साउथ अफ़्रीका 144 पर 2 (मारक्रम 51*, वान दर दुसें 43*, हेंड्रिक्स 39, हुसैन 1-27) ने वेस्टइंडीज़ 143 पर 8 (लुईस 56, प्रिटोरियस 3-17, महाराज 2-24) को आठ विकेट से हराया

साउथ अफ़्रीका, वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ चार प्रयासों में तीसरी बार सफल लक्ष्य हासिल करने के साथ ही टी20 विश्व कप अभियान में पटरी पर भी लौट आया। उन्होंने इसे विवादों के बीच किया। सबसे पहले, सीएसए बोर्ड से एक निर्देश दिया कि टीम को इस टूर्नामेंट में मैचों से पहले सामूहिक रूप से घुटने टेकना चाहिए और मुट्ठी उठाने या ध्यान में खड़े होने के विकल्प अब उनके लिए उपलब्ध नहीं थे, इसके बाद क्विंटन डिकॉक ने ऐसा करने से मना किया और मैच से बाहर हो गए। डिकॉक ने इससे पहले मैच में नस्लवाद विरोध के समर्थन में कोई इशारा नहीं किया था और टीम प्रबंधन द्वारा बोर्ड को रिपोर्ट किए जाने के बाद बा​क़ी टूर्नामेंट में उनकी भागीदारी पर अब निर्णय लिए जाने की उम्मीद है।

डिकॉक की जगह विकेट के पीछे हेनरिक क्लासेन ने दस्ताने संभाले, जिन्होंने एक गड़बड़ी की लेकिन उनकी जगह ओपनिंग पर आए रीज़ा हेंड्रिक्स ने इस मौक़े को भुनाते हुए लक्ष्य का पीछा करते हुए एक टोन सेट किया।

एविन लुईस के आक्रामक शॉट के बावजूद साउथ अफ़्रीका ने वेस्टइंडीज़ को 143 रनों पर रोक दिया। क्रिस गेल की जगह ओपनिंग करने आए लेंडल सिमंस बहुत धीमे थे और वह क्रीज़ पर संघर्ष करते नज़र आए। वेस्टइंडीज़ ने 11वें और 20वें ओवरों के बीच 64 रन के भीतर आठ विकेट गंवाए। हेंड्रिक्स के 39 रनों के स्कोर ने साउथ अफ़्रीका के लिए ज़मीन तैयार कर दी थी। अंत में 19वें ओवर में रासी वान दर दुसें और एडेन मारक्रम के बीच 83 रनों की साझेदारी ने टीम को यह अहम जीत दिला दी।

लुईस चमके, सिमंस ने बिगाड़ा खेल

लुईस और ​सिमंस ने वेस्टइंडीज़ के लिए 73 रनों की ओपनिंग साझेदारी करके एक ठोस नींव रखी। लुईस आक्रामक थे और उन्होंने 35 गेंदों में 56 रन बनाए, जिसमें उनके सभी पांच चौके और दो छक्के लेग साइड पर आए, जबकि सिमंस ने अपना समय बिताया, केवल सिंगल निकाले। क्लासेन ने सिमंस को अनरिख़ नॉर्खिये की गेंद पर उनका कैच टपका दिया, तब वह चार रनों पर ही थे। लुईस जब बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में आउट हो गए, तो सिमंस पर रन बनाने का दबाव बना और वह कगिसो रबाडा पर हावी होने के चक्कर में बोल्ड हो गए। उन्होंने 35 गेंदों पर 16 रन बनाए। उनकी यह पारी पुरुषों के टी20 विश्व कप में बिना बाउंड्री के गेंदों के मामले में संयुक्त रूप से सबसे लंबी पारी और 30 या अधिक गेंदों का सामना करने के बाद विश्व कप की तीसरी सबसे धीमी पारी थी।

साउथ अफ़्रीका की वापसी

लुईस अपना काम कर चुके थे और इस मोमेंटम को बनाए रखने के लिए वेस्टइंडीज़ ने गेल की जगह पर निकोलस पूरन को तीसरे नंबर पर उतारा। यह पहली बार है जब गेल ने टी20ई में वेस्टइंडीज़ के लिए शीर्ष तीन से बाहर बल्लेबाज़ी की। यह वास्तव में उनके लिए काम नहीं आया। डेविड मिलर द्वारा लांग ऑफ़ पर पकड़े जाने से पहले पूरन ने 12 रन बनाए। गेल मैदान पर पहुंच चुके थे और उन्होंने तबरेज़ शम्सी पर छक्का भी लगाया लेकिन जब कप्तान तेम्बा बवूमा ने डेथ ओवरों में ड्वेन प्रिटोरियस को गेंद थमाई तो उन्होंने गेल का विकेट झटक लिया। इसके बाद उन्होंने हेडन वॉल्श जूनियर का भी विकेट अगली गेंद पर चटका दिया। इससे पहले कि नॉख़िये ने आंद्रे रसल को एक सटीक यॉर्कर पर बोल्ड किया था। शिमरॉन हेटमायर भी रन आउट हो गए थे। नतीज़ा रहा कि साउथ अफ़्रीका ने आखिरी तीन ओवर में 22 विकेट पर पांच विकेट लिए।

हेटमायर ने बेहतरीन साहस दिखाकर हेंड्रिक्स को किया आउट

अगर डिकॉक ने मना नहीं किया होता तो हेंड्रिक्स इस मैच को नहीं खेलते, लेकिन हेंड्रिक्स ने अपने शुरुआती मौक़े का पूरा फ़ायदा उठाया। वह इस मैच में जब उतरे तो उन्होंने 1000 टी20 अंतर्राष्ट्रीय रन तक पहुंचने के लिए सात रनों की ज़रूरत थी और वह सातवीं गेंद पर ही इस आंकड़े तक पहुंच गए। वह भी एक लांग ऑन पर लगाए गए एक बेहतरीन छक्के के साथ। हेंड्रिक्स ने अपने पुल, लेट कट और लॉफ्ट ओवर कवर जैसे बेहतरीन शॉट का प्रदर्शन किया। 10वें ओवर में हेंड्रिक्स ने हुसैन को को डीप स्क्वायर लेग पर पुल करने की कोशिश की, जहां हेटमायर ने आगे की ओर डाइव लगाई और कैच लपका। डाइव लगाते समय गेंद ठीक उनके हाथों के नीचे थी। सॉफ्ट सिग्नल नॉट आउट था, लेकिन टेलीविज़न रिप्ले ने पुष्टि की कि कैच क्लीन था और हेंड्रिक्स 39 रन पर आउट हो गए।

कमाल के मारक्रम

मारक्रम 2021 में साउथ अफ़्रीका के सर्वोच्च टी20 अंतर्राष्ट्रीय रन स्कोरर बन गए हैं और किसी भी कैलेंडर वर्ष में किसी प्रारूप में उनके सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने आसानी से मध्य क्रम में अपनी नई भूमिका को अपना लिया है। वह क्रीज़ पर पहुंचे तब साउथ अफ़्रीका को 10.4 ओवर में 83 रन चाहिए थे और उनके पास क्रीज़ पर समय बिताने का समय था। हालांकि उन्होंने वॉल्श जूनियर को लांग ऑन पर छक्का जड़ दिया। उन्होंने कायरन पोलार्ड के साथ स्क्वायर लेग के ऊपर और रवि रामपॉल के साथ मिडविकेट की दिशा में ऐसे ही प्रहार किए। मारक्रम ने वान दर दुसें के साथ 57 गेंद में 83 रनों की साझेदारी की और इस साझेदारी के बीच तेज़ी से रन नहीं बना पा रहे वान दर दुसें का एक अच्छा साथ दिया। यही वजह रही कि साउथ अफ़्रीका आठ विकेट से यह मैच जीत गई।

फ़ि‍रदौस मूंडा ESPNcricinfo's में साउथ अफ़्रीका की संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo's हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।