मैच (16)
आईपीएल (1)
ENG v PAK (W) (1)
WI vs SA (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (1)
ENG v PAK (1)
USA vs BAN (1)
ख़बरें

श्रीलंका के खिलाफ सीरीज जीतना प्राथमिकता : द्रविड़

भारतीय कोच ने कहा कि अगर युवा लड़कों को गेम टाइम नहीं मिला तो यह दौरा उनके लिए सीखने के लिए सबसे अच्छा है

India A coach Rahul Dravid looks on, Fischer County Ground, June 26, 2018

श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़  •  Getty Images

भारतीय टीम के श्रीलंका के सीमित ओवर क्रिकेट के दौरे पर टीम के कोच राहुल द्रविड़ का मुख्य उद्देश्य सीरीज़ जीतना है और खिलाड़ियों को अनुभव दिलाना और मैच खिलाना है। यह तरीका ही द्रविड़ इंडिया ए और इंडिया अंडर 19 स्तर पर भी आज़माते रहे हैं, जो काफ़ी सफल रहा था।
तीन वनडे और तीन टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने के लिए कोलंबो रवाना होने से पहले द्रविड़ ने कहा कि टीम में ऐसे कई खिलाड़ी हैं जो आने वाले टी20 विश्व कप की टीम में जगह बनाना चाहते हैं, लेकिन हमारा मुख्य गोल यही है कि हमें सीरीज जीतनी है, हमने इस बारे में बात भी की है।
यही हमारा मुख्य उद्देश्य है। उम्मीद है कि अगर लड़के सीरीज़ जीतने के लिए अच्छा प्रदर्शन कर जाते हैं, तो यह उनके लिए टीम इंडिया का दरवाज़ा खटखटाने का बेहतरीन मौक़ा होगा।
उन्होंने कहा कि दौरे के उद्देश्य को अलग रखते हैं और युवा लड़कों को विदेशी टीम पर भारतीय टीम का हिस्सा बनने का अनुभव देते हैं। इस दौरे को जीवन मरण की स्थिति में नहीं रखते हैं। अच्छे प्रदर्शन काफ़ी बेहतरीन होंगे, लेकिन कुछ ख़राब दिनों से दुनिया ख़त्म नहीं हो जाएगी।
द्रविड़ ने कहा कि टीम में कई युवा लड़के हैं, अगर वह खेलते नहीं है तो यह उनके लिए भारतीय टीम का हिस्सा और शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पंड्या जैसे अनुभवी खिलाड़ियों से सीखने का बेहतरीन मौका होगा। ऐसा काफी कुछ है जो वह उनके अनुभव से सीख सकते हैं। इस दौरे पर युवा खिलाड़ी आ रहे हैं तो वे अच्छा प्रदर्शन करके चयनकर्ताओं की नजरों में आना चाहेंगे।
चाहे वह टी20 विश्व कप के लिए चुने जाते हैं या नहीं, यह चयनकर्ताओं का फैसला होगा, लेकिन इस तरह के दौरे पर होना और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की विरोधी टीम के खिलाफ खेलना, अगर आप यहां पर प्रदर्शन से सभी की नजरों में आते हो, तो चयनकर्ता भी आप पर ध्यान देने लगेंगे, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि यह जीवन और मरण की स्थिति है। इसका कतई यह मतलब नहीं है कि अगर आपका दौरा अच्छा नहीं गया, आप प्रदर्शन नहीं कर पाए या अगर आपका दौरा अच्छा होता है तो ऐसा नहीं है आप खुद ब खुद टीम में चुन लिए जाओगे।
द्रविड़ ने टीम की रणनीति पर कहा कि इस पर टीम मैनेजमेंट के साथ बातचीत करने के बाद फाइनल किया जाएगा, जो मौजूदा समय में पांच टेस्ट की सीरीज खेलने के लिए इंग्लैंड दौरे पर है। श्रीलंका में टी20 सीरीज भारतीय टीम की टी20 विश्व कप से पहले एक मात्र टी20 सीरीज है। इसके अलावा, ज्यादातर खिलाड़ी यूएई में होने वाले आईपीएल 2021 के बचे मुकाबलों में खेलेंगे।
द्रविड़ ने कहा कि टी20 विश्व कप से पहले यही मुकाबले हैं और मुझे पूरी उम्मीद है चयनकर्ता और टीम मैनेजमेंट के पास एक संतुलित और बेहतरीन टीम बनाने का पूरा आइडिया है। यहां कुछ खिलाड़ियों के लिए मौका है, जो एक या दो स्थान के लिए टीम में सटीक बैठ सकते हैं। मैंने इंग्लैंड में मौजूद टीम मैनेजमेंट के साथ थोड़ी बहुत बातचीत की थी, लेकिन मैं उन्हें डब्ल्यूटीसी के दौरान परेशान नहीं करना चाहता था, लेकिन अगले कुछ सप्ताह में मैं उनके साथ बातचीत जारी रखूंगा।
जब द्रविड़ से मल्टी फॉर्मेट व्यवस्था पर बात की, जहां पर भारत दो टीमों के दल के साथ टेस्ट सीरीज भी खेलेगा और दूसरी ओर सफेद गेंद की सीरीज भी। इस पर द्रविड़ ने कहा कि महामारी के दौर में ऐसा करना बेहद ही स्वभाविक है।
द्रविड़ ने कहा कि क्वारंटीन और अन्य नियमों के ​कारण यह बहुत अलग स्थिति है। इस स्थिति में यह अंदाजा लगाना मुश्किल है कि आगे क्या होगा। महीने दर महीने भी मुश्किल है। क्वारंटीन के नियम और यात्रा प्रतिबंधों के चलते कम समय के लिए ही यह प्लान आपको दौरा करने और व्यवस्था करने का समय देता है।
द्रविड़ ने कहा कि भारत के पास इस दौरे को करने का कोई अन्य विकल्प नहीं था। मैं पूरी तरह से पक्का नहीं हूं कि क्या यह प्लान लंबे समय तक रहेगा, क्योंकि इसमें काफी स्टेकहोल्डर्स शामिल होते हैं, दूसरे बोर्ड, ब्रॉडकास्टर्स, स्पांसर्स, मीडिया राइटस भी शामिल होते हैं। छोटे समय के लिए यह प्लान दबाव हटाता है, वही टीम के साथ, प्रतिबंधों को झेलते हुए सभी प्रारुपों को खेलना मुश्किल हो रहा है। तो हां, छोटे समय के लिए यह अच्छा प्लान है लेकिन लंबे समय के लिए इस पर और चर्चा की जरूरत है।
धवन के नेतृत्व मं भारतीय टीम सोमवार की सुबह कोलंबो पहुंच जाएगी, जहां टीम तीन दिनों के सख्त क्वारंटीन में रहेगी। इसके बाद ही वह श्रीलंका क्रिकेट की गाइडलाइंस के मुताबिक ट्रेनिंग शुरू कर सकती है। दौरे की शुरुआत वनडे सीरीज (13, 16 और 18 जुलाई) से होगी, इसके बाद तीन टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच (21, 23 और 25 जुलाई) खेले जाएंगे, सभी मैच कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में होंगे।

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में एसोसिएट सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।