मैच (9)
SL v AFG (1)
PSL 2024 (3)
NZ v AUS (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
CWC Play-off (3)
फ़ीचर्स

वनडे सीरीज़ में किसे मिलेगी जगह और किसे करना होगा इंतज़ार?

वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ होने वाली तीन मैच की वनडे सीरीज़ में भारतीय टीम संयोजन पर एक नज़र

कुछ इसी तरह के दल के साथ पिछले साल श्रीलंका गई थी भारतीय टीम  •  Sri Lanka Cricket

कुछ इसी तरह के दल के साथ पिछले साल श्रीलंका गई थी भारतीय टीम  •  Sri Lanka Cricket

वेस्टइंडीज़ में होने वाली वनडे सीरीज़ में भारत की एक नई टीम होगी, यहां तक कि बेन स्टोक्स के 50 ओवर प्रारूप से संन्यास लेने के बाद सभी प्रारूप खेलने वाले बड़े खिलाड़ियों के इस प्रारूप से हटने पर चर्चा भी चल रही हैं।
भारत के पांच वरिष्ठ खिलाड़ी रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, हार्दिक पंड्या, जसप्रीत बुमराह और विराट कोहली को आराम दिया गया है, जिससे दूसरे खिलाड़ियों के पास मौक़ा है। पिछले साल जुलाई में श्रीलंका में भी ऐसे हालात में कप्तानी करने वाले शिखर धवन और कोच राहुल द्रविड़ के सामने शुक्रवार से शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज़ से पहले कई सवाल होंगे।
धवन के साथ कौन ओपन करेगा?
इशान किशन को बैकअप विकेटकीपर और ओपनर के तौर पर आगे बढ़ाया गया है। इंग्लैंड के ख़िलाफ़ दूसरे और तीसरे टी20 में पंत के ओपन करने की वजह से उन्होंने बेंच पर समय बिताया था। वहीं वनडे सीरीज़ में रोहित और धवन ने ओपनिंग की थी। रोहित और पंत को आराम दिया गया है तो किशन ओपनिंग की रेस में आगे हैं। हालांकि इसका मतलब होगा कि दो बाएं हाथ के ओपनर होंगे। अगर भारत बाएं और दाएं संयोजन के साथ जाता है तो ऋतुराज गायकवाड़ या शुभमन गिल में से कोई एक ओपनर हो सकता है।
अभी तक वनडे मैच नहीं खेलने वाले गायकवाड़ के इस प्रारूप में घरेलू आंकड़ें बेहतरीन है। 64 लिस्ट ए मैचों में उन्होंने 54.73 की औसत और 100.09 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। हाल ही में 2021 के अंत में उन्होंने विजय हज़ारे ट्रॉफ़ी में महाराष्ट्र के लिए पांच मैचों में 603 रन जड़ दिए थे। उन्होंने चार शतक भी लगाए थे और 112.94 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे।
मध्य क्रम कैसा दिखेगा?
सूर्यकुमार यादव अपनी जगह बनाने में क़ामयाब रहेंगे, जिससे श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन, दीपक हुड्डा और गिल के पास पिच और टीम संयोजन को देखते हुए दो या तीन स्थान होंगे।
अय्यर को लंबे समय तक नंबर चार के तौर पर देख जा रहा था लेकिन पिछले साल लगी कंधे की चोट की वजह से वह क़रीब छह महीने तक क्रिकेट से दूर हो गए थे। इस दौरान सूर्यकुमार ने सफ़ेद गेंद प्रारूपों में मध्य क्रम में जगह बनानी शुरू कर दी थी। अब क्योंकि कोहली को आराम दिया गया है तो माना जा रहा है कि उन्हें नंबर तीन स्थान मिल सकता है लेकिन सैमसन और गिल भी जगह बनाने के बेहद ही क़रीब हैं।
गिल को वनडे में पहला मौक़ा 18 महीने पहले मिला था। उन्होंने जनवरी 2019 में न्यूज़ीलैंड में डेब्यू किया था, लेकिन तीसरा मैच खेलने के लिए उन्हें दिसंबर 2020 तक इंतज़ार करना पड़ा। तब से अब तक वह टेस्ट ओपनर के तौर पर खेले हैं। हाल ही में आईपीएल 2022 में गिल ख़िताब जीतने वाली गुजरात टाइटंस में शामिल थे जहां उन्होंने 16 पारियों में 132.32 के स्ट्राइक रेट से 483 रन बनाए थे।
सैमसन ने अभी तक केवल एक वनडे खेला है लेकिन उनमें गेंद को मारने की बेहतरीन क्षमता है और वह ऐसा आईपीएल में एक दशक से दिखाते आए हैं। जहां तक सैमसन की बात है तो यह उनकी निरंतरता या अनिरंतरता की बात रही है।
हरफ़नमौला के विकल्प?
इस साल की शुरुआत में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ डेब्यू करने के बाद हुड्डा भारत के सफ़ेद गेंद के प्लान में शामिल रहे हैं। हालांकि उनका रोल कुछ बदल गया है। उनका यह आईपीएल सत्र बेहतरीन गया था, जहां उन्‍होंने लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए नंबर तीन पर खेलते हुए बेहतरीन प्रदर्शन किया था। वहीं इसी स्थान पर खेलते हुए उन्होंने आयरलैंड के ख़िलाफ़ अपना पहला टी20 शतक भी लगाया था। हालांकि हार्दिक और पंत को आराम दिया गया है, तो वह रवींद्र जाडेजा या अक्षर पटेल के साथ निचले क्रम पर खेल सकते हैं। हुड्डा कुछ ओवर भी ऑफ़ स्पिन से निकाल सकते हैं। वह गेंद को ज़्यादा टर्न नहीं कराते हैं लेकिन वह कुछ सटीक ओवर कर सकते हैं। उन्होंने लिस्ट ए में 218 ओवर में केवल 4.45 की इकॉनमी से रन दिए हैं।
भारत का तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण कैसा रहेगा?
टीम संयोजन और निचला क्रम पतला ना हो जाए तो भारत आठवें नंबर पर शार्दुल ठाकुर को मौक़ा देने की कोशिश करेगा। युज़वेंद्र चहल और मोहम्मद सिराज अनुभव की वजह से बाज़ी मारेंगे तो इसका मतलब है कि आख़िरी स्थान दो अनकैप्ड खिलाड़ी - अर्शदीप सिंह और आवेश ख़ान या प्रसिद्ध कृष्णा को मिल सकता है।
अर्शदीप को मांसपेशियों में खिंचाव की समस्या थी जिस वजह से वह इंग्लैंड में वनडे मैचों से बाहर रहे। ऐसे में भारत प्रसिद्ध के साथ गया लेकिन वह तीन मैचों में केवल दो ही विकेट ले सके। प्रसिद्ध और आवेश दोनों ही तेज़ गेंद करते हैं और साथ ही हार्ड लेंथ पर गेंदबाज़ी करने की क्षमता रखते हैं, जिससे उन्हें अधिक उछाल मिलता है।

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।