परिणाम
तीसरा वनडे, मैनचेस्टर, July 17, 2022, भारत का इंग्लैंड दौरा
(42.1/50 ov, T:260) 261/5

भारत की 5 विकेट से जीत, 47 गेंद बाकी

प्लेयर ऑफ़ द मैच
ऋषभ पंत, भारत
125* (113) & 2 catches
rishabh-pant
प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़
100 runs • 6 wkts
hardik-pandya
रिपोर्ट

पंत के नाबाद शतक और हार्दिक के हरफ़नमौला प्रदर्शन ने वनडे सीरीज़ भारत के नाम

2-2 से टेस्ट सीरीज़ के बराबरी पर छूटने के बाद भारत ने वनडे और टी20 सीरीज़ पर कब्ज़ा किया

भारत 261 पर 5 (पंत 125*, हार्दिक 77) ने इंग्लैंड 259 (बटलर 60, रॉय 41, हार्दिक 4-24, चहल 3-60) को पांच विकेट से हराया
इंग्लैंड को 46 ओवरों में समेटने के लिए हार्दिक पंड्या द्वारा लिए गए चार विकेटों के बाद पिछले मैच में छह विकेट लेने वाले रीस टॉप्ली ने भारत के शीर्ष क्रम का शिकार किया। इसके बाद हार्दिक ने बेहतरीन गेंदबाज़ी को बेहतरीन बल्लेबाज़ी में तब्दील करते हुए एक महत्वपूर्ण अर्धशतक जड़ा और शतकवीर ऋषभ पंत के साथ शतकीय साझेदारी निभाकर भारत को पांच विकेट से जीत दिलाई। इस जीत के साथ भारत ने 2-1 से वनडे सीरीज़ अपने नाम की।
हार्दिक के साथ 133 रनों की साझेदारी के बाद पंत 125 रन बनाकर नाबाद रहे। पीठ की चोट के चलते एक साल में पहली वनडे सीरीज़ खेल रहे हार्दिक ने 24 रन देकर चार विकेट अपने नाम किए जो वनडे क्रिकेट में गेंद के साथ उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। ऐसा करते हुए वह 2011 विश्व कप में युवराज सिंह के बाद एक वनडे मैच में अर्धशतक बनाने के साथ-साथ चार विकेट लेने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने।
72 के स्कोर पर चौथा विकेट गंवाने के बाद यह जोड़ी साथ आई। टॉप्ली ने अपनी सातवीं गेंद पर शिखर धवन को ड्राइव लगाने के प्रयास में प्वाइंट पर जेसन रॉय के हाथों कैच करवाया। रोहित शर्मा, टॉप्ली के अगले ओवर में चलते बने जब ऑफ़ स्टंप से बाहर जाती गेंद पर उन्होंने बल्ले के बाहरी किनारे के चलते जो रूट को स्लिप में कैच थमाया।
विराट कोहली ने डेविड विली के विरुद्ध तीन चौके लगाकर हालिया समय में ख़राब फ़ॉर्म की बातों के बंधन को तोड़ने के संकेत दिखाए। हालांकि टॉप्ली ने ऑफ़ स्टंप से बाहर जाती लेंथ गेंद डाली जिसने बल्ले को चूमा और कीपर के पास चली गई। 17 रन बनाकर कोहली आउट हुए और भारत का स्कोर तीन विकेट पर 38 रन था।
पावरप्ले के अंत तक भारत ने इस स्कोर में केवल पांच रन जोड़े। हालांकि अगले 10 ओवरों में पंत और हार्दिक की बदौलत टीम ने रन गति को बढ़ाया। इस दौरान क्रेग ओवर्टन ने 16 के स्कोर पर सूर्यकुमार यादव को कैच करवाया था। 18 के निजी स्कोर पर पंत को जीवनदान मिला जब जॉस बटलर, मोईन अली की ऑफ़ ब्रेक गेंद पर स्टंपिंग का मौक़ा गंवा बैठे। पंत क्रीज़ से काफ़ी बाहर निकल आए थे और इस ग़लती ने उन्हें बल्लेबाज़ी जारी रखने का अवसर दिया।
25वें ओवर में टॉप्ली गेंदबाज़ी पर वापस आए लेकिन तब तक पंत और हार्दिक पूरी तरह से सेट हो चुके थे और उनके दो ओवरों में 20 रन बने। हार्दिक ने लियम लिविंगस्टन की लेग ब्रेक गेंद को लॉन्ग ऑफ़ की दिशा में पंच करते हुए सिंगल के साथ अपना अर्धशतक पूरा किया। थोड़ी देर बाद पंत ने बेन स्टोक्स की गेंद को लॉन्ग ऑफ़ पर चौके के लिए भेजकर अपना पचासा पूरा किया। यहां से दोनों बल्लेबाज़ों ने आज़ादी के साथ बल्लेबाज़ी की और इंग्लैंड को घुटने टेकने पर मजबूर किया।
