मैच (9)
एशिया कप (2)
MLC (2)
Women's Hundred (1)
TNPL (2)
Men's Hundred (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
ख़बरें

धीमे ओवर रेट के लिए अंक गंवाना निराशाजनक : द्रविड़

हालांकि भारतीय कोच को इस नियम से कोई आपत्ति नहीं है

भारतीय टीम के प्रमुख कोच राहुल द्रविड़ नाराज़ हैं कि उनकी टीम को सेंचूरियन में धीमी ओवर गति से गेंदबाज़ी करने के कारण विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के दूसरे चक्र में एक अंक गंवाना पड़ा है। हालांकि उन्हें इस नियम से कोई आपत्ति नहीं है। इस चक्र में भारत ने अब तक कुल मिलाकर तीन अंक गंवाए हैं। पिछले साल ट्रेंट ब्रिज में इंग्लैंड के विरुद्ध धीमी ओवर गति के लिए उनपर दो अंकों का जुर्माना लगा था।
द्रविड़ ने जोहैनेसबर्ग में साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ दूसरे टेस्ट मैच की पूर्व संध्या पर कहा, "नियम सभी के लिए एक समान है। हम इस बात को समझते हैं। यह कठिन हो जाता है क्योंकि हम चार तेज़ गेंदबाज़ों के साथ उतर रहे हैं और जिन दो दिनों में हमने गेंदबाज़ी की, उस दौरान मौसम बहुत गर्म था। हम इस पर काम कर रहे हैं। हमने इस बारे में चर्चा भी की है।"
उन्होंने आगे कहा, "हमें इस मैच में एक अंक का जुर्माना लगा। इस तरह अंक गंवाना निराशाजनक है क्योंकि यह विदेशी धर्ती पर कमाए गए महत्वपूर्ण अंक हैं। हमें इस पक्ष में बेहतर होना होगा ताकि हम भविष्य में और अंक ना गंवाए। यह अफ़सोस की बात होगी अगर हमें धीमी ओवर गति के लिए अंक गंवाने के कारण डब्ल्यूटीसी फ़ाइनल से हाथ धोना पड़े। हम लगातार चार गेंदबाज़ों के साथ खेल रहे हैं और ओवर गति भारत में हमारे लिए चिंता का विषय नहीं है।"
जबकि द्रविड़ खेल की गति को बढ़ाने की आवश्यकता को समझते हैं, उन्होंने बताया कि सेंचूरियन में हुई घंटनाओं - टखना मुड़ने के बाद जसप्रीत बुमराह का मैदान से बाहर जाना और दूसरी पारी में नई गेंद को लेकर उलझन ने उनका अपनी समय सीमा में गेंदबाज़ी करना कठिन बना दिया।
द्रविड़ ने कहा, "मुझे लगता है आईसीसी कुछ अलग कर रही है। एक कोच के तौर पर यह एक कठोर निर्णय लगता है लेकिन फिर यह आपको इसपर काम करने और तेज़ी से खेल को चलाने पर मजबूर करता है। पहले भी आईसीसी ने जुर्माना लगाने की कोशिश की थी और नए पैंतरे आज़माए थे। अब उन्होंने अंक मार्ग को चुना है और मैं इससे सहमत हूं।"
"मुझे इस बात से कोई परेशानी नहीं है। हमें पहले ही इस पद्धति के बारे में बता दिया गया है। बस खेल को समझते हुए थोड़ी छूट दी जानी चाहिए। निसंदेह पिछले मैच में हमें छूट दी गई लेकिन यह पता लगाता मुश्किल हो जाता है कि आपने कितने मिनट गंवाए जब जसप्रीत बुमराह चोटिल हुए और फ़िज़ियो को मैदान पर जाना पड़ा। गेंद को लेकर भी कुछ समस्याएं हुई लेकिन हम बेहतर हो सकते थे। एक नियम के रूप में मैं इस बात से सहमत हूं।"