मैच (16)
NZ v AUS (1)
AFG v IRE (1)
WPL (2)
PSL 2024 (1)
Nepal Tri-Nation (2)
Durham in ZIM (1)
QAT v HKG (1)
Sheffield Shield (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
CWC Play-off (3)
ख़बरें

रेटिंग्‍स : कोहली, हार्दिक और अर्शदीप ने जुटाए 10 में से 10 अंक

शमी, भुवनेश्‍वर और सूर्यकुमार को भी मिले अहम अंक

विराट कोहली ने अपने टी20 करियर की सबसे बेहतरीन पारी खेली  •  Getty Images

विराट कोहली ने अपने टी20 करियर की सबसे बेहतरीन पारी खेली  •  Getty Images

टी20 विश्‍व कप की भारत इस तरह रोमांचक अंदाज़ में शुरुआत करेगा, यह किसी ने नहीं सोचा था। क्‍या ख़ूब खेले विराट कोहली, एकदम पुराने अंदाज़ में। तभी तो उन्‍होंने चार विकेट से मिली इस रोमांचक जीत के बाद इसे अपने टी20 करियर की सबसे बेहतरीन पारी में आंका। तो चलिए देखते हैं आज भारतीय टीम के किस खिलाड़ी को कितने रेटिंग्‍स अंक मिले हैं।

क्या सही क्या ग़लत

भारतीय टीम के लिए यह यादगार मैचों में से एक रहा है, जहां पूरा रोमांच था। अगर सही की बात की जाए तो जसप्रीत बुमराह के नहीं रहते भारतीय टीम की गेंदबाज़ी को कमज़ोर आंका जा रहा था, लेकिन पहले ही मैच में भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों ने दिखाया कि वे क्‍या कर सकते हैं। उन्‍होंने पाकिस्‍तान के शीर्ष क्रम को उखाड़ कर रख दिया। इसके बाद विराट कोहली की फ़ॉर्म भी भारत के लिए अच्‍छे संकेत के तौर पर देखी जा सकती है। वहीं हार्दिक पंड्या भी एक अहम किरदार टीम के लिए निभा रहे हैं।
ख़राब की बात कहें तो जैसे ही तेज़ गेंदबाज़ हटाकर स्पिनर लगाए गए तो भारत ने मैच से अपनी पकड़ खोनी शुरू कर दी थी। वह तो अच्‍छा हुआ कि कप्‍तान रोहित शर्मा इसको अच्‍छी तरह से समझ गए थे और वह दोबारा तेज़ गेंदबाज़ी विकल्‍प के पास गए। दोनों ओपनर नहीं चले और इसके बाद सूर्यकुमार भी जल्‍द आउट हो गए जिससे भारत ने ख़ुद को मुश्किल में डाल लिया था।

रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)

