स्कॉटलैंड 123 पर 2 (कोटज़र 41, बेरिंग्टन 31*) ने ओमान 122 (इल्यास 37, मकसूद 34, डेवी 3-25, लीस्क 2-13) को 8 विकेट से हराया

हाल के दिनों में बड़े आयोजनों में स्कॉटलैंड के लिए क्वालीफ़ाइंग दौर से बाहर हो जाना एक चिंता का विषय रहा है। यह 2016 टी20 विश्व कप में हुआ था, यह 2019 विश्व कप क्वालीफ़ायर में भी हुआ था। लेकिन उन्होंने गुरुवार को इस शैली में बदल दिया, 2021 टी20 विश्व कप में उन्होंने पुरानी गलतियों को दोहराया नहीं।

उन्होंने अब ओमान को हराकर तीन में से तीन मैच जीतकर सुपर 12 में जगह बनाई है, जिसने उनके लिए तस्वीर पूरी तरह से बदल दी है। स्कॉटलैंड अब ग्रुप बी में शीर्ष पर है और अगले दौर में भारत, पाकिस्तान, न्यूज़ीलैंड, अफ़ग़ानिस्तान और नामीबिया या आयरलैंड में से एक के साथ होगी।

दबाव अजीब चीज़ें कर सकता है। जतिंदर सिंह, जिन्होंने पहले दो मैचों में 73* और 40 रन बनाए, वह स्कॉटलैंड के ख़िलाफ़ मैच की दूसरी गेंद पर मिड ऑन पर सिंगल चुराने की कोशिश में रन आउट हो गए। उनके ओपनिंग पार्टनर आकिब इल्यास ने उनसे मुंह मोड़ लिया तो जतिंदर उस वक़्त तक इल्यास के पास पहुंच चुके थे। दूसरे ओवर में साफ़्यान शरीफ़ को हार्ड लेंथ पर हिट करने से फ़ायदा हुआ क्योंकि कश्यप प्रजापति उनको पुल करने गए लेकिन वह नियंत्रण में कतई नहीं थे और मिड ऑफ़ पर एक आसान सा कैच दे बैठे। तीसरे ओवर तक दो विकेट पर 13 रन बनाना ओमान के लिए एक बुरी शुरुआत थी।

इल्यास हुए आउट

अपने साथी को रन आउट कराने के बाद इल्यास ने मैच की पांचवीं गेंद पर ब्रैड व्हील को फ़ाइन लेग पर फ्लिक करके लाजवाब बाउंड्री निकाली और अन्य गेंदबाज़ों पर आक्रमण भी जारी रखा। उन्होंने पैड पर आई गेंदों को बाउंड्री पर भेजा। पावरप्ले में ओमान के लिए 29 गेंद में अहम 37 रन बनाए। हालांकि इस बीच स्कॉटलैंड के खिलाड़ियों ने भी ग​लतियां की। व्हील शॉर्ट फ़ाइन लेग पर छलांग लगाते हुए इल्यास का कैच नहीं ले सके। इससे पहले कि स्कॉटलैंड को आश्चर्य होता कि उन्होंने क्या गलती की है, इल्यास ख़ुद ही माइकल लीस्क की गेंद पर अपना विकेट गंवा बैठे।

ज़ीशान की कमाल की बल्लेबाज़ी

मकसूद ने धीरे-धीरे शुरुआत की और गेंद को गैप में डालकर पारी को फ़िर से बनाने की कोशिश की। हालांकि उनकी इस आक्रामक पारी की शुरुआत संयम भरे शॉट के साथ नहीं हुई क्योंकि उन्होंने 14 वें ओवर में ग्रीव्स को डीप स्क्वायर लेग पर शॉट लगाया, लेकिन यह नो बॉल हो गई। अगले ओवर में उन्हें एक और राहत मिली जब एक और मौक़ा उन्हें मिला। गेंदबाज़ शरीफ़ और कोटज़र कवर की ओर भाग रहे थे, लेकिन कैच टपक गया।

कोटज़र के पास गेंदबाज़ी छोर पर सीधा प्रहार करने के लिए अच्छा मौक़ा था, लेकिन वह भी चूक गए। 14 रन से आगे निकलते हुए उन्होंने 34 रन बना दिए। यहां तक ​​​​कि उनके चारों ओर विकेट गिरते रहे, जिसका मतलब था कि ओमान को फ़िनिशिंग नहीं मिल सकी। आख़िरकार, मकसूद जोश डेवी को की गेंद पर आउट हुए और यह डेवी का मैच में दूसरा विकेट था। इसी के साथ ओमान 122 रन ही बना सकी।

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर ने किया है।