मैच (13)
AFG v IRE (1)
NZ v AUS (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
Nepal Tri-Nation (1)
BPL 2023 (1)
WPL (1)
Sheffield Shield (3)
QAT v HKG (1)
CWC Play-off (3)
ख़बरें

विराट के 100वें मैच को विशेष बनाना चाहते हैं रोहित

नए कप्तान को टेस्ट टीम के नए सदस्यों से बड़ी उम्मीदें

भारतीय टेस्ट क्रिकेट अब बदल रहा है। टीम का कप्तान नया है और अनुभव में भी लगभग 300 मैचों की कमी आई है। दो नए बल्लेबाज़ नंबर तीन और नंबर पांच के महत्वपूर्ण स्थानों पर खेलेंगे, जिस पर लगभग 2012 से ही दो बेहतरीन बल्लेबाज़ों का कब्ज़ा था।
मैच से पहले प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कप्तान रोहित शर्मा ने विराट कोहली के 100वें मैच की चर्चा की और कहा कि यह उनके लिए अब तक एक शानदार यात्रा रही है। "उन्होंने इस फ़ॉर्मेट में विशेष रूप से काफ़ी अच्छी बल्लेबाज़ी की है। उनके आने से टीम की सोच में महत्वपूर्ण बदलाव हुए हैं और टीम आगे बढ़ी है। उनको खेलते देखना अपने आप में सुखद है। यह यात्रा आगे आने वाले वर्षों में भी जारी रहेगी। हम उनके लिए इस मैच को विशेष बनाना चाहते हैं।"
2018-19 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर विराट की कप्तानी में जीत और 2013 में जोहैनसबर्ग में विराट का शतक रोहित के लिए दो यादगार पल हैं।
टीम के संतुलन के बारे में रोहित ने कहा, "हम अधिक से अधिक मैच जीतने के लिए सोच रहे हैं, इसके लिए हमें सही टीम संतुलन के साथ मैदान में उतरना होगा। पिछले पांच सालों में हमने शानदार टेस्ट क्रिकेट खेला है और इसका पूरा श्रेय विराट को जाता है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट के लिए जो किया है, वह शानदार है। मुझे उनकी इस यात्रा को आगे बढ़ाना है। हम मैच दर मैच अपने प्रदर्शन में सुधार लाने की भी कोशिश करेंगे ताकि टीम उसी गति से आगे बढ़ सके, जहां विराट ने उसे छोड़ा है।"
चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे की अनुपस्थिति पर रोहित ने कहा, "उनकी जगह को भरना किसी भी युवा बल्लेबाज़ के लिए आसान नहीं होगा। मुझे अभी यह भी नहीं पता कि उनकी जगह कौन लेने वाला है। उन्होंने टीम के लिए जो भी किया है, उसे शब्दों में बयां कर पाना मुश्किल है। उन्होंने 80-90 टेस्ट मैच खेले हैं, भारत को विदेश में जीत दिलाई है और टीम इंडिया को शीर्ष तक पहुंचाया है। वे अभी टीम से बाहर हैं लेकिन निश्चित रूप से वे हमारी भविष्य की योजनाओं का हिस्सा होंगे। चयनकर्ताओं ने भी यही कहा है।"
हालांकि युवा खिलाड़ियों को लेकर रोहित शर्मा उत्साहित भी हैं। उन्होंने कहा, "पुजारा और रहाणे की जगह जो भी खिलाड़ी लेने जा रहे हैं, उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट और इंडिया ए के दौरों पर शानदार प्रदर्शन किया है। इसके अलावा मौक़ा मिलने पर उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भी अच्छा खेल दिखाया है। हमें इन खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाने और समर्थन करने की ज़रूरत है। एक समय के बाद हमें आगे देखना होता है और इन खिलाड़ियों ने टेस्ट में अपनी जगह के लिए बहुत इंतज़ार किया है। मैं उन्हें अब कुछ सालों तक टीम इंडिया में लगातार खेलते और अच्छा प्रदर्शन करते हुए देखना चाहता हूं।"
उन्होंने कहा कि एक कप्तान के रूप में उनका कोई व्यक्तिगत लक्ष्य नहीं है बल्कि वह टीम के जीत को ही अपना लक्ष्य मान कर चल रहे हैं।

सिद्धार्थ मोंगा ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं, अनुवाद ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो हिंदी के दया सागर ने किया है