मैच (11)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
बीबीएल (1)
एसए20 (1)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
ख़बरें

अभी से ही वनडे विश्व कप के बारे में नहीं सोचना चाहते हैं रोहित शर्मा

भारतीय कप्तान ने कहा है कि हम बस इस बात को ध्यान में रख रहे हैं कि एक टीम के तौर पर हमें क्या करने की ज़रूरत हैं

आईसीसी के भविष्य के कार्यक्रमों के हिसाब से भारत को वनडे विश्व कप से पहले अभी छह द्विपक्षीय सीरीज़ खेलना है। उसी कार्यक्रम के तहत भारत और बांग्लादेश के बीच रविवार को वनडे सीरीज़ की शुरुआत हो रही है। साथ ही विश्व कप की तैयारी के लिए भारत के पास एशिया कप भी है।
भारतीय टीम के कई खिलाड़ी पहली बार बांग्लादेश गए हैं। भारत लगातार अपने बेंच स्ट्रेंथ को मज़बूत करने का प्रयास कर रहा है। हालांकि भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा का कहना है कि अभी वह सिर्फ़ वर्तमान पर फ़ोकस करना चाह रहे हैं।
रोहित ने कहा, "हर बार जब आप एक मैच खेलते हैं तो वह कहीं न कहीं भविष्य में आने वाली किसी सीरीज़ की तैयारी के जैसा होता है। हालांकि विश्व कप अभी भी आठ से नौ महीने दूर है। हम बहुत आगे के बारे में नहीं सोच सकते। हालांकि हम यह ज़रूर ध्यान रखेंगे कि एक टीम के तौर पर हम क्या-क्या कर सकते हैं।"
उन्होंने आगे कहा, "मेरा मानना ​​है कि हमारे लिए यह बहुत ज़रूरी है कि हम बहुत सारी चीज़ों के बारे में अभी से ही सोचना न शुरू कर दें। विश्व कप, टीम संयोजन, खिलाड़ी आदि के बारे में अभी से सोचने की ज़रूरत नहीं है। मेरे और कोच (राहुल द्रविड़) के पास एक स्पष्ट सोच है कि हम क्या करना चाहते हैं। जब हम विश्व कप के क़रीब होंगे तो हम अपने योजनाओं को और स्पष्टता के साथ लागू करेंगे। हालांकि अभी के लिए हम विश्व कप तक अच्छी क्रिकेट खेलना चाहते हैं।"
एक आगामी वैश्विक टूर्नामेंट से पहले क्रिकेट के बदलते प्रारूप और व्यस्त क्रिकेट कार्यक्रम एक चुनौती की तरह है, जो प्रत्येक श्रृंखला के लिए सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों की उपलब्धता सुनिश्चित करना मुश्किल बना देता है।
खिलाड़ियों की ताज़गी भी महत्वपूर्ण है। विश्व कप से पहले से ही बहुत सारे खिलाड़ी लगातार खेल रहे हैं। हमने ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ घर में दो श्रृंखलाएं खेलीं, फिर हम वहां से सीधे विश्व कप के लिए गए। उसके बाद हमारी टीम न्यूज़ीलैंड गई।
रोहित शर्मा
अंतिम बार भारत ने अपनी पूरी टीम के साथ इंग्लैंड में वनडे सीरीज़ खेला था। जहां टीम में सभी वरिष्ठ और महत्वपूर्ण खिलाड़ी मौजूद थे। उसके बाद से भारत ने वेस्टइंडीज़, साउथ अफ़्रीका, ज़िम्बाब्वे और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ खेली है। हालांकि भारत इनमें से किसी भी सीरीज़ में अपने पहली पसंद के वनडे खिलाड़ियों के साथ मैदान पर नहीं उतरा है। बांग्लादेश के दौरे पर भारत क़रीब-क़रीब अपने पहले दर्जे की टीम के साथ मैदान पर उतरेगा। इसमें केवल सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या और युजवेंद्र चहल की कमी है। उन्हें आराम दिया गया है और जसप्रीत बुमराह, रवींद्र जाडेजा और मोहम्मद शमी टीम में नहीं हैं क्योंकि वह चोटिल हैं।
रोहित ने कहा, "लोगों को कभी-कभी यह समझने की ज़रूरत है कि हम खिलाड़ियों को आराम देते हैं। यह केवल बड़ी तस्वीर को ध्यान में रखते हुए कार्यभार का प्रबंधन करने के लिए किया जाता है। क्रिकेट रुकने वाला नहीं है। बहुत सारी क्रिकेट लगातार खेली जा रही है। हालांकि हमें खु़द को और अपने खिलाड़ियों को संभालना होगा। आप चाहते हैं कि आपके सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हर समय और उच्च तीव्रता के साथ खेलें तो उनके कार्य को प्रबंधित करना महत्वपूर्ण है।"
इस संदर्भ में रोहित ने आगे कहा, "खिलाड़ियों की ताज़गी भी महत्वपूर्ण है। विश्व कप से पहले से ही बहुत सारे खिलाड़ी लगातार खेल रहे हैं। हमने ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ घर में दो श्रृंखलाएं खेलीं, फिर हम वहां से सीधे विश्व कप के लिए गए। उसके बाद हमारी टीम न्यूज़ीलैंड गई।"

हिंमांशु अग्रवाल ESPNcricinfo के सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।