मैच (6)
LPL (2)
TNPL (1)
MLC (2)
ZIM v IND (1)
ख़बरें

हार्दिक पंड्या : मैं पहले भी बुरे दौर से गुज़र चुका हूं

हार्दिक ने कहा कि हर किसी के जीवन में अच्छा और बुरा दौर आता जाता रहता है

हार्दिक पंड्या मानते हैं कि पिछले कुछ समय से वह बुरे दौर से गुज़र रहे हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि पहले भी उनके जीवन में ऐसी मुश्किलें कई बार आ चुकी हैं और वह इससे बाहर निकलने में सफल भी हुए हैं।
टी20 विश्व कप से पहले स्टार स्पोर्ट्स को दिए साक्षात्कार में हार्दिक ने कहा, "मेरा मानना है कि सबसे ज़रूरी यह है कि आप लड़ाई के दौरान अपने हथियार ना डालें। ज़िंदगी कभी कभी आपको कठिनाई में डालती है लेकिन अगर आप इन कठिनाइयों से भागेंगे तब आपको वैसे फल नहीं मिलेंगी जिनकी अपेक्षा आप रखते हैं। हां, यह मेरे लिए मुश्किल दौर रहा है लेकिन मैं कुछ नया करने के बजाय अपने पुराने रूटीन का ही अनुसरण कर रहा हूं। अच्छा और बुरा दौर आता जाता रहता है, मैं पहले भी बुरे दौर से गुज़र चुका हूं और इससे निकलने में सफल भी हुआ हूं।"
IPL 2024 की शुरुआत से पहले हार्दिक के लिए सब कुछ अच्छा प्रतीत हो रहा था। हालांकि उनकी टीम मुंबई इंडियंस अंक तालिका में अंतिम पायदान पर रही। बल्ले और गेंद के साथ हार्