ब्राइडन कार्स ने आख़िरकार हार्दिक को आउट करते हुए इस साझेदारी को तोड़ा। दो चौके लगाने के बाद लेग साइड पर एक और बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में हार्दिक मिडविकेट पर स्टोक्स को कैच दे बैठे। हालांकि पंत ने संयम के साथ पारी को आगे बढ़ाया। विली की गेंद को वाइड लॉन्ग ऑन सीमा रेखा के बाहर भेजकर उन्होंने 90 रन पूरे किए और फिर डीप स्क्वेयर लेग पर सिंगल लेकर वनडे करियर का अपना पहला शतक जड़ा। अब भारत को जीत के लिए 55 गेंदों पर 24 रनों की आवश्यकता थी।
इसके बाद पंत ने विली को लगातार पांच चौके लगाकर मैच को अपने अंजाम तक पहुंचाया। अंतिम गेंद पर सिंगल लेकर उन्होंने स्ट्राइक अपने पास रखी और अगले ओवर में रूट को रिवर्स स्वीप लगाकर भारत को जीत दिलाई।
दिन की शुरुआत में भारतीय कप्तान रोहित ने बल्लेबाज़ी के लिए अनुकूल लग रही पिच पर पहले गेंदबाज़ी करने के निर्णय से सभी को चौंकाया था। पिछले मैच में उनकी टीम 247 के लक्ष्य का पीछा करते हुए 100 रनों से हारी थी।
हालांकि यह चोटिल जसप्रीत बुमराह की जगह मोहम्मद सिराज को खिलाने की तरह एक निडर निर्णय था। सिराज ने डबल विकेट मेडन ओवर के साथ शुरुआत की और दो ओवरों के बाद इंग्लैंड का स्कोर था 12 रन पर दो विकेट। यह 12 रन रॉय के बल्ले से निकले थे जब पहले ओवर में उन्होंने मोहम्मद शमी को तीन चौके जड़े थे। अपने स्पेल की तीसरी गेंद पर सिराज ने जॉनी बेयरस्टो और उसके बाद ओवर की अंतिम गेंद पर रूट को डक आउट किया।
हार्दिक 10वें ओवर में सिराज की जगह गेंदबाज़ी करने आए और उन्होंने 41 के स्कोर पर खेल रहे रॉय को कैच आउट करवाकर तुरंत अपनी छाप छोड़ी। इसके बाद उन्होंने चहलक़दमी कर रहे स्टोक्स को छोटी गेंद पर कैच आउट किया तब तीन ओवरों में उनके नाम दो रन देकर दो सफलताएं थी।
बटलर और मोईन को दोनों छोर संभालकर रखना पड़ा और इस वजह से अगली 22 गेंदों पर उन्होंने केवल आठ रन बनाए। जब सिराज दोबारा गेंदबाज़ी करने आए तब उनकी गेंद दो बार बटलर के हेलमेट पर जा लगी।
सिराज ने अगले ओवर में एक और बाउंसर डालने का प्रयास किया लेकिन गेंद को इतना उछाल मिला नहीं और बटलर उसके लिए तैयार थे। डीप स्क्वेयर लेग पर सीमा रेखा पार उसे भेजकर बटलर ने अपनी मंशा साफ़ कर दी। मोईन ने सिराज के विरुद्ध दो चौके और एक छक्का लगाकर 2000 वनडे रन पूरे किए।
रवींद्र जाडेजा ने 75 रनों की इस साझेदारी को तोड़ा जब दिन की अपनी दूसरी ही गेंद पर उन्होंने मोईन को पंत के हाथों कैच करवाया। मोईन स्पिन हो रही गेंद को स्वीप करना चाहते थे और गेंद बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर पंत के पास गई।
हेलमेट पर लगी उन गेंदों का बटलर पर कोई असर नहीं हुआ जिन्होंने डीप एक्स्ट्रा कवर पर सिंगल लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया। इसके बाद हार्दिक और जाडेजा की जोड़ी ने एक ओवर में दो शिकार करते हुए इंग्लैंड को 199 पर सात की स्थिति में ला खड़ा किया। 27 रनों की पारी में चौके और छक्के लगाने वाले लिविंगस्टन, हार्दिक की छोटी गेंद को पुल करने के प्रयास में डीप बैकवर्ड स्क्वेयर लेग पर लपके गए।
तीन गेंदों बाद बटलर एक और छोटी गेंद को डीप मिडविकेट की दिशा में मारने की कोशिश में आउट हुए जब जाडेजा ने डीप स्क्वेयर लेग से बायीं तरफ़ भागकर लंबी डाइव लगाई और गेंद को लपक लिया।
60 रन बनाकर बटलर अपनी टीम के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ साबित हुए जिसके बाद युज़वेंद्र चहल ने निचले क्रम को साफ़ कर दिया। मेज़बान टीम ने मात्र 14 गेंदों के भीतर अपनी अंतिम तीन विकेट गंवाई।

वैल्केरी बेंस ESPNcricinfo में जनरल एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।

Language
English
Hindi
मैच कवरेज
AskESPNcricinfo Logo
Instant answers to T20 questions
भारत पारी
<1 / 3>