मैच (16)
आईपीएल (1)
T20WC Warm-up (2)
County DIV1 (3)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
ENG v PAK (1)
INTER-PRO T20 (1)
ITA vs NL [W] (1)
ख़बरें

विलियमसन : मैं तीनों प्रारूप खेलना जारी रखना चाहता हूं

टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में न्यूज़ीलैंड के कप्तान के भविष्य पर हाल ही में सवाल उठ खड़े हुए हैं

Kane Williamson looks miffed after New Zealand's semi-final loss, New Zealand vs Pakistan, T20 World Cup 2022, 1st Semi-Final Sydney, November 9, 2022

टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में विलियमसन के भविष्य पर सवाल उठ खड़े हुए हैं  •  Getty Images

टी20 विश्व कप 2022 के सेमीफ़ाइनल से न्यूज़ीलैंड के बाहर होने के बाद टी20 क्रिकेट और विशेषकर टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में केन विलियमसन के भविष्य के सवाल ने अधिक महत्व ग्रहण किया है। शीर्ष क्रम के एंकर के रूप में उनकी भूमिका सवालों के घेरे में आ गई है। साथ ही यह मुद्दा कि क्या वह 32 साल की उम्र में तीनों प्रारूपों में न्यूज़ीलैंड की कप्तानी करना जारी रख सकते हैं। वह भी ऐसे समय में जब व्यस्त क्रिकेट कैलेंडर दूसरों को, विशेष रूप से उनकी टीम के साथी ट्रेंट बोल्ट को, प्रेरित कर रहा है कि वे इस बात का चयन करें कि वह कब और कौन से प्रारूप खेलते हैं।
हालांकि, विलियमसन तीनों प्रारूपों में खेलना जारी रखना चाहते हैं। उन्होंने यह स्वीकार किया कि कैलेंडर में क्रिकेट की मात्रा एक चुनौती है जिसे उन्हें प्रबंधित करने की आवश्यकता होगी।
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के रौनक कपूर को प्राइम वीडियो द्वारा दिए गए एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा, "हां, मैं सभी प्रारूपों को अलग-अलग कारणों से पसंद करता हूं, और तीनों को खेलने और उनके बीच बदलाव करने को एक आनंददायक चुनौती मानता हूं। लेकिन जो क्रिकेट खेला जा रहा है, उसकी मात्रा के बीच संतुलन बिठाना आवश्यक है।"
उन्होंने आगे कहा, "हर कोई इस चुनौती का सामना कर रहा है, निश्चित रूप से कुछ खिलाड़ियों ने लंबे समय तक किया हो सकता है। आप हमेशा तरोताज़ा रहने और जो सबसे महत्वपूर्ण है उस पर ध्यान देने की उस दिशा में स्पष्ट रहना चाहते हैं।"
न्यूज़ीलैंड क्रिकेट (एनज़ेडसी) के केंद्रीय अनुबंध से बाहर होने के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में ट्रेंट बोल्ट का भविष्य अनिश्चित नज़र आ रहा है। टी20 विश्व कप के बाद चुनी गई वनडे और टी20 टीमों में उनका नाम नहीं है। नई गेंद के साथ उनके साथी गेंदबाज़ टिम साउदी 33 वर्ष के हैं और हो सकता है कि उनके पास अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भी अधिक वर्ष न बचे हों। ये दोनों और विलियमसन न्यूज़ीलैंड की स्वर्णिम पीढ़ी का हिस्सा हैं : वे 2015 के बाद से तीनों प्रारूपों में पांच वैश्विक फ़ाइनल में पहुंचे हैं, और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के वर्तमान विजेता हैं।
विलियमसन ने कहा कि वह खिलाड़ियों में होने वाले बदलाव के बारे में नहीं सोच रहे हैं जिससे न्यूज़ीलैंड क्रिकेट को जल्द ही गुज़रना पड़ सकता है। उन्होंने महसूस किया कि खिलाड़ियों के लिए पल में रहना और सर्वोत्तम तरीक़े से योगदान देना महत्वपूर्ण है।
उन्होंने कहा, "आप उम्मीद करते हैं कि जब आप यहां हैं, खेल को आगे बढ़ाने और विकसित करने का प्रयास किया जाना चाहिए। साथ ही अपनी क्षमता के अनुसार अपनी भूमिका निभाने की कोशिश करना, एक खिलाड़ी के रूप में जितना हो सके प्रयास करना और सुधार करना, और उम्मीद है कि हमारे पास क्रिकेट की गहराई में इज़ाफ़ा होगा।"
विलियमसन ने आगे कहा, "आने वाले वर्षों में बदलाव होगा, या शायद थोड़ा पहले भी हो सकता है - यह पेशेवर खेल में हमेशा होता है। यह नए खिलाड़ी और समूह जो भी होंगे, मुझे यकीन है कि एक टीम के रूप में बेहतर होने और आगे बढ़ने के लिए उनमें बहुत प्रेरणा होगी।"