मैच (9)
द हंड्रेड (पुरुष) (2)
CWC League 2 (1)
द हंड्रेड (महिला) (2)
महाराजा टी20 (2)
ओमान बनाम बहरीन (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
ख़बरें

रोहित की अनुपस्थिति में जसप्रीत बुमराह होंगे भारत के टेस्ट कप्तान

कपिल देव के बाद भारत का नेतृत्व करने वाले पहले तेज़ गेंदबाज़ भी बनेंगे

Jasprit Bumrah trains in Pretoria, Pretoria, December 19, 2021

कपिल देव के बाद बुमराह भारत की कप्तानी करने वाले पहले तेज़ गेंदबाज़ होंगे  •  Getty Images

रोहित शर्मा के एक और कोरोना पॉज़िटिव टेस्ट के बाद अब शुक्रवार से इंग्लैंड के ख़िलाफ़ शुरू होने वाले टेस्ट में जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम का नेतृत्व करेंगे।
28 वर्षीय बुमराह के लिए यह कप्तानी करने का पहला मौक़ा होगा। इससे पहले उन्होंने किसी भी स्तर पर कप्तानी नहीं की हैं। इसके अलावा वह पिछली सदी में कपिल देव के बाद भारत का नेतृत्व करने वाले पहले तेज़ गेंदबाज़ बनेंगे।
बीसीसीआई ने इस बात की भी पुष्टि की कि ऋषभ पंत टीम के उपकप्तान होंगे।
बुमराह पटौदी ट्रॉफ़ी में 2-1 से आगे चल रही भारतीय टीम के दूसरे कप्तान होंगे। पहले चार टेस्ट मैचों में विराट कोहली ने टीम की कमान संभाली थी। रोहित के साथ-साथ बुमराह पिछले साल भारतीय टीम के उम्दा प्रदर्शन की मज़बूत कड़ी थे। भारत की ओर से सीरीज़ में सर्वाधिक विकेट लेने वाले बुमराह एक साल बाद और अनुभवी हैं और श्रीलंका के ख़िलाफ़ भारत की पिछली टेस्ट सीरीज़ में उपकप्तान भी रह चुके हैं। उस समय बुमराह ने कहा था कि वह प्रेरित हैं और भविष्य में भारत का नेतृत्व करने की ज़िम्मेदारी से हिचकिचाएंगे नहीं।
बुधवार को भारत के प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ ने बताया था कि टीम रोहित पर अंतिम फ़ैसला लेने से पहले ज़्यादा से ज़्यादा इंतज़ार करना चाहती है। पिछले हफ़्ते लेस्टरशायर के विरुद्ध अभ्यास मैच के दूसरे दिन कोरोना संक्रमित होने के बाद से रोहित के खेलने पर सवालिया निशान उठ खड़े हुए थे। पांच दिनों तक आइसोलेशन में रहने के बाद भी बुधवार और गुरुवार को हुए कोरोना टेस्ट में उनकी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई।
पिछले साल शुरू हुई पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ को बीच में स्थगित कर दिया गया था जब भारतीय ख़ेमा कोरोना की चपेट में आ गया था।
यह साफ़ है कि रोहित की अनुपस्थिति भारत को कई मायनों में खलेगी। उनके नेतृत्व के अलावा भारत अपने सबसे अच्छे बल्लेबाज़ के बिना इस मैच में उतरेगा। सीरीज़ के पहले चार मैचों में रोहित उस समय इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट के बाद सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज़ थे। ओवल टेस्ट में प्लेयर ऑफ़ द मैच रहे रोहित ने 52 से अधिक की औसत से 368 रन बनाए थे। इस दौरान उन्होंने दो अर्धशतक और एक शतक भी जड़ा। केएल राहुल के साथ मिलकर उन्होंने भारत को अच्छी शुरुआत दिलाई। तेज़ गेंदबाज़ी के लिए अनुकूल परिस्थितियों में ख़ुद को ढालने के अलावा रोहित हमेशा बड़े रन बनाने के इरादे से मैदान पर उतर रहे थे।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।