रोहित शर्मा, 6 : रोहित शर्मा बल्‍ले से तो नहीं चल पाए लेकिन उन्‍होंने कप्‍तानी कमाल की करी। उन्‍होंने अर्शदीप सिंह के दो ओवर डेथ ओवरों के लिए बचा लिए थे, वहीं जब मध्‍य ओवरों में स्पिनरों को लगाया गया तो उन पर आक्रमण शुरू हुआ। रोहित तुरंत समझ गए थे और फ‍िर वह वापस तेज़ गेंदबाज़ों को लेकर आए और हार्दिक पंड्या ने मैच बदल दिया।
केएल राहुल, 3 : केएल राहुल के लिए आज का दिन निराश करने वाला रहा। वह क्षेत्ररक्षण में कुछ ख़ास नहीं कर पाए और बल्‍लेबाज़ी में भी विफल रहे। उनकी तकनीक भी उन्‍हें दिक्‍कत देने वाली है, क्‍योंकि जब तक गेंद आई वह बल्‍ला नीचे ही नहीं ला पाए थे और इन साइड ऐज में बोल्‍ड हो गए।
विराट कोहली, 10 : यह दिन और मैच तो विराट कोहली के लिए याद रखा जाएगा। वह एक छोर पर खड़े होकर भारतीय बल्‍लेबाज़ों को पवेलियन जाते देख रहे थे। 10 ओवर तक उन्‍होंने हार्दिक के साथ मिलकर कोई और विकेट नहीं गिरने दिया और प्‍लान के मुताबिक़ इसके बाद स्पिनरों को टारगेट किया गया और अंत में आते-आते कोहली ने अपना गियर पूरी तरह से बदल दिया था और भारत को जीत दिलाई।
सूर्यकुमार यादव, 7 : सूर्यकुमार ने पारी जरूर छोटी सी खेली लेकिन लगातार गिरते विकेटों के बाद उन्‍होंने बिना दबाव के शॉट लगाने शुरू किए। पहली ही गेंद वह स्‍ट्रेट ड्राइव हो या फ‍िर वह ज़बरदस्‍त पुल सूर्यकुमार शानदार लय में दिखे। इससे पहले क्षेत्ररक्षण में भी उन्‍होंने दो कैच लपके।
अक्षर पटेल, 4 : सूर्यकुमार के आउट होने के बाद स्पिनरों को आना था और भारतीय टीम ने अक्षर पटेल को फ़्लोटर बनाकर भेजा। इससे पहले कि वह अपना काम करते वह रन आउट हो गए। वहीं गेंदबाज़ी में भी उन्‍होंने केवल एक ओवर किया और 21 रन लुटा दिए।
हार्दिक पंड्या 10 : हार्दिक पंड्या इस टीम का अहम हिस्‍सा बन गए हैं। चाहे वह गेंदबाज़ी हो या बल्‍लेबाज़ी वह कमाल करने से नहीं चूकते। पहले उन्‍होंने गेंदबाज़ी में हार्ड लेंथ पर गेंदबाज़ी की और पाकिस्‍तान बल्‍लेबाज़ों की शॉर्ट लेंथ गेंदों की कमजोरी को उजागर किया और तीन विकेट लिए। इसके बाद जब वह बल्‍लेबाज़ी करने आए तो उन्‍होंने संयम बनाए रखा और कोहली का साथ दिया। उनकी 37 गेंद में 40 रन की पारी उनकी अहम पारियों में से एक है।
दिनेश कार्तिक, 5 : दिनेश कार्तिक बल्‍ले से तो कुछ नहीं कर पाए लेकिन विकेट के पीछे उन्‍होंने दो ज़बरदस्‍त कैच लपके। इसके अलावा उन्‍होंने बायीं ओर बेहतरीन डाइव लगाते हुए चार रन भी टीम के लिए बचाए।
आर अश्विन, 6 : अश्विन ने भले ही एक गेंद खेली हो लेकिन वह एक चौका 130 करोड़ भारतीयों के चेहरे पर मुस्‍कान ले आए था। एमसीजी ही नहीं पूरा भारत जश्‍न में डूब गया था। इसी वजह से उन्‍हें छह अंक तो दिए जा सकते हैं। वहीं गेंदबाज़ी में उन्‍होंने तीन ओवर में 23 रन दिए, वैसे भी इस पिच पर स्पिनरों के लिए कुछ ख़ास नहीं था। इस बीच वह शान मसूद का भी एक कैच ठीक से नहीं लपक पाए।
भुवनेश्वर कुमार, 9 : भुवनेश्‍वर इस मैच में नौ अंक मिलने के हक़दार हैं। पहले ओवर में केवल एक वाइड का रन उन्‍होंने दिया और अंदर-बाहर गेंद स्विंग कराकर मोहम्‍मद रिज़वान को फंसाए रखा। इसका दबाव बल्‍लेबाज़ों को मिला और फ़ायदा दूसरे छोर पर अर्शदीप ले गए। उन्‍हें विकेट जरूर एक मिला लेकिन उन्‍होंने अपनी स्विंग की क़ाबि‍लियत से पाकिस्‍तान के शीर्ष क्रम की बोलती बंद कर दी थी।
मोहम्‍मद शमी, 9 : मोहम्‍मद शमी ने भी बेहतरीन गेंदबाज़ी की और एक विकेट लिया, लेकिन यह एक विकेट बेहद क़ीमती था क्‍योंकि यह इफ़्तिख़ार अहमद का था, जो मैच को भारत की पकड़ से दूर ले जा रहे थे। अगर वह कुछ देर और टिक जाते तो पाकिस्‍तान 175 से ज्‍़यादा स्‍कोर तक पहुंच जाता।
अर्शदीप सिंह, 10 : एशिया कप में पाकिस्‍तान के बल्‍लेबाज़ आसिफ़ अली का कैच गंवाने के बाद अर्शदीप की बेहद आलोचना हुई थी, लेकिन यही अर्शदीप जब अपना पहला टी20 विश्‍व कप मैच खेलने पाकिस्‍तान के ख़‍िलाफ़ उतरे तो उन्‍होंने साबित किया कि वह बड़े मंच पर बिना दबाव में आए क्‍या कर सकते हैं। वह बल्‍लेबाज़ों को परेशान तो स्विंग बोलिंग से कर रहे थे लेकिन विकेट वह चौंकाती हुई बाउंसरों पर निकाल रहे थे। बाबर आज़म को उन्‍होंने स्विंग में फंसाया, तो मोहम्‍मद रिज़वान और आस‍िफ़ अली के विकेट उन्‍हें बाउंसर पर मिले।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26