ख़बरें

शाकिब ने बीसीबी से मांगा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से ब्रेक

बांग्लादेश के हरफ़नमौला खिलाड़ी ने अफ़ग़ानिस्तान सीरीज़ के दौरान ख़ुद को यात्री के तौर पर महसूस किया

Shakib Al Hasan speaks at an event, Dhaka, March 6, 2022

शाकिब अल हसन - मेरी मानसिक और शारीरिक स्थिति का देखते हुए मुझे नहीं लगता है कि मैं ज़्यादा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेल सकता हूं  •  Mohammedan Sporting Club

शाकिब अल हसन ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के क्रिकेट संचालन अध्यक्ष जलाल यूनुस को इशारा करते हुए कहा है कि उन्हें अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से ब्रेक की ज़रूरत है। इससे उन्हें संकेत मिलता है कि शाकिब इस महीने के अंत में साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ से बाहर हो सकते हैं, ताकि वह मानसिक और शारीरिक रूप से तरोताज़ा होकर टेस्ट सीरीज़ में वापसी कर सकें।
शाकिब को पिछले सप्ताह दोनों टीम में जगह मिली थी, जहां पर बीसीबी के अध्यक्ष नाज़मुल हसन ने कहा था कि यह हरफ़नमौला खिलाड़ी टेस्ट सीरीज़ खेलने के लिए भी राज़ी हो गए हैं।
हालांकि, रविवार को निजी कारणों से दुबई रवाना होने से पहले शाकिब ने कहा कि अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ सीरीज़ में उन्हें ऐसा लगा कि वह केवल एक यात्री हैं, जहां पर वह तीन वनडे और दो टी20 में मात्र 74 रन और सात विकेट ही ले पाए थे।
शाकिब ने कहा, "मेरी मानसिक और शारीरिक स्थिति का देखते हुए मुझे नहीं लगता है कि मैं ज़्यादा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेल सकता हूं। अगर मुझे ब्रेक मिलता है, अगर मैं अपनी रूचि वापस पाता हूं तो मैं और भी आसानी से खेल सकता हूं। मैंने अफ़ग़ानिस्तान सीरीज़ में ऐसा महसूस किया कि मैं केवल एक यात्री हूं। मैंने वनडे और टी20 का लुत्फ़ नहीं लिया। मुझे नहीं लगता कि मुझे इसी मानसिकता के साथ साउथ अफ़्रीका दौरे पर जाना चाहिए। मैं सभी की उम्मीदों पर खरा उतरना चाहता हूं। मेरे बेहतरीन प्रदर्शन की कोई गारंटी नहीं है, लेकिन कम से कम मुझे पता रहेगा कि मैंने अपने देश के लिए मेहनत की है। मैं समय बर्बाद नहीं करना चाहता और ना ही किसी की जगह लेना चाहता हूं। एक यात्री के रूप में महसूस करते हुए खेलना ऐसा है जैसे मैं अपने साथियों और देश के साथ छल कर रहा हूं।"
शाकिब ने कहा कि उन्होंने बीसीबी प्रमुख नाज़मुल को कहा था कि वह साउथ अफ़्रीका में दोनों सीरीज़ में रहेंगे, लेकिन उनके मन में अफ़ग़ानिस्तान से सीरीज़ के बाद दूसरा ख्याल आया।
"मैंने जलाल भाई को जानकारी दे दी है, उन्होंने मुझे सोचने के लिए कुछ दिन दिए हैं। मैं उसके बाद किसी फ़ैसले की उम्मीद कर रहा हूं। मैंने पापोन भाई (नाज़मुल) से भी बात की थी कि मैं दोनों सीरीज़ खेलूंगा लेकिन कल के मैच के बाद मैंने बहुत सोचा। मेरी मानसिक और शारीरिक स्थिति को देखते हुए मुझे थोड़े समय की ज़रूरत है। अच्छी शारीरिक स्थिति में टेस्ट खेलने के लिए मैं वनडे सीरीज़ छोड़ सकता हूं।"
शाकिब ने कहा कि वह चाहते हैं कि बीसीबी उनके करियर के उन्नत चरण को ध्यान में रखते हुए उनके लिए एक साल की योजना तैयार करे। उन्होंने बीसीबी से नवंबर के मध्य तक सभी टेस्ट से ब्रेक के लिए कहा था, न कि केवल छह महीने के लिए जैसा कि हसन ने पिछले सप्ताह कहा था।
"मुझे लगता है कि मेरे करियर के इस चरण को देखते हुए मुझे लंबी योजना की ज़रूरत है। मुझे लगता है कि यह जरूरी है कि हमें सभी चीज़ों के बारे में स्पष्टता हो। बोर्ड को मेरे पत्र में छह महीने का ज़िक्र नहीं था। मैंने बोर्ड से कहा था कि मैं इस साल नवंबर 22 तक सभी टेस्ट से दूर रहना चाहता हूं। मैं पूरी तरह से सफ़ेद गेंद क्रिकेट पर ध्यान लगाना चाहता था। आगे दो वर्ष में दो विश्व कप हैं।"
"मैं पूरी तरह से टेस्ट नहीं छोड़ना चाहता था, लेकिन क्योंकि हम टेस्ट टीम में एक संतुलन को देख रहे हैं, तो मैंने सोचा कि मैं अपना ध्यान सफ़ेद गेंद क्रिकेट पर दूं। मेरी उम्र और शारीरिक फ‍़िटनेस को देखते हुए मैं वनडे और टी20 में बेहतर कर सकता हूं। मुझे लगता है कि यह अच्छा होगा ​अगर मैं अपनी लंबी योजना के बारे में जानता हूं। सीरीज़ दर सीरीज़ इसके बारे में सोचने का कोई मतलब नहीं है।"
बांग्लादेश को 12 मार्च को साउथ अफ़्रीका के दौरे के लिए रवाना होना है। उन्हें 18, 20 और 23 मार्च को तीन वनडे खेलने हैं, इसके बाद 31 मार्च से 8 अप्रैल तक दो टेस्ट खेले जाएंगे।

मोहम्मद इसाम ESPNcricinfo में बांग्‍लादेश के संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।