मैच (16)
आईपीएल (1)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (2)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
USA vs BAN (1)
ख़बरें

हमें घबराने की कोई ज़रूरत नहीं है : रोहित शर्मा

मुंबई इंडियंस के कप्तान चाहते हैं कि उनके खिलाड़ी जीतने की भूख जगाए

Tymal Mills brought out all his death-overs smarts, Mumbai Indians vs Rajasthan Royals, IPL 2022, Mumbai, April 2, 2022

टिमाल मिल्स, बेसिल थंपी और डेनियल सैम्स रन रोकने में नाकाम रहे हैं  •  BCCI

लगातार तीन करारी हार के साथ नए आईपीएल सीज़न की शुरुआत करने वाली मुंबई इंडियंस को अब जीत की भूख के साथ बेधड़क होकर खेलने की ज़रूरत है। अंक तालिका में नौवें स्थान पर विराजमान अपनी टीम के खिलाड़ियों को कप्तान रोहित शर्मा ने यही संदेश दिया हैं।
मुंबई हमेशा धीमी शुरुआत करने के लिए जानी जाती है। पिछले सीज़न में भी अंतिम मैच में आते हुए भी वह अंतिम चार में जगह बनाने में संघर्ष कर रही थी। इस बार भी लग रहा है कि वही कहानी दोहराई जाएगी।
पिछली हार के बाद मुंबई इंडियंस के ट्विटर हैंडल पर जारी किए गए वीडियो में रोहित ने अपनी टीम से कहा, "हम किसी एक खिलाड़ी को दोषी नहीं ठहरा सकते। हम जीतते एक साथ हैं और हारते भी एक साथ हैं।"
"मुझे लगता है कि हमें जीतने की भूख की ज़रूरत हैं। यह इस प्रतियोगिता में बहुत, बहुत, बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि विपक्षी टीमें अलग होती हैं, रणनीतियां अलग होती हैं। आपको हमेशा शीर्ष पर रहना पड़ता है। और इसके लिए आपको उस भूख के साथ बल्ले और गेंद से बेधड़क होकर खेलने की आवश्यकता है।"
इस सीज़न में मुंबई को कोलकाता नाइड राइडर्स (पांच विकेट से), राजस्थान रॉयल्स (23 रनों से) और दिल्ली कैपिटल्स (चार विकेट से) के हाथों हार का सामना करना पड़ा है। जहां रविचंद्रन अश्विन और युज़वेंद्र चहल की फिरकी वाली राजस्थान के ख़िलाफ़ वह 194 रनों का पीछा नहीं कर पाए, अक्षर पटेल और ललित यादव और फिर कोलकाता के विरुद्ध पैट कमिंस की तूफ़ानी पारी ने उन्हें अब तक शून्य अंकों पर रखा है।
शीर्ष क्रम में इशान किशन, मध्य क्रम में युवा तिलक वर्मा और गेंद के साथ मुरुगन अश्विन ने प्रभावित किया हैं। लेकिन अन्य गेंदबाज़ रन रोकने में नाकाम रहे हैं। रोहित ने अपने टीम का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि उन्होंने सही ठिकाने पर गेंदबाज़ी की लेकिन वह मौक़ों को भुना नहीं पाए।
रोहित ने कहा, "तीनों मैचों में हमने अच्छा खेल खेला। बात बस उन छोटी चीज़ों की है जो आपको उस स्थिति में समझनी होती है। आपको आभास होगा कि अब इस ओवर में कुछ हो सकता है। अब उस एक ओवर में हम क्या करते हैं, इससे मैच का पासा पलट सकता है। केकेआर मैच को हमसे दूर लेकर चले गए। हमें अन्य टीमों के विरुद्ध वही करना होगा।"
मुंबई ने अपने घरेलू मैदान वानखेड़े स्टेडियम को छोड़कर अन्य तीन मैदानों पर अपने मैच खेले हैं। और तो और अगले चार मैच भी वानखेड़े में नहीं होंगे जब 10 दिनों के भीतर मुंबई की पलटन को फ़ॉर्म में चल रही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु, लखनऊ सुपर जायंट्स और पंजाब किंग्स का सामना करना है।
रोहित ने कहा कि टीम को घबराने की कोई ज़रूरत नहीं है क्योंकि अभी प्रतियोगिता के शुरुआती दिन चल रहे हैं। मुंबई के कप्तान ने कहा, "सच कहूं तो हम इस कमरे में कौशल, प्रतिभा और बाक़ी सब चीज़ों की बात करते हैं लेकिन जब तक हम जीतने की वह भूख नहीं जगाएंगे तब तक विपक्षी टीमें ऐसी ही हमें मैच तोहफ़े में लाकर नहीं देंगी।"
"हमें सिर झुकाने की कोई ज़रूरत नहीं है। चिंता करने की कोई बात नहीं है। टूर्नामेंट अभी शुरू हुआ है और तीन मैचों में हमने जज़्बा दिखाया है। अब बस मैदान पर उतरने वाले 11 खिलाड़ियों को साथ मिलकर अच्छा प्रदर्शन करना है। बात गेंदबाज़ी क्रम या बल्लेबाज़ी क्रम की नहीं है, मुझे लगता है कि पूरी टीम को एकजुट होकर खेलना होगा।"

विशाल दीक्षित ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।