मैच (16)
आईपीएल (1)
T20WC Warm-up (2)
County DIV1 (3)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
ENG v PAK (1)
INTER-PRO T20 (1)
ITA vs NL [W] (1)
ख़बरें

क्या बाबर की अति रक्षात्मक पारी के कारण हारा पाकिस्तान?

पारी को एंकर करने के दौरान उसे तेज़ करना भूल गए बाबर

इससे पहले सिर्फ़ तीन बार ही पाकिस्तान 176 या उससे अधिक का स्कोर डिफ़ेंड नहीं कर पाया है। ऐसा पहली बार ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 2010 टी20 विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में हुआ था। दूसरी बार ऐसा इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 2020 में हुआ, जब बाबर आज़म ने 30 से अधिक गेंदों का सामना करते हुए 130 से कम के स्ट्राइक रेट से रन बनाए। कल हुए ऐसे तीसरे मैच में बाबर ने फिर से 30 से अधिक गेंदों का सामना करते हुए 130 से कम के स्ट्राइक रेट से रन बनाया।
बाबर ने मोहम्मद रिज़वान के साथ पारी की शुरुआत करते हुए छह ओवरों के पावरप्ले में 47 रन बनाए, जो कि इस टूर्नामेंट में उनका अब तक का सर्वाधिक था। रिज़वान लगातार तेज़ी से रन बनाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उनका बुख़ार और थकान उन पर भारी पड़ रहा था। वह गेंद को ठीक से टाइम नहीं कर पाए थे और साथ ही साथ उनके दो कैच छूटे।
बाबर ने इस विश्व कप से पहले ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को बताया था कि वह और रिज़वान आने वाले बल्लेबाज़ों के लिए एक नींव तैयार खड़ा कर के रखते हैं। अगर रिज़वान टच में नहीं दिखता है, तो वह गेंदबाज़ों के पीछे जाते हैं, नहीं तो ठीक इसके उलट होता है।
विश्वकप के दौरान भी पाकिस्तान की यही रणनीति दिखी और उन्होंने अपनी इस ज़िम्मेदारी को बख़ूबी निर्वाह किया। बाबर और रिज़वान बेहतर शुरुआत की एक नींव खड़ी कर रहे थे, जिस पर मध्य क्रम के बल्लेबाज़ एक बड़े स्कोर का महल खड़ा करते थे। बाबर के 10वें ओवर में आउट होने के बाद पाकिस्तान ने अंतिम 10 ओवरों में 105 रन जोड़े।
साढ़े पांच साल पहले वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ 2016 टी20 विश्व कप के सेमीफ़ाइनल में भारत के अजिंक्य रहाणे ने 35 गेंदों पर 40 रन की पारी खेली थी। तब भारत को वेस्टइंडीज़ ने दो गेंद शेष रहते हराया था। निःसंदेह इन दोनों दिनों पर क्रमशः भारत और पाकिस्तान के गेंदबाज़ों ने ख़राब गेंदबाज़ी और क्षेत्ररक्षण किया था लेकिन लंबे समय तक बाबर और रहाणे की परियों को हार का दोष दिया जाता रहेगा।

मैट रोलर ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के दया सागर ने किया है