मैच (6)
न्यूज़ीलैंड, इंग्लैंड में (1)
बांग्लादेश, वेस्टइंडीज़ में (1)
भारतीय महिला टीम, श्रीलंका में (1)
भारत, इंग्लैंड में (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (1)
IRE v IND (1)
फ़ीचर्स

मैच के तनावपूर्ण क्षणों में अधिक बेहतर दिखते हैं अर्शदीप : हरभजन सिंह

आईपीएल से जुड़े हर पूर्व खिलाड़ी के चहेते बन रहे हैं पंजाब के युवा तेज़ गेंदबाज़

Arshdeep Singh wears a relieved look after coming out unscathed at the death, Chennai Super Kings vs Punjab Kings, IPL 2022, Wankhede Stadium, Mumbai, April 25, 2022

पंजाब किंग्‍स के मुख्‍य तेज गेंदबाजों में शुमार हो गए हैं अर्शदीप  •  BCCI

आईपीएल 2022 में कई युवा तेज़ गेंदबाज़ों ने अपनी छाप छोड़ी है, लेकिन अगर उनमें सबसे ज़्यादा किसी युवा तेज़ गेंदबाज़ ने प्रभावित किया है तो उनका नाम अर्शदीप सिंह है। आईपीएल में कुछ ही सालों के अनुभव में यह गेंदबाज़ आज हर किसी का चहेता है। भारत के पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह, इरफान पठान और ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर मैथ्‍यू हेडन ने पंजाब किंग्‍स के युवा तेज़ गेंदबाज़ की तारीफ़ की है। तीनों ही पूर्व खिलाड़ी अर्शदीप ​की दबाव को झेलने की काबिलियत से प्रभावित दिखे हैं।
हरभजन को लगता है कि जहां वह गेंद को डालना चाहते हैं, वहीं वह उस गेंद को डाल देते हैं। उनकी यही क्षमता उन्हें ख़ास खिलाड़ी बना देती है।
पंजाब के खड़ड़ के रहने वाले अर्शदीप ने चंडीगढ़ से अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। पिता दर्शन सिंह एक निजी कंपनी में कार्यरत और मां दलजीत कौर घरेलू महिला। बेटे के क्रिकेट के प्रति जुनून को ही देखते हुए उन्होंने उसका दाखिला चंडीगढ़ सेक्टर 36 की गुरु नानक पब्लिक स्कूल की एकेडमी में करा दिया। वह रोज़ लंबा सफ़र तय करते हुए साइकिल से एकेडमी तक पहुंचते। 2019 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य अर्शदीप को भले ही उस विश्व कप में दो ही मैच खेलने को मिले, लेकिन आईपीएल में उन्होंने बेहद छोटे से समय में परिपक्वता दिखाई है।
स्टार स्पोर्ट्स पर क्रिकेट लाइव पर बोलते हुए हरभजन ने कहा, "अर्शदीप के बारे में सबसे अच्छी बात यही है कि वह निडर गेंदबाज़ हैं। उनके पास शेर वाला दिल है। कई खिलाड़ी दबाव वाली परिस्थिति में बिखर जाते हैं लेकिन वह तनावपूर्ण क्षणों में अधिक बार फलता-फूलता दिखता हैं। इस गेंदबाज़ में बहुत आत्मविश्वास है और उन्हें विश्वास है कि यह गेंदबाज़ फंसे हुए मैच के वक़्त भी अच्छा कर सकता है।
आईपीएल के आंकड़े बताते हैं कि डेथ ओवरों में उन्होंने इस आईपीएल में केवल एक छक्का और सात चौके खाए हैं। डेथ ओवरों में नौ पारियों में उन्होंने केवल 7.14 के इकॉनमी से रन दिए, जहां उन्हें तीन विकेट भी हासिल हुए।
एक मैच के दौरान वह विश्व स्तरीय गेंदबाज़ कगिसो रबाडा को सलाह देते दिखे कि किस लाइन और लेंथ पर गेंद करें। यह दिखाता है कि वह मैच में कितना जुड़े हैं और सीनियर खिलाड़ियों को अपनी सलाह देने से कतराते नहीं हैं। वह डेथ ओवरों में सटीक यॉर्कर डालते हैं। मुझे लगता है इस काबिलियत वाले खिलाड़ी को जल्द से जल्द भारत के लिए खेलने का मौक़ा मिलना चाहिए।"
भारत के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ इरफान पठान ने भी डेथ ओवरों में एमएस धोनी और हार्दिक पांड्या जैसी बड़े हिटर्स को शांत रखने के लिए इस युवा गेंदबाज़ की तारीफ़ की और कहा कि उन्होंने साबित किया है कि वह कितने ख़ास क्रिकेटर हैं।
पठान ने कहा, "अर्शदीप ख़ास खिलाड़ी हैं। वह युवा हैं, आत्मविश्वास से भरे हैं और सटीक हैं। ये सारी खूबियां उन्हें अपनी उम्र के गेंदबाज़ों से अलग़ करती हैं। वह धोनी, हार्दिक या किसी अन्य बल्लेबाज़ को डेथ ओवरों में शांत रखने में कामयाब रहे हैं और यही इस गेंदबाज़ की काबिलियत दर्शाती है। उनका विकास अभूतपूर्व रहा है। रबाडा जैसे अंतर्राष्ट्रीय गेंदबाज़ के टीम में रहने के बावजूद एक अनकैप्ड भारतीय सीमर उभर रहा है तो यह दिखाता है उसके पास कितना कौशल है। वह पंजाब किंग्स के लिए अगली बड़ी चीज़ होने जा रहे हैं।"
पूर्व ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ी मैथ्यू हेडन ने भी इस युवा को बेहतरीन बताया। उन्होंने कहा, "अर्शदीप पंजाब किंग्स के गेंदबाज़ी लाइन अप में सबसे बेहतरीन गेंदबाज़ और पूरे आईपीएल से सबसे बेहतरीन युवा तेज़ गेंदबाज़ हैं। वह पारी की शुरुआत से ही सटीक लेंथ पर गेंद डालते हैं और ऐसा वह डेथ ओवरों में भी करने में कामयाब रहते हैं।"

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26