इंग्लैंड 126-2 (रॉय 61, मलान 28*, शोरिफ़ुल 1-26) ने बांग्लादेश 124-9 (मुशफ़िकुर 29, मिल्स 3-27, लिविंगस्टन 2-15) को आठ विकेट से हराया

इंग्लैंड ने बुधवार को बांग्लादेश को आठ विकेट से मात देकर टी20 विश्व कप में अपने विजयरथ को बरक़रार रखा है। पिछले मैच की तरह इस बार भी पावरप्ले में इंग्लैंड ने अपना वर्चस्व स्थापित किया।

बांग्लादेश द्वारा नौ विकेट के नुकसान पर बनाया गया 124 रनों का स्कोर वेस्टइंडीज़ के 55 ऑलआउट से बेहतर तो था लेकिन वह भी मोईन अली और क्रिस वोक्स की जोड़ी के सामने टिक नहीं पाए। पावरप्ले में तीन-तीन ओवर फेंकने के बाद कुल मिलाकर इन दो गेंदबाज़ों ने महज़ 27 रन खर्च किए और तीन विकेट भी झटके। उन्होंने टॉस जीतकर महमुदउल्लाह के पहले बल्लेबाज़ी करने के फ़ैसले को ग़लत साबित किया।

लिटन दास ने मोईन के ख़िलाफ़ दो चौके जड़े लेकिन वह तीसरे बड़े शॉट के प्रयास में लपके गए। अगली ही गेंद पर उनके सलामी जोड़ीदार मोहम्मद नईम भी हवाई शॉट लगाने की कोशिश में मिड ऑन पर कैच आउट हुए। दूसरे छोर से वोक्स ने सटीक लाइन और लेंथ पर गेंदबाज़ी की जिसका फ़ायदा उन्हें शाकिब अल हसन की विकेट के रूप में मिला। पुल शॉट मारने गए शाकिब के बल्ले के ऊपरी भाग से लगकर गेंद गई शॉर्ट फ़ाइन लेग पर जहां आदिल रशीद ने एक लाजवाब कैच पकड़कर बांग्लादेश की मुसीबतों को बढ़ाया। इसके बाद अपना सातवां टी20 विश्व कप खेल रहे महमुदउल्लाह और मुशफ़िकुर रहीम ने पारी को संभाला लेकिन वह टीम को बड़े स्कोर तक नहीं ले जा पाए।

लिविंगस्टन की लाजवाब गेंदबाज़ी

मोईन की गेंदबाज़ी ने कप्तान ओएन मॉर्गन के लिए चीज़ें थोड़ी साफ़ कर दी। मध्य ओवरों में जब क्रिस जॉर्डन और टिमाल मिल्स की तेज़ गति का फ़ायदा उठाते हुए बांग्लादेश मैच में वापसी करने की कोशिश कर रहा था, मॉर्गन ने गेंद थमाई लियम लिविंगस्टन को। अपनी तीसरी ही गेंद पर लिविंगस्टन ने मुशफ़िकुर को विकेटों के सामने फंसाया जब वह रिवर्स स्वीप करने चले गए।

उनकी कसी हुई गेंदबाज़ी ने बांग्लादेश पर ऐसा दबाव बनाया कि अगले ओवर में अफ़िफ़ हुसैन रन आउट के ज़रिए पवेलियन लौट गए। इतना ही नहीं, नुरुल हसन भी दो बार रन आउट होते होते बच गए। उसके बाद लिविंगस्टन ने बांग्लादेश की आख़िरी उम्मीद महमुदउल्लाह को अपनी धीमी लेग ब्रेक गेंद पर फंसाकर अपना काम पूरा किया।

डेथ ओवरों में धीमी गति बनी मिल्स की साथी

बांग्लादेश को 120 से कम के स्कोर पर रोकने के प्रयास में इंग्लैंड को दिक़्क़त हुई जब डेथ ओवरों में गेंदबाज़ी कर रहे आदिल रशीद के ख़िलाफ़ नासुम अहमद ने लेग साइड का छोटी बाउंड्री का फ़ायदा उठाते हुए दो छक्के जड़े। हालांकि दूसरे छोर पर प्रमुख डेथ गेंदबाज़ मिल्स ने अपनी गति में मिश्रण करते हुए तीन सफलताएं अर्जित की।

आख़िरी ओवर में तो उन्होंने दो गेंदों पर दो विकेट लेकर अपनी विविधताओं का परिचय दिया। पहले उन्होंने एक तेज़ बाउंसर गेंद पर रिव्यू के सहारे महेदी हसन को चलता किया। वह गेंद उनके ग्लव को चूमकर विकेटकीपर के दस्तानों में जा समाई थी। इसके बाद मिल्स ने धीमी गति से कटर गेंदबाज़ी के लिए मशहूर मुस्तफ़िज़ुर रहमान को अपनी धीमी गति की यॉर्कर से क्लीन बोल्ड कर दिया।

रॉय की रोचक बल्लेबाज़ी

वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ इंग्लैंड की धमाकेदार जीत में केवल एक नकारात्मक बात थी कि उन्होंने 56 रन बनाने के लिए चार विकेट गंवा दिए थे। बांग्लादेश के ख़िलाफ़ उन्होंने उस ग़लती को नहीं दोहराया। अपना 50वां टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेल रहे जेसन रॉय ने 38 गेंदों में 61 रन बनाकर टीम की जीत सुनिश्चित की। पांच चौकों और तीन छक्कों से लैस अपनी पारी के दौरान उन्होंने पहली विकेट के लिए जॉस बटलर के साथ 39 रन जोड़े।

अपने पसंदीदा तीसरे नंबर पर बल्लेबाज़ी कर रहे डाविड मलान ने सूझबूझ से बल्लेबाज़ी की और एक छोर संभाले रखा। 25 गेंदों पर 28 रन बनाकर वह नाबाद रहे। अंत में जॉनी बेयरस्टो ने एक ताक़तवर पुल शॉट के साथ बांग्लादेश को हार का स्वाद चखाया।

ऐंड्रयू मिलर (@miller_cricket) ESPNcricinfo के यूके एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।