मैच (12)
T20 वर्ल्ड कप (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
SL vs WI [W] (1)
फ़ीचर्स

एक विकेट से जीत और कुछ मजेदार आंकड़े

200 रन के कम का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज़ ने कभी हार का सामना नहीं किया है

Kemar Roach and Jermaine Blackwood, heroes of West Indies' triumph, enjoy the winning moment, West Indies vs Pakistan, 1st Test, Kingston, 4th day, August 15, 2021

जीत दर्ज करने के बाद केमार रोच और साथ में ब्लैकवुड  •  AFP/Getty Images

15- टेस्ट क्रिकेट में सिर्फ 15वीं बार हुआ, जब किसी टीम ने एक विकेट से जीत दर्ज की है। इसमें दो बार ऐसा मैच वेस्टइंडीज़ और पाकिस्तान के बीच ही हुआ है और दोनों बार वेस्टइंडीज़ ने ही जीत दर्ज की है। इससे पहले 2000 में एंटीगा में वेस्टइंडीज़ ने पाकिस्तान को एक विकेट से हराया था।
5- 5वीं बार ऐसा हुआ है, जब वेस्टइंडीज़ ऐसे किसी मैच का हिस्सा बना है, जिसमें एक विकेट से जीत-हार तय हुई। इन पांच में से तीन मुक़ाबलों में वेस्टइंडीज़ ने जीत दर्ज की है। उनसे आगे अब सिर्फ इंग्लैंड है, जिन्हें चार मैचों में एक विकेट से जीत मिली है।
12- एक विकेट से जीत-हार के मुक़ाबलों में 15 में से 12 मौकों पर घरेलू टीम ने जीत दर्ज की है। इंग्लैंड ऐसी इकलौती टीम है, जिन्होंने विदेशी ज़मीन पर दो बार एक विकेट से जीत दर्ज की है। इसके अलावा 2019 में कुशल परेरा की नाबाद 153 रन की बदौलत श्रीलंका ने सॉउथ अफ़्रीका को उनकी ही सरज़मीं पर एक विकेट से हराया था।
8- 8 बार ऐसा हुआ है, जब लक्ष्य का पीछा करने उतरी विजेता टीम के अंतिम विकेट के बल्लेबाज़ों ने 17 या उससे अधिक रन की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई है। इसमें सर्वाधिक 78* रन की साझेदारी का रिकॉर्ड कुसल परेरा और विश्वा फ़र्नांडो के नाम दर्ज है, जिन्होंने 2019 में सॉउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ यह साझेदारी की थी। वहीं 2019 में ही हेडिंग्ले टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ बेन स्टोक्स और जैक लीच ने 76* जोड़ा थे।
0- 200 रन के कम का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज़ ने कभी हार का सामना नहीं किया है। ऐसे 62 मौकों पर 56 में उन्हें जीत और 6 में हार का सामना करना पड़ा है।
18- पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ों ने मैच में 18 विकेट लिए। ऐसा सिर्फ दूसरी बार हुआ है, जब तेज़ गेंदबाज़ों के 18 या उससे अधिक विकेट लेने के बावजूद पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा है।
19- 19 साल 336 दिन के जेडेन सील्स वेस्टइंडीज़ की तरफ से पारी में 5-विकेट लेने वाले सबसे युवा गेंदबाज़ बन गए हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड एल्फ़ वेलेंटाइन के नाम था, जिन्होंने 1950 में 20 साल और 41 दिन की उम्र में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 5 विकेट लिए थे।
8- वेस्टइंडीज़ के विकेटकीपर जॉशुआ डासिल्वा ने इस मैच में कुल 8 शिकार किए। यह सिर्फ 5वां मौका है, जब किसी कैरेबियन विकेटकीपर ने 8 या उससे अधिक शिकार किए हैं। इस मामले में संयुक्त रिकॉर्ड रिडले जैकब्स, डेविड मर्रे और कर्टनी ब्रॉउन के नाम है, जिनके नाम एक मैच में 9-9 शिकार दर्ज हैं।