मैच (6)
द हंड्रेड (पुरुष) (1)
IRE v AFG (1)
महाराजा टी20 (2)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
ज़िम्बाब्वे में बांग्लादेश (1)
ख़बरें

मैं हमेशा पीली जर्सी पहन कर खेलना चाहता हूं: दीपक चाहर

"मुझे पता था कि सीएसके मेरे लिए बोली लगाएगी"

Deepak Chahar trapped Quinton de Kock in the powerplay, Chennai Super Kings vs Mumbai Indians, IPL 2021, Dubai, September 19, 2021

चाहर ने कहा, "मैंने इन सब के बारे में माही भाई या सीएसके प्रबंधन से कभी बात नहीं की।"  •  BCCI

चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के द्वारा 14 करोड़ रुपये में खरीदे जाने के एक दिन बाद दीपक चाहर ने कहा है कि उन्हें हमेशा से पता था कि वह सीएसके की टीम में ही जाएंगे। ज्ञात हो कि आईपीएल 2022 की नीलामी में दीपक अब तक के दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी है। दीपक को सीएसके ने रिटेन नहीं किया था। इसके बावजूद दीपक को भरोसा था कि उनके लिए सीएसके की टीम बड़ी बोली लगाएगी।
उन्होंने रविवार को स्टार स्पोर्ट्स को बताया कि 2018 में फ़्रेंचाइज़ी के मालिक एन श्रीनिवासन ने उन्हें बताया था कि दीपक का सीएसके के साथ एक लंबा जुड़ाव होगा। उसके बाद से दीपक ने कभी भी अपनी फ़्रेंचाइज़ी के मालिकों से रिटेंशन या फिर से ख़रीदे जाने के बारे में बात नही की है।
उन्होंने यह भी कहा कि वह किसी अन्य फ़्रेंचाइज़ी के लिए खेलने की "कल्पना नहीं कर सकते", और अगर उन्हें थोड़ा कम पैसा मिलता तब भी ठीक था। अगर ऐसा होता तो सीएसके को अन्य खिलाड़ियों के ख़रीदारी करने के लिए टीम के पास अच्छी-ख़ासी रक़म बची हुई होती।
चाहर ने कहा, "मैंने इन सब के बारे में माही भाई या सीएसके प्रबंधन से कभी बात नहीं की।" "2018 में मैं श्रीनिवासन सर से मिला था, और उन्होंने कहा है, 'आप हमेशा पीले रंग में खेलेंगे।' इसलिए मैंने उस दिन उनकी बात मान ली और तब से मैंने कभी रिटेन करने की बात नहीं की। मुझे पता था कि सीएसके मेरे लिए बोली लगाएगी।
चाहर ने कहा, "हम भारतीय टी20 टीम के साथ अहमदाबाद से कोलकाता जा रहे थे और पूरी टीम नीलामी देख रही थी। हर कोई कह रहा था कितना हो गया ?" "मैं सीएसके के लिए खेलना चाहता था क्योंकि मैंने कभी भी पीले रंग की जर्सी के अलावा और किसी भी रंग की जर्सी में खेलने की कल्पना नहीं की थी।" एक समय, मुझे लगा कि यह रक़म बहुत अधिक था। सीएसके खिलाड़ी के रूप में, मैं भी एक अच्छी टीम बनाना चाहता हूं। इसलिए जब बोली 13 करोड़ तक गई तो मैं चाह रहा था कि यब सब जल्दी से जल्दी खत्म हो जाए और मैं सीएसके की टीम में शामिल हो जाऊं। ऐसा होने पर अन्य खिलाड़ियों को ख़रीदने में सक्षम हो सकेंगे।"
वह लगातार पांचवें सीज़न में सीएसके का प्रतिनिधित्व करेंगे। आईपीएल 2018 से पहले उन्हें सीएसके ने 80 लाख रुपये में ख़रीदा था। इससे पहले कुछ सीएसके कर्मियों के साथ उनका जुड़ाव राइजिंग पुणे सुपरजायंट फ़्रेंचाइज़ी में भी था, जहां उन्होंने एमएस धोनी और वर्तमान सुपर किंग्स के कोच स्टीफ़न फ्लेमिंग के साथ 2016 और 2017 के बीच खेला था।
चाहर ने यह भी कहा कि पिछले सीज़न में सीएसके लाइन में निचले क्रम में बल्लेबाज़ी करने के बावजूद, उन्हें आगामी आईपीएल संस्करण में और अधिक रन बनाने की उम्मीद है। पिछले 12 महीनों में उन्होंने भारत की एकदिवसीय टीम के लिए बल्ले के साथ अपनी उपयोगिता दिखाई है, कोलंबो में नाबाद 69 रन की पारी की बदौलत उन्होंने टीम को जीत दिलाई थी। पिछले महीने साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ भी उन्होंने 54 रन बनाए थे और पिछले सप्ताह अहमदाबाद में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ महत्वपूर्ण 38 रन बनाए थे।
हालांकि चाहर को एक पछतावा है, और वह यह है कि उनके चचेरे भाई राहुल चाहर उनके साथ एक ही टीम में नहीं खेल पाएंगे। भले ही सुपर किंग्स ने राहुल के लिए कोई बोली नहीं लगाई, लेकिन दीपक को उम्मीद थी कि भविष्य में उनके भाई उनके साथ एक ही टीम में होंगे। दोनों ने पुणे में ड्रेसिंग रूम साझा किया था, लेकिन कभी एक साथ नहीं खेले।
"पुणे में मैंने अपना पहला गेम खेला था, उसने वहां दूसरा मैच खेला था, फिर मैंने मैच तीसरा खेला और उसने चौथा मैच खेला था, लेकिन हम कभी एक साथ नहीं खेले। मैं सोच रहा था कि इस नीलामी के बाद हम एक साथ खेल सकते हैं। मैं राहुस से पुछूंगा अगर वह अगले साल हमारी टीम में आना चाहे (हंसते हुए)!"

श्रेष्ठ शाह ESPNcricinfo के सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।