मैच (15)
T20 वर्ल्ड कप (4)
IND v SA [W] (1)
CE Cup (4)
T20 Blast (6)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : किशन पूरा कर सकते हैं मुंबई की पहली जीत का मिशन

दिल्ली की सलामी जोड़ी को रहना होगा आर्चर से बचकर

David Warner gets those legs pumping, Rajasthan Royals vs Delhi Capitals, IPL 2023, Guwahati, April 8, 2023

दिल्ली की बल्लेबाज़ी में वॉर्नर अब तक अकेले योद्धा की तरह दिखे हैं  •  BCCI

मंगलवार को अरुण जलती स्टेडियम में दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस जब खेलने के लिए उतरेंगे तब दोनों ही टीमों के सामने सबसे बड़ी चुनौती इस सीज़न का अपना पहला मुक़ाबला जीतने की होगी। कुछ ऐसे आंकड़ों का रुख़ करते हैं तो यह टटोलने का प्रयास करते हैं कि मंगलवार का दिन किस के लिए मंगल रह सकता है।
किशन पूरा कर सकते हैं मुंबई का मिशन
चेन्नई सुपर किंग्स के ख़िलाफ़ खेले मुक़ाबले में मुंबई इंडियंस की सलामी जोड़ी लय में दिखाई दी थी। विशेषकर इशान किशन ने पांच चौके जड़ कर फ़ॉर्म में लौटने के संकेत दिए थे। ऐसे में अगर मुंबई को अपनी पहली जीत के मिशन में कामयाब होना है तो इशान को दिल्ली के गेंदबाज़ों को ख़िलाफ़ अपने आंकड़े को बरकरार रखना होगा। इशान ने दिल्ली के अधिकतर गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ टी20 में 150 से अधिक की स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। कुलदीप यादव ने उन्हें दो बार आउट ज़रूर किया है लेकिन बदले में उन्हें इशान को डाली हुई 25 गेंदों पर 184 की स्ट्राइक रेट से 46 रन भी खाने पड़े हैं।
अक्षर को पढ़ना रोहित के लिए बड़ी चुनौती
रोहित शर्मा का आईपीएल में ख़राब फ़ॉर्म लगातार जारी है। आंकड़ों की मानें तो रोहित को लय में लौटने के लिए अभी थोड़ा और इंतज़ार करना पड़ सकता है। अनरिख़ नॉर्खिये के ख़िलाफ़ रोहित ने टी20 में भले ही 27 गेंदों पर 159 की स्ट्राइक रेट से 43 रन बनाए हैं लेकिन छह पारियों में दो बार उन्हें पवेलियन की राह भी पकड़नी पड़ी है।
हालांकि अगर रोहित पावरप्ले में आक्रामक शुरुआत करते हैं तो उनके सामने डेविड वॉर्नर अक्षर पटेल को आक्रमण पर ला सकते हैं। टी20 में अक्षर ने आठ पारियों में दो बार रोहित को अपना शिकार बनाया है और रोहित उनकी 49 गेंदों पर महज़ 84 की स्ट्राइक रेट से 41 रन भी बनाए हैं। इशांत शर्मा के मैच खेलने की उम्मीद कम ही है लेकिन उन्होंने भी टी20 में तीन बार रोहित को अपना शिकार बनाया है।
खलील डाल सकते हैं सूर्य की फ़ॉर्म पाने की चाहत में खलल
मुंबई को सूर्यकुमार यादव के फ़ॉर्म में लौटने का बेसब्री से इंतज़ार है। दिल्ली के अधिकतर गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ सूर्य के आंकड़े भी अच्छे हैं। लेकिन खलील अहमद सूर्य के इस इंतज़ार को और लंबा कर सकते हैं। अब तक दोनों का टी20 में दो बार मुक़ाबला हुआ है और दोनों ही मर्तबा खलील को सूर्य को पवेलियन लौटाने में सफलता प्राप्त हुई है। हालांकि सूर्य ने खलील की 15 गेंदों पर 27 रन भी बनाए हैं।
खलील से अगर सूर्य बच जाते हैं तो कप्तान रोहित की तरह ही अक्षर को उनके सामने लाया जा सकता है। सूर्य ने टी20 में अक्षर की 61 गेंदों पर महज़ 84 की स्ट्राइक रेट से 53 रन बनाए हैं और एक बार उन्हें पवेलियन भी जाना पड़ा है।
दिल्ली की सलामी जोड़ी को आर्चर से रहना होगा बचकर
चोट के चलते जोफ़्रा आर्चर चेन्नई के ख़िलाफ़ खेले गए मुक़ाबले से बाहर हो गए थे। हालांकि अगर वह दिल्ली के ख़िलाफ़ खेलने के लिए फ़िट हो जाते हैं तो दिल्ली की सलामी जोड़ी के लिए खतरे की घंटी बजा सकते हैं। इस सीज़न में वॉर्नर दिल्ली के लिए अकेले योद्धा साबित हुए हैं। अकेले वॉर्नर ने तीन मैचों में 52.7 की औसत और 117 के स्ट्राइक रेट से 158 रन बनाए हैं जबकि दिल्ली के अन्य बल्लेबाज़ मिलकर सिर्फ़ 254 रन ही बना पाए हैं।
आंकड़े कहते हैं कि आर्चर न सिर्फ़ वॉर्नर बल्कि उनके जोड़ीदार पृथ्वी शॉ के लिए भी मुश्किल पैदा कर सकते हैं। आर्चर ने पांच पारियों में से चार बार वॉर्नर को पवेलियन लौटा चुके हैं जबकि पृथ्वी को दो बार उन्होंने पवेलियन लौटाया है। आर्चर के विरुद्ध इन दोनों का स्ट्राइक रेट भी क्रमशः 87 और 88 का ही रहा है। वहीं पीयूष चावला ने भी इन दोनों बल्लेबाज़ों को दो- दो बार आउट किया है।