मैच (17)
MLC (3)
ZIM v IND (1)
LPL (2)
TNPL (1)
T20 Blast (7)
RHF Trophy (3)
ख़बरें

रोहित ने बताया कि कैसे वह सेंट लूशिया की तेज़ हवा से निपटे

रोहित ने ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ बनाए केवल 41 गेंदों में 92 रन

ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ हुए T20 वर्ल्ड कप 2024 के सुपर 8 मैच में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा की कड़ी परीक्षा ली जानी थी, लेकिन रोहित ने इसका उलटा कर दिया। सेंट लूशिया में तेज़ हवा चल रही थी और ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज़ इसका उपयोग करके रोहित को परेशानी में डालना चाहते थे, लेकिन रोहित ने बताया है कि उन्होंने चतुराई लगाते हुए मैदान का हर कोना अपने लिए खोल रखा था। रोहित ने 41 गेंदों में सात चौके और आठ छक्कों की मदद से 92 रनों की पारी खेली।
प्लेयर ऑफ़ द मैच बनने के बाद रोहित ने ब्रॉडकास्टर्स ने कहा, "मैंने पहले ओवर से ही मन बना लिया था और काफ़ी तेज़ हवा भी चल रही थी। हालांकि, उन्होंने अपनी रणनीति में बदलाव करते हुए हवा के ख़िलाफ़ गेंदबाज़ी करनी शुरू कर दी थी। इसी कारण मुझे मैदान का दूसरा हिस्सा भी खोलना पड़ा। जब हम खेलते हैं तो हमें चतुराई दिखानी होगी। मैं ऐसा करने के लिए तैयार था।"
रोहित ने यह भी समझाया कि जब परिस्थितियां कठिन हों तब आपको केवल एक ही दिशा में खेलने को नहीं देखना चाहिए।
उन्होंने कहा, "आपको समझना होगा कि गेंदबाज़ भी चतुर हैं। वे हवा की ओर गेंदबाज़ी नहीं करने वाले हैं। आपको मैदान का हर कोना खुला रखना होगा और केवल एक दिशा में खेलने को नहीं देखना होगा। यही बात मेरे दिमाग़ में चल रही थी। मैं हर संभव क्षेत्र में गेंद को मारने के लिए देख रहा था। जब आप केवल एक ही शॉट खेलने के लिए नहीं देखते हैं तो आप मैदान के किसी भी कोने में शॉट खेल सकते हैं। मैं यही करने की कोशिश कर रहा था।"
विराट कोहली पांच गेंदों में खाता खोले बिना आउट हो गए थे और भारत ने पहले दो ओवर में केवल छह रन बनाए थे। रोहित ने तीसरे ओवर में मिचेल स्टार्क के ख़िलाफ़ चार छक्कों की बदौलत कुल 29 रन बटोरे। उन्होंने दो छक्के कवर्स के ऊपर से, एक मिडविकेट और एक शॉर्ट थर्ड के ऊपर से लगाया।
उन्होंने कहा, "विकेट अच्छा था। जब आप अच्छी विकेट देखते हैं तो एक बल्लेबाज़ के रूप में इस तरह के शॉट खेलने के लिए ख़ुद को तैयार रखते हैं। मैं कई सालों से ऐसा करने की कोशिश कर रहा हूं। मैं खुश हूं कि आज़ यह अच्छे से हो पाया।"
पिछली बार भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से किसी ग्लोबल टूर्नामेंट में वनडे विश्व कप में फ़ाइनल में हुआ था। उस समय ऑस्ट्रेलिया ने छह विकेट से भारत को हराते हुए ख़िताब जीता था, लेकिन इस बार भारत से हार के कारण उन्हें टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा है।
रोहित ने कहा, "यह काफ़ी सुखद है और ख़ास तौर पर तब जब आप ऐसा खेलते हैं। हम विपक्षी टीम को और उनके द्वारा पैदा किए जाने वाले खतरे को अच्छे से जानते हैं। मुझे लगता है कि एक टीम के रूप में हम काफ़ी अच्छा खेले। हम वो चीज़ें करते रहे जो हमसे उम्मीद थी और हम जो करना अच्छा से जानते हैं। ऐसे मैच से हमारा आत्मविश्वास काफ़ी बढ़ेगा।"