मैच (6)
LPL (2)
TNPL (1)
MLC (2)
ZIM v IND (1)
ख़बरें

पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव टेस्ट सीरीज़ के लिए जाएंगे इंग्लैंड

शुभमन गिल, आवेश ख़ान और वॉशिंगटन सुंदर के चोटिल होने के बाद इन दो बल्लेबाज़ों को इंग्लैंड बुलाया गया है

Prithvi Shaw had a knock on the second morning, Australia v India, 2nd Test, Perth, 2nd day, December 15, 2018

पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ पिंक बॉल टेस्ट मैच के बाद शॉ को टीम से बाहर कर दिया गया था  •  AFP

पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ पांच मैचों की सीरीज़ के लिए भारतीय टेस्ट टीम में शामिल किया गया है। इंग्लैंड के दौरे पर भारत के तीन खिलाड़ी - शुभमन गिल, आवेश ख़ान और वॉशिंगटन सुंदर चोटिल हुए हैं। इस चोटिल तिकड़ी के विकल्प के रूप में चयनकर्ताओं ने इस समय श्रीलंका में टी20 अंतर्राष्ट्रीय सीरीज़ खेल रहे शॉ और यादव को इंग्लैंड भेजने का फ़ैसला किया है। टीम प्रबंधन द्वारा रिप्लेसमेंट खिलाड़ियों की मांग किए जाने के बाद यह निर्णय लिया गया है।
हालांकि यह पता नहीं चल पाया है कि शॉ और यादव कब इंग्लैंड में भारतीय टीम के साथ जुड़ेंगे। साथ ही इस बात की भी पुष्टि नहीं हो पाई है कि क्या यह दोनों बल्लेबाज़ 29 जुलाई को ख़त्म हो रही टी20 सीरीज़ के अंतिम दो मुक़ाबलों के लिए उपलब्ध रहेंगे या नहीं। पहले मैच में ये दोनों खिलाड़ी खेले थे।
जबकि गिल और सुंदर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फ़ाइनल और इंग्लैंड सीरीज़ के लिए मई में घोषित 20 सदस्यीय भारतीय टीम का हिस्सा थे, ख़ान को स्टैंडबाय खिलाड़ी के तौर पर इंग्लैंड ले जाया गया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इन तीन खिलाड़ियों के चोटिल होने का ब्यौरा देते हुए इन रिप्लेसमेंट की घोषणा की। जून में डब्ल्यूटीसी फ़ाइनल के बाद अपने बाएं पैर में पिंडली की चोट से परेशान होने के बाद गिल इस सप्ताह भारत लौटे हैं। इस हफ़्ते डरहम में काउंटी सिलेक्ट टीम के ख़िलाफ़ खेले गए तीन दिवसीय अभ्यास मैच के पहले दिन आवेश को अपने बाएं अंगूठे में फ्रैक्चर हुआ। आवेश के साथ काउंटी टीम के लिए खेल रहे सुंदर को भी दाएं हाथ के उंगलियों में चोट लगी है और उन्होंने इंजेक्शन लिया है। ये दोनों खिलाड़ी भी इंग्लैंड के ख़िलाफ़ सीरीज़ तक पूरी तरह से फ़िट नहीं हो पाएंगे।
चयनकर्ताओं ने पृथ्वी शॉ और सूर्यकुमार यादव को मुख्य टीम में शामिल किया है। साथ ही रिज़र्व खिलाड़ियों में से सलामी बल्लेबाज़ अभिमन्यु ईश्वरन को भी मुख्य टीम में जगह दी गई है। इंग्लैंड में भारतीय टेस्ट टीम के साथ सलामी बल्लेबाज़ अभिमन्यु ईश्वरन, तेज़ गेंदबाज़ प्रसिद्ध कृष्णा और अरज़ान नगवासवाला रिज़र्व खिलाड़ी के रूप में मौजूद थे। शॉ, मयंक अग्रवाल और अभिमन्यु ईश्वरन के साथ बैक-अप ओपनर होंगे। वहीं सूर्यकुमार यादव का चयन संभवत: सीनियर बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे की फ़िटनेस पर टीम प्रबंधन की चिंता का संकेत देता है। बाएं पैर की हैमस्ट्रिंग में सूजन के कारण भारतीय उपकप्तान अभ्यास मैच नहीं खेल पाए थे। परंतु बीसीसीआई ने कहा है कि वह 4 अगस्त से ट्रेंट ब्रिज में शुरू होने वाले पहले मैच के लिए समय पर ठीक हो जाएंगे।
इस साल की शुरुआत में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ घरेलू सीरीज़ के लिए टेस्ट टीम से बाहर किए जाने के बाद इंग्लैंड में शॉ की भारतीय टेस्ट टीम में वापसी होगी। शॉ ने आख़िरी बार ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ एडिलेड में पिंक बॉल टेस्ट मैच खेला था जहां भारत को करारी हार का सामना करना पड़ा था। उस मैच की दोनों पारियों में शॉ ने क्रमशः 0 और 4 रन बनाए थे। सुनिल गावस्कर और रिकी पोंटिंग जैसे महान बल्लेबाज़ों ने शॉ की तकनीकी खामियों पर इशारा किया था। मार्च में इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान शॉ ने बताया कि बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफ़ी के अंतिम तीन मैचों के लिए टीम से बाहर किए जाने के बाद उनका मनोबल टूट गया था।
