मैच (18)
IPL (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
USA vs CAN (1)
Women's Tri-Series (1)
Zonal Trophy [W] (1)
फ़ीचर्स

क्या ट्रॉफ़ी का सूखा ख़त्म कर पाएगी आरसीबी?

इस बार उन्होंने अनुभवी भारतीय खिलाड़ियों पर अपना दांव लगाया है

कैसा रहा 2021 का सत्र

लीग चरण में तीसरे स्थान पर रहने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को एलीमिनेटर मुक़ाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों हार मिली थी। यह लगातार दूसरा मौक़ा था जब आरसीबी ने प्लेऑफ़ में प्रवेश किया था।

सशक्त एकादश

1 फ़ाफ़ डुप्लेसी (कप्तान), 2 अनुज रावत, 3 विराट कोहली, 4 ग्लेन मैक्सवेल, 5 महिपाल लोमरोर, 6 दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), 7 वनिंदु हसरंगा, 8 हर्षल पटेल, 9 शाहबाज़ अहमद/कर्ण शर्मा, 10 मोहम्मद सिराज, 11 जॉश हेज़लवुड

उपलब्धता

नवविवाहित ग्लेन मैक्सवेल कम से कम पहले दो मैचों में नहीं खेल पाएंगे, जबकि जॉश हेज़लवुड ऑस्ट्रेलिया की प्रतिबद्धताओं के कारण पहले तीन मैचों से बाहर रहेंगे। मैक्सवेल की पावर हिटिंग की ग़ैरमौजूदगी में आरसीबी को फ़िन ऐलेन और शर्फ़ेन रदरफ़र्ड के बीच किसी एक को चुनना होगा।
जहां ऐलेन शीर्ष क्रम में आक्रामकता प्रदान करते हैं वहीं रदरफ़र्ड फ़िनिशर की भूमिका निभा सकते हैं। टी20 मैचों में ऐलेन का स्ट्राइक रेट 175.65 का है तो वहीं रदरफ़र्ड कैरेबियर प्रीमियर लीग में दूसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज़ बनकर उभरे थे।

बल्लेबाज़ी

लंबे समय से आरसीबी अपने शीर्ष क्रम पर निर्भर रही है। सीज़न दर सीज़न, बदलाव करने की प्रत्येक कोशिश में वह विफल रहे और एक ही स्थान पर बने रहे। पिछले साथ मध्य क्रम में उन्होंने केएस भरत और रजत पाटिदार को आज़माया। अबकी बार उन्हें महिपाल लोमरोर और सुयश प्रभुदेसाई से उम्मीद होगी कि वह मैक्सवेल और दिनेश कार्तिक का साथ दें।
शीर्ष क्रम में अब देवदत्त पडिक्कल नहीं होंगे। लेकिन युवा अनुज रावत के रूप में उनके पास एक प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं। क्या वह अपनी प्रतिभा को अच्छे प्रदर्शन में बदल पाएंगे? आरसीबी उन्हें कप्तान फ़ाफ़ डुप्लेसी के साथ ओपन करने का सुनहरा अवसर देने को तैयार है जिसके चलते विराट कोहली तीसरे स्थान पर ख़ुलकर बल्लेबाज़ी कर सकेंगे।

गेंदबाज़ी

रिटेन किए गए मोहम्मद सिराज और दोबारा ख़रीदे गए हर्षल पटेल गेंदबाज़ी की कमान संभालेंगे। पिछले सीज़न में सर्वाधिक 32 विकेट लेने के बाद हर्षल भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व भी कर चुके हैं। स्पिन विभाग में युज़वेंद्र चहल की ज़िम्मेदारी अब वनिंदु हसरंगा निभाएंगे। कर्ण शर्मा के रूप में टीम के पास एक भारतीय लेग स्पिन विकल्प मौजूद है।
शाहबाज़ अहमद टीम को गहराई प्रदान करते हैं तो सिद्धार्थ कौल और चामा मिलिंद के रूप में टीम के पास भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों का अच्छा बैक-अप है। कौल और मिलिंद लंबे समय से घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे हैं।

युवा खिलाड़ी जिनपर रहेगी नज़र

दिल्ली के विकेटकीपर बल्लेबाज़ अनुज के क्रिकेट करियर की शुरुआत ऋषभ पंत के साथ हुई जो अब भारत के नंबर एक विकेटकीपर बन चुके हैं। महामारी के चलते अनुज को बहुत कम क्रिकेट खेलने को मिला। हालांकि उनके लिए अच्छी बात यह है कि वह अब भी केवल 22 वर्ष के हैं और उन्हें इस टीम में ओपन करने का मौक़ा दिया जाएगा। शायद यहीं वह मौक़ा था जिसकी उन्हें तलाश थी।
प्रसिद्ध कोच चंद्रकांत पंडित द्वारा 'जूनियर गेल' उपनाम से मशहूर लोमरोर अपने मित्र पंत की तरह लंबे शॉट लगाने के लिए जाने जाते हैं। 2016 अंडर-19 विश्व कप में पंत के साथ खेलने वाले हरफ़नमौला खिलाड़ी को राजस्थान रॉयल्स बतौर बैक-अप बल्लेबाज़ देख रही थी। अब जब उन्हें आरसीबी में एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी के तौर पर देखा जा रहा है, तो वह इसे भरोसे पर खरे उतरने का पूरा प्रयार करेंगे।

कोचिंग स्टाफ़

माइक हेसन (क्रिकेट निदेशक), संजय बांगर (प्रमुख कोच), श्रीधरन श्रीराम (बल्लेबाज़ी और स्पिन गेंदबाज़ी कोच), ऐडम ग्रिफ़िथ (गेंदबाज़ी कोच), मालोलन रंगराजन (फ़ील्डिंग कोच)

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।