मैच (17)
IPL (2)
ACC Premier Cup (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
ख़बरें

पीसीबी : जय शाह का बयान 2023 विश्व कप के लिए पाकिस्तान की भारत यात्रा को कर सकता है प्रभावित

पाकिस्तान बोर्ड ने इस संवेदनशील मामले पर चर्चा के लिए एशिया क्रिकेट परिषद से आपात बैठक बुलाने का अनुरोध किया

पीसीबी: इस तरह के बयानों के समग्र प्रभाव में एशियाई और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट समुदायों को विभाजित करने की क्षमता है  •  AFP/Getty Images

पीसीबी: इस तरह के बयानों के समग्र प्रभाव में एशियाई और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट समुदायों को विभाजित करने की क्षमता है  •  AFP/Getty Images

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) सचिव जय शाह के '2023 एशिया कप को किसी अन्य स्थान पर ले जाने' वाले बयान का कड़ा विरोध किया है। भारत ने पाकिस्तान में होने वाले अगले एशिया कप के लिए पाकिस्तान जाने से मना कर दिया था। पीसीबी ने कहा, "यह बयान एकतरफ़ा बनवाया गया और यह विश्व कप 2023 के लिए पाकिस्तान की भारत यात्रा और 2024-2031 चक्र में भारत में भविष्य के आईसीसी टूर्नामेंटों को प्रभावित कर सकता है।"
यह कहते हुए कि पीसीबी ने शाह की टिप्पणियों को "आश्चर्य और निराशा" के साथ नोट किया था, उन्होंने कहा, "यह टिप्पणी एशियाई क्रिकेट परिषद के बोर्ड या पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (मेज़बान) के साथ किसी भी चर्चा या परामर्श के बिना और उनके दीर्घकालिक परिणामों और प्रभावों के बारे में किसी भी विचार के बिना की गई थी।"
बयान में आगे कहा गया, "जय शाह ने एसीसी मीटिंग की अध्यक्षता की थी, जिसमें पाकिस्तान को एसीसी बोर्ड के सदस्यों के भारी समर्थन से एशिया कप की मेज़बानी मिली थी। इसके बाद श्री शाह का एशिया कप को स्थानांतरित करने का बयान स्पष्ट रूप से एकतरफ़ा बनवाया गया है। यह उस विचारधारा और भावना के विपरीत है जिसके लिए सितंबर 1983 में एशियाई क्रिकेट परिषद का गठन किया गया था।"
पीसीबी ने आगे कहा, और 2023 विश्व कप के लिए पाकिस्तान की भारत यात्रा और 2024-2031 चक्र में भारत में भविष्य के आईसीसी इवेंट्स को प्रभावित कर सकता है।"
बोर्ड ने आगे कहा, "पीसीबी को अभी तक एसीसी अध्यक्ष के बयान पर एसीसी से कोई आधिकारिक सूचना या स्पष्टीकरण प्राप्त नहीं हुआ है। ऐसे में पीसीबी ने अब एशियाई क्रिकेट परिषद से इस महत्वपूर्ण और संवेदनशील मामले पर चर्चा के लिए व्यावहारिक रूप से जल्द से जल्द बोर्ड की आपात बैठक बुलाने का अनुरोध किया है।"

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।