मैच (27)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
सुपर स्मैश (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (17)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
बीबीएल (1)
महिला अंडर-19 विश्व कप (2)
बीपीएल 2023 (2)
आईएलटी20 (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम पाकिस्तान (1)
ख़बरें

शास्‍त्री : सीरीज़ से बहुत कुछ सकारात्‍मक निकलकर आया

भारत के पूर्व कोच ने गिल, सुंदर, अय्यर और मलिक की तारीफ़ की

रवि शास्‍त्री ने वॉशिंगटन सुंदर की जमकर तारीफ़ की  •  Getty Images

रवि शास्‍त्री ने वॉशिंगटन सुंदर की जमकर तारीफ़ की  •  Getty Images

भारत न्यूज़ीलैंड में बारिश से प्रभावित वनडे सीरीज़ तो हार गया लेकिन पूर्व कोच रवि शास्‍त्री को लगता है कि मेहमान टीम यहां से भी कई सकारात्‍मक चीज़ें लेकर जा सकती है, जैसे शुभमन गिल की पारियां और उमरान मलिक की गेंदबाज़ी।
तीसरा और आख़‍िरी वनडे बुधवार को बारिश से धुलने के बाद न्यूज़ीलैंड सीरीज़ 1-0 से जीत गया। हेमिल्‍टन में दूसरा वनडे भी बारिश की वजह से रद्द हो गया था। हालांकि, जब भी बारिश रुकी तो शास्‍त्री का ध्‍यान गिल, श्रेयस अय्यर, वॉशिंगटन सुंदर और उमरान ने खींचा।
शास्‍त्री ने मैच के बाद कहा, "मुझे लगता है कि इस सीरीज़ से कई सकारात्‍मक चीज़ निकलकर आई हैं। श्रेयस अय्यर कुछ मैचों से रन बना रहे हैं, वहां रुकने की कोशिश कर रहे हैं और मुश्किल समय में क्रीज़ पर डटे रहे हैं। सूर्यकुमार के पास भी काबिलियत है, कौशल है और वह भी अच्‍छा करेगा।"
टीम के युवा खिलाड़‍ियों पर बातचीत करते हुए उन्‍होंने कहा, "वॉशिंगटन सुंदर मुझे लगता है बहुत अच्‍छे दिखे और जिस तरह से उमरान मलिक ने गेंदबाज़ी की वह भी। उनके पास काबिलियत है, अगर वह ढृढ़ रहते हैं तो यह अच्‍छा होगा।"
उन्‍होंने कहा, "कुल मिलाकर बहुत सकारात्‍मक यह था कि शुभमन गिल पारी की शुरुआत कर रहे थे। यह परिस्थितियां मुश्किल हैं, ऐसी परिस्थितियां बहुत कम मिलती हैं और आप न्‍यूज़ीलैंड की भी लगातार यात्रा नहीं करते हो।"
"तो मुझे लगता है कि युवा‍ खिलाड़‍ियों का यहां आकर अच्‍छा करना शानदार है। यहां का मौसम, ग्राउंड के आकार भी अलग हैं।" कुल मिलाकर, सफ़ेद गेंद की सीरीज़ में केवल दो मैचों के ही परिणाम निकल पाए, यह ख़राब रणनीति का परिणाम है। यह सीरीज़ ऑस्‍ट्रेलिया में टी20 विश्‍व कप ख़त्‍म होने के एक सप्‍ताह बाद आयोजित कराई गई।
यह दौरा वॉशिंगटन के लिए बहुत अच्‍छा रहा है, जो पिछले कुछ मैचों में चोट की वजह से दूर रहे थे।
शास्‍त्री ने इस ऑलराउंडर की बेहद तारीफ़ की, जिन्‍होंने हेगले ओवल की मुश्किल परिस्‍थति में 64 गेंद में 51 रन बनाए और इससे पहले सीरीज़ के पहले मैच में भी अछा किया था।
उन्‍होंने कहा, "उन्‍होंने मौक़े को दोनों हाथ से लपका। और आज उन्‍होंने बल्‍लेबाज़ी में अच्‍छी परिपक्‍वता दिखाई। मुश्किल परिस्थिति, शीर्ष क्रम मुश्किल में फंस गया था और गेंद बल्‍ले को लगातार बीट कर रही थी, तो आपने देखा कि यह खिलाड़ी बेहद संयम में दिखा।"
"वह संतुलित दिखे, उन्‍होंने गेंद छोड़ी और अच्‍छा बैलेंस दिखाया और उनका फ़ुटवर्क भी सकारात्‍मक था।"
उन्‍होंने कहा, "जब उन्‍होंने कुछ बाउंड्री लगा दी तो आप जानते थे कि वह अपने रास्‍ते पर है। तो यह पारी उनकी बेहद ही अच्‍छी थी। एक अच्‍छे बल्‍लेबाज़ ने मुश्किल परिस्थिति में अर्धशतक लगाया।"

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।