यह समझा जा रहा है कि टीम प्रबंधन और चयनकर्ता चाहते थे कि शॉ स्विंग गेंदों के ख़िलाफ़ अपनी तकनीक पर काम करना जारी रखें। अपनी तकनीक में उभर कर सामने आई इस खामी के कारण शॉ को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ घर पर खेली गई टेस्ट सीरीज़ के लिए टीम में नहीं चुना गया था। शॉ आईपीएल 2021 के पहले भाग में दिल्ली कैपिटल्स को ताबड़तोड़ शुरुआत दिलाते हुए लीग के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों में से एक रहे थे। आईपीएल से पहले विजय हज़ारे ट्रॉफ़ी की आठ पारियों में भी 827 रन बनाकर शॉ ने शानदार प्रदर्शन किया था। मुंबई को ख़िताब जिताने में शॉ ने अहम भूमिका निभाई थी।
ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद से लिस्ट-ए क्रिकेट की 20 पारियों में 72.94 की औसत और 142.85 के स्ट्राइक रेट के साथ शॉ ने 1240 रन बनाए है। इसमें चार शतक और चार अर्धशतक शामिल है। रविवार को श्रीलंका के ख़िलाफ़ अपना टी20 अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू करते हुए शॉ पहली गेंद पर शून्य रन बनाकर आउट हो गए।
आईपीएल 2020 के बाद अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत करने वाले सूर्यकुमार यादव टी20 विश्व कप के लिए भारतीय टीम में अपनी मज़बूत दावेदारी पेश कर रहे हैं। 30 वर्षीय यादव ने मार्च में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अहमदाबाद में अपना पहला टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था। हाल ही में श्रीलंकाई दौरे पर उन्होंने वनडे क्रिकेट में भी डेब्यू किया। आईपीएल 2020 के बाद से मध्य क्रम के बल्लेबाज़ यादव ने 38 पारियों में एक शतक और दस अर्धशतकों के साथ 1323 रन बनाए है। इस दौरान उनकी औसत 38.91 की रही है और वह 146.51 के शानदार स्ट्राइक रेट के साथ बल्लेबाज़ी कर रहे हैं। वनडे श्रृंखला में यादव ने पहली बार "प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़" का ख़िताब अपने नाम किया। अपने लाजवाब फ़ॉर्म को बरकरार रखते हुए उन्होंने रविवार को पहले टी20 मुक़ाबले में अर्धशतक लगाया।
क्या चयनकर्ताओं ने सफ़ेद गेंद की क्रिकेट में अपने फ़ॉर्म के आधार पर यादव को टेस्ट टीम में जगह दी है? शायद हां। लेकिन 2019-20 की रणजी ट्रॉफ़ी में मुंबई की ओर से खेलते हुए यादव ने 56.44 की औसत से 508 रन बनाए थे। इन दस पारियों में उन्होंने दो शतक और एक अर्धशतक भी लगाए थे। यादव अब तक 71 रणजी ट्रॉफ़ी मैच खेल चुके हैं। 2011-12 में केवल एक बार यादव ने इंडिया ए का प्रतिनिधित्व किया था। वह एकमात्र साल था जब यादव ने 50 से अधिक की औसत (68.54) से रन बनाए थे।
इंग्लैंड दौरे पर हनुमा विहारी और के एल राहुल की जोड़ी को मध्य क्रम में प्राथमिकता दी जाएगी। इस वजह से यादव को केवल नेट में बल्लेबाज़ी करने का मौका मिल सकता है। समझा जा रहा है कि टीम प्रबंधन ऑस्ट्रेलिया दौरे से ही राहुल को मध्य क्रम के बल्लेबाज़ के तौर पर देख रहा है। अभ्यास मैच में विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और ऋषभ पंत की अनुपस्थिति में नंबर पांच पर बल्लेबाज़ी करते हुए राहुल ने पहली पारी में शतक भी बनाया था।
21 सदस्यीय भारतीय टीम कुछ इस प्रकार है- विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, अभिमन्यु ईश्वरन, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, केएल राहुल, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रवींद्र जाडेजा, आर अश्विन, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, उमेश यादव, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर
रिजर्व खिलाड़ी: प्रसिद्ध कृष्णा और अरज़ान नगवासवाला
(आंकड़े संपथ बंडारुपल्ली द्वारा)

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo के न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब-एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी (@jiwani_afzal) ने किया है।