिक त्यागी ने उस मैच के आख़िरी ओवर में सिर्फ़ एक रन दिया था और साथ ही पूरन और हुड्डा का विकेट भी लिया था।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं