मैच (6)
त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
भारत बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
एशिया कप (2)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (महिला) (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
ख़बरें

अर्शदीप ने आवेश को पछाड़ दिया है: मांजरेकर

भारत के पूर्व क्रिकेटर का मानना है कि मौजूदा भारतीय टीम एक अच्छी स्थिति में है

Arshdeep Singh once again showed his death bowling prowess, West Indies vs India, 2nd T20I, St Kitts, August 1, 2022

हालिया समाप्त हुए टी20 सीरीज़ में अर्शदीप ने अपनी गेंदबाज़ी से सबको काफ़ी प्रभावित किया है  •  Associated Press

पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर का मानना है कि हाल ही में वेस्‍टइंडीज़ के ख़‍िलाफ़ टी20 सीरीज़ में तेज़ गेंदबाज़ अर्शदीप सिंह ने बेहतर प्रदर्शन करके भारत के ही अन्‍य तेज़ गेंदबाज़ आवेश ख़ान को पछाड़ दिया है। भारत इस सीरीज़ को 4-1 से जीतने में सफल रहा।
भारत के इस प्रदर्शन के बारे में स्पोर्ट्स 18 के दैनिक खेल समाचार शो 'स्पोर्ट्स ओवर द टॉप' पर बात करते हुए मांजरेकर ने अर्शदीप सिंह और आवेश ख़ान की गेंदबाज़ी के बारे में भी समीक्षा की। आवेश ने इस टी20 सीरीज़ का पहला मैच खेलने का मौक़ा नहीं मिला था। दूसरे मैच में उन्हें मौक़ा तो मिला लेकिन वह महंगे साबित हुए। इस सीरीज़ में आवेश के लिए सबसे बढ़िया चौथा मैच रहा जहां उन्होंने चार ओवर में 17 रन देकर दो विकेट लिए थे। इस मैच को छोड़ दें तो हर मैच में उनकी इकॉनमी 10 या उससे अधिक रही।
अर्शदीप ने इस सीरीज़ में मिले मौक़े को दोनों हाथों से स्वीकार किया और अपने प्रदर्शन से सबसे प्रभावित किया। इस दौरान उन्होंने पांच मैचों में कुल सात विकेट लिए और खेल के हर चरण में अपनी उपयोगिता साबित की।
मांजरेकर ने आने वाले टी20 विश्व कप टीम में जगह पाने के लिए अर्शदीप और आवेश के बीच हो रही प्रतियोगिता के बारे में कहा, "टी20 विश्व कप में जगह बनाने के लिए युवा गेंदबाज़ों के बीच में वास्तव में एक अच्छी दौड़ चल रही है। यहीं पर मुझे लगता है कि अर्शदीप ने आवेश को इस रेस में कहीं ना कहीं पछाड़ दिया है। यह ऐसा कुछ है जो बहुत दिलचस्प है। हालांकि अर्शदीप ने निश्चित रूप से आवेश पर थोड़ी बढ़त ले ली है क्योंकि वह वही कर रहा है जो आवेश की भूमिका है। वह नई गेंद के साथ गेंदबाज़ी कर रहे हैं, फिर बीच के और अंत के ओवरों में भी गेंदबाज़ी कर रहे हैं।"
उन्‍होंने वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ भारत के प्रदर्शन की समीक्षा भी की और कहा "भारतीय टीम फ़िलहाल जिस तरीक़े की फ़ॉर्म और परिस्थिति में है, वह काफ़ी ख़ुश होगी। उन्होंने कहा,"भारत टीम ने जिस तरह से पांच टी20 मैचों की सीरीज़ जीत हासिल की है, वह गर्व की बात है। इस सीरीज़ के दौरान भारतीय टीम ने अपने बल्लेबाज़ी क्रम में कई बदलाव किए। इसके अलावा भी उन्होंने विभिन्न टी संयोजनों का भी प्रयोग किया।"
भारतीय टीम ने पिछली कुछ सीरीज़ में कई प्रयोग किए हैं। सलामी बल्लेबाज़ी में सूर्यकुमार याद, ऋषभ पंत सहित कई बल्लबाज़ों को मौक़ा दिया गया। गेंदबाज़ी में भी युवा गेंदबाज़ों को जमकर मौक़ा दिया जा रहा है, ताकि वह अपनी उपयोगित साबित कर सकें। साथ ही हर सीरीज़ में भारत अलग-अलग टीम संयोजनों के साथ मैदान पर उतर रहा है।
मांजरेकर ने इस संदर्भ में कहा, "भारत ने पहले तीन टी20 मैचों में एक भी कलाई का स्पिनर को टीम ने जगह नहीं दी और फिर उन्होंने अंतिम दो में मैचों में दो कलाई के स्पिनरों को मौक़ा दिया। आख़िरी मैच में भारत ने सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर सूर्यकुमार यादव और किशन को मौक़ा दिया। इस सीरीज़ में भारतीय टीम ने कई प्रयोग किए और सभी प्रयोग कारगर थे।"

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं