मैच (15)
IPL (2)
ACC Premier Cup (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : हेटमायर को फ़ायर करने से रोक सकते हैं बिश्नोई

गेंद के साथ भी लखनऊ कर सकती है स्टॉयनिस का इस्तेमाल

मैच की पूरी कहानी संजू, हेटमायर, बिश्नोई और स्टॉयनिस के क़िरदारों के आसपास घूम सकती है  •  Associated Press

मैच की पूरी कहानी संजू, हेटमायर, बिश्नोई और स्टॉयनिस के क़िरदारों के आसपास घूम सकती है  •  Associated Press

बुधवार शाम को राजस्थान रॉयल्स और लखनऊ सुपर जायंट्स की टीमें जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में आमने सामने होंगी। एक तरफ़ लखनऊ की कोशिश वापस जीत की पटरी पर लौटने और राजस्था को पहली बार मत देने की होगी तो दूसरी तरफ़ गुजरात से पिछले आईपीएल फ़ाइनल का बदला लेकर लौट रही राजस्थान लखनऊ के ख़िलाफ़ अपने अजय रथ को कायम रखना चाहेगी। ऐसे में कुछ ऐसे मैच अप्स का रुख़ करते हैं जोकि जीत और हार का अंतर बन सकते हैं।
हेटमायर को फ़ायर करने से रोक सकते हैं बिश्नोई
गुजरात के ख़िलाफ़ पिछले मुक़ाबले में शिमरॉन हेटमायर ने अपने आतिशी अर्धशतक से एक हारे हुए मैच को राजस्थान के पलड़े में झुका दिया। हालांकि इस मैच में हेटमायर को फ़ायर करने से रोकने की ज़िम्मेदारी कप्तान के एल राहुल रवि बिश्नोई को दे सकते हैं। बिश्नोई ने हेटमायर को दो बार पवेलियन का रास्ता दिखाया है। इस दौरान हेटमायर विश्नोई की 27 गेंदों पर 82 के स्ट्राइक रेट से 22 रन ही बना पाए हैं।
गेंद के साथ स्टॉयनिस के इस्तेमाल से न करें परहेज़
मार्कस स्टॉयनिस ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के ख़िलाफ़ अर्धशतकीय पारी खेलकर एक बड़े टोटल चेज़ करने में अपनी टीम के लिए अहम भूमिका निभाई। पंजाब के ख़िलाफ़ भी 15 रन पर आउट होने से पहले वह दो छक्के जड़कर अच्छी लय में नज़र आ रहे थे। हालांकि राजस्थान के ख़िलाफ़ वो बल्ले के मुक़ाबले गेंद के साथ अधिक कमाल दिखा सकते हैं। स्टॉयनिस ने टी20 में बटलर को दो बार अपना शिकार बनाया है। जबकि राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन को भी वह चार पारियों में दो बार पवेलियन भेज चुके हैं। गुजरात के ख़िलाफ़ अर्धशतक लगाकर वैसे भी संजू का आत्मविश्वास काफ़ी बढ़ा होगा।
सैमसन के सामने बेबस हो जाते हैं बिश्नोई
भले ही बिश्नोई टी20 में हेटमायर को दो बार आउट कर चुके हों लेकिन राजस्थान के कप्तान के विरुद्ध उनके आंकड़े अच्छे नहीं है। बिश्नोई ने संजू को 28 गेंदें डाली हैं जिसमें उन्होंने 150 के स्ट्राइक से 42 रन बनाए हैं। इस दौरान बिश्नोई एक बार भी संजू को आउट नहीं कर पाए हैं। ऐसे में अगर लखनऊ के पास बिश्नोई के रूप में हेटमायर की काट है तो राजस्थान के कप्तान खुद बिश्नोई की सबसे बड़ी काट हैं। ऐसे में अगर हेटमायर और संजू एक साथ क्रीज़ पर रहते हैं और बिश्नोई को आक्रमण लाया जाता है तो अधिक स्ट्राइक संजू अपने पास रख सकते हैं। हालांकि लखनऊ के पास भी स्टॉयनिस के रूप में संजू की काट मौजूद है। ऐसे में इन दोनों बल्लेबाज़ों के सामने एक छोर से बिश्नोई तो दूसरे छोर से स्टॉयनिस को आक्रमण पर रखा जा सकता है।
क्या बोल्ट राहुल को झटका दे पाएंगे?
हर आईपीएल की तरह इस आईपीएल में भी राहुल की बल्लेबाज़ी से ज़्यादा चर्चा उनके स्ट्राइक रेट की है। हालांकि पिछले मैच में उनकी अर्धशतकीय पारी भी 130 के स्ट्राइक रेट के आसपास ही रही लेकिन राजस्थान के प्रमुख गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट के ख़िलाफ़ उनका स्ट्राइक रेट 158 का है। राहुल ने टी20 में बोल्ट के ख़िलाफ़ 112 रन बनाए हैं जबकि दो बार उन्हें बोल्ट का शिकार भी होना पड़ा है। ऐसे में पावरप्ले में राहुल और बोल्ट के बीच ज़ोरदार टक्कर देखने को मिल सकती है। बोल्ट ने क्विंटन डिकॉक को भी दो बार अपना शिकार बनाया है लेकिन काइल मेयर्स के अच्छे प्रदर्शन के चलते राहुल के साथ एक बार फिर वही पारी की शुरुआत कर सकते हैं।