मैच (11)
आईपीएल (2)
RHF Trophy (4)
Pakistan vs New Zealand (1)
WT20 Qualifier (4)
ख़बरें

मेलबर्न के महामुक़ाबले पर पड़ सकती है मौसम की मार

रिज़र्व डे पर खेल होने या ट्रॉफ़ी के साझा होने की भी संभावना है

मेलबर्न में रिज़र्व डे के दिन भी भारी बारिश की आशंका है  •  AFP/Getty Images

मेलबर्न में रिज़र्व डे के दिन भी भारी बारिश की आशंका है  •  AFP/Getty Images

रविवार को पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच होने वाले टी20 विश्व कप के फ़ाइनल पर मौसम की मार पड़ सकती है। मेलबर्न में मौसम के अनुमान को देखते हुए यह आशंका व्यक्त की जा रही है कि फ़ाइनल मुक़ाबला न सिर्फ़ रिज़र्व डे पर खेला जा सकता है बल्कि दोनों टीमों के बीच ट्रॉफ़ी भी साझा किए जाने की नौबत आ सकती है।
मौसम विभाग ने शुक्रवार सुबह को बताया, "अभी रविवार को मेलबर्न में बारिश होने की संभावना 100 फ़ीसदी है। यहां 10 से 20 मिमी बरसात होने के अलावा आंधी-तूफ़ान आने की संभावना है।"
फ़ाइनल के सोमवार का दिन रिज़र्व डे के तौर पर पहले ही तय किया जा चुका है लेकिन उस दिन भी मेलबर्न में बारिश होने की संभावना 95 फ़ीसदी है। अनुमान के मुताबिक़ उस दिन मेलबर्न में पांच से 10 मिमी बारिश होने की आशंका है।
ग्रुप स्टेज में मैच के परिणाम के लिए कम से कम पांच-पांच ओवरों का खेल होना ज़रूरी होता है लेकिन इसकी तुलना में नॉकआउट मुक़ाबलों के नतीजों के लिए कम से कम 10-10 ओवरों का खेल होना ज़रूरी है।
रविवार को अग़र ज़रूरत पड़ती है तो रिज़र्व डे के क्रियाशील होने से पहले छोटे गेम को पूरा कराने की प्राथमिकता होगी। अग़र रविवार को मुक़ाबला शुरु हो जाता है तो रिज़र्व डे के दिन मुक़ाबला उसी बिंदु से शुरु होगा। एक बार टॉस हो जाने पर गेम लाइव माना जाता है।
अग़र रविवार को खेल में ओवरों की कटौती होती है और मैच उस दिन शुरु नहीं हो पाता है तब रिज़र्व डे के दिन पूरा 20-20 ओवर का मुक़ाबला आयोजित कराने का प्रयास किया जाएगा। फ़ाइनल मुक़ाबले के लिए 30 मिनट ही अतिरिक्त दिए जाएंगे हालांकि रिज़र्व डे के दिन दो घंटे अधिक जाएंगे और मुक़ाबला स्थानीय समयानुसार दोपहर तीन बजे तक शुरु किया जा सकेगा।
अग़र दोनों ही दिन मुक़ाबलों के ज़रूरी ओवरों का खेल नहीं हो पाता है तब ऐसी स्थिति में दोनों ही टीमों के बीच ट्रॉफ़ी साझा की जाएगी। 2002-03 में भारत और श्रीलंका के बीच चैंपियंस ट्रॉफ़ी का फ़ाइनल कुछ इसी अंदाज़ में समाप्त हुआ था जब दोनों ही टीमों के बीच ट्रॉफ़ी साझा की गई थी। 2019 में ओल्ड ट्रैफ़र्ड में भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच विश्व कप सेमीफ़ाइनल दो दिनों के भीतर खेला गया था।
इस पूरे टूर्नामेंट में मेलबर्न में सुपर 12 के तीन मुक़ाबले बिना कोई गेंद डाले बारिश की भेंट चढ़ गए। जिसमें न्यूज़ीलैंड-अफ़ग़ानिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान-आयरलैंड और ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड के मुक़ाबले शामिल हैं। इंग्लैंड और आयरलैंड का मुक़ाबले में भी बारिश ने ख़लल डाला लेकिन डीएल पद्धति से आयरलैंड इंग्लैंड के ऊपर जीत प्राप्त पाने में सफल रहा।
मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में भारत-पाकिस्तान के बीच खेले मुक़ाबले को लेकर भी बारिश की आशंका व्यक्त की गई थी लेकिन यह मुक़ाबला बिना बारिश से प्रभावित हुए खेला गया और टी20 के बेहतरीन मुक़ाबलों में से एक मुक़ाबला साबित हुआ। आयोजक, खिलाड़ी और प्रशंसक सभी इस मुक़ाबले पर मौसम की मार न पड़ने की उम्मीद कर रहे होंगे।

ऐंड्रयू मक्ग्लैशन ESPNcricinfo के डिप्टी एडिटर हैं। अनुवाद ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर नवनीत झा ने किया है।