मैच (17)
IPL (2)
ACC Premier Cup (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
फ़ीचर्स

गिल की पारी के फ़ायदे और नुकसान और दो जुदा पदार्पण

गुजरात टाइटंस के प्लेऑफ़ में पहुंचने वाले मैच से जुड़ी चार अहम बातें

गुजरात टाइटंस ने दो हार के बाद वापसी करते हुए लखनऊ सुपर जायंट्स को हराकर आईपीएल की अंक तालिका में शीर्ष स्थान हासिल कर लिया है। साथ ही वह इस सीज़न प्लेऑफ़ में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई है।
गिल चमके लेकिन गुजरात के शीर्ष क्रम को चलना होगा
शुभमन गिल की 49 गेंद में 63 रन की पारी उनका इस सीज़न लगातार दूसरा अर्धशतक था, लेकिन उनके अंदाज़ पर ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के टी20 टाइमआउट शो में सवाल खड़े हुए। वह 12 ओवर तक 32 गेंद में 40 रन बनाकर नाबाद थे और गुजरात का स्कोर 76 रनों पर तीन विकेट था। गिल 17वें ओवर में अपना अर्धशतक पूरा कर पाए और उन्हें इसके लिए 10 गेंद और खेलनी पड़ी और इस दौरान उन्होंने एक बार भी बाउंड्री लगाने की नहीं सोची।
अभी भी गिल का राहुल तेवतिया को छोड़कर गुजरात में सबसे अच्छा स्ट्राइक रेट है। तेवतिया ने भी इस मैच में 16 गेंद में 22 रनों की नाबाद पारी खेली। इससे यह पता चलता है कि इस पिच पर सीधे बाउंड्री नहीं लगाई जा पा रही थी। उनका रन बनाने का यह अंदाज़ गुजरात की बल्लेबाजी में गहराई की कमी के कारण भी हो सकता है, जिसमें राशिद ख़ान नंबर सात पर रहे।
वह इसलिए क्योंकि, साई सुदर्शन, अभिनव मनोहर और विजय शंकर मध्य क्रम में जगह मज़बूत करने में विफल रहे हैं। वहीं हार्दिक को भी अपने खेल में बदलाव करना पड़ा क्योंकि कप्तान के तौर पर उन पर भी रन बनाने का दबाव बढ़ता रहा है।
सीज़न के दौरान, गुजरात को डेविड मिलर और तेवतिया और कभी-कभी राशिद पर भी रन बनाने को लेकर निर्भर रहना पड़ा है, लेकिन उन्हें भी पता है कि टीम में अन्य खिलाड़ियों के भी योगदान की ज़रूरत है। मंगलवार को उन्होंने मैथ्यू वेड को शामिल करके बल्लेबाज़ी को गहरा करने की कोशिश की, लेकिन वह भी एक ख़राब स्कूप के प्रयास में मात्र 10 रन बनाकर आउट हो गए।
भुला देने वाला और याद रखने वाला डेब्यू
रणजी ट्रॉफ़ी में डेब्यू करते हुए कप्तानी करने वाले उत्तर प्रदेश के 23 वर्षीय करन शर्मा को पुणे में मंगलवार को अपना पहला मैच खेलने को मिला। 2006 से वह शीर्ष घरेलू टूर्नामेंट में डेब्यू मैच में कप्तानी करने वाले पहले खिलाड़ी है।
दिल्ली में जन्में करन ऑफ़ स्पिन करते हैं और शीर्ष क्रम पर बल्लेबाज़ी करते हैं। इस मैच से पहले 10 टी20 में उन्होंने 136.19 के स्ट्राइक रेट से 301 रन बनाए हैं। बल्लेबाज़ी मज़बूत करने की वजह से लखनऊ ने रवि बिश्ननोई की जगह उन्हें मौक़ा दिया।
मंगलवार को करन तुरंत एक्शन में दिखे जब गिल ने कट मारने का प्रयास किया और गेंद थर्ड मैन की ओर चली गई, जहां उन्होंने कैच का मौक़ा गंवा दिया। उस समय गिल शून्य पर थे और इसके बाद उन्होंने नाबाद 63 रन बनाकर अपनी टीम को चार विकेट पर 144 रनों तक पहुंचा दिया।
इसके बाद नंबर चार पर आते हुए उनके पास इस मौक़े को भुनाने का समय था, लेकिन वह चार ही गेंद खेल सके। दो गेंद बाद उन्होंने कवर की ओर पंच लगाकर अपना ख़ाता खोला लेकिन अगली ही गेंद पर वह उत्तर प्रदेश के अपने साथी यश दयाल की गेंद पर शॉर्ट थर्ड मैन पर लपके गए।
इसके बाद मैच में बाएं हाथ के स्पिनर साई​ किशोर ने अपना पहला ओवर गुजरात के लिए डाला। यह 25 वर्षीय स्पिनर के लिए यादगार लम्हा था, क्योंकि वह पिछले तीन सीज़न से चेन्नई सुपर किंग्स में रहते हुए बेंच पर बैठे रहे थे। तमिलनाडु के इस स्पिनर को अधिकतर सफलता पावरप्ले में मिली है। यहां वह मध्य ओवरों में गेंदबाज़ी करने आए। उन्होंने आयुष बदोनी का विकेट लिया और मैच में उनके आंकड़े 2-0-7-2 यह थे।
हार्दिक बनाम क्रुणाल, पार्ट 2
पहली बार जब यह दोनों टीमों एक साथ खेली तो क्रुणाल ने हार्दिक को जल्दी आउट कर दिया था
इस बार, हार्दिक ने क्रुणाल पर आराम से सिंगल निकाले, जबकि क्रुणाल फ़्लाइट, एंगल बनाकर अच्छ् उछाल के साथ गेंदबाज़ी कर रह थे। कुछ देर बाद मैच में जब गुजरात लक्ष्य का बचाव कर रही थी तो जैसे ही क्रुणाल बल्लेबाज़ी को आए, उन्होंने राशिद को गेंद थमा दी।
राशिद के ख़िलाफ़ क्रुणाल के अच्छे आंकड़े नहीं है। 17 गेंद में वह 16 रन ही बना सके हैं और दो बार आउट हो चुके हैं। बुधवार को उन्होंने क्रुणाल को हवा में फंसाया, वह गुगली को परख नहीं सके और ग़लत लाइन में जाकर शॉट खेलने के प्रयास में स्टंप आउट हो गए। इस समय लखनऊ का स्कोर चार विकेट पर 45 रन हो गया।
राशिद का कमाल
वह कैच ले रहे थे, लगातार हार्दिक को मैदान से सुझाव दे रहे थे, और जब वह गेंदबाज़ी में आए तो विकेट ले रहे थे। राशिद ने अपने स्पेल की समाप्ति 24 रन देकर चार विकेट के साथ की, जो उनका आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। उन्होंने क्रुणाल के विकेट के साथ शुरुआत की। जेसन होल्डर ने एक तेज़ लेग ब्रेक को ग़लत लाइन पर खेला और फिर उन्होंने सेट दीपक हुड्डा को आउट किया। अंत में राशिद ने आवेश ख़ान को आउट करके अपना चौथा विकेट लिया।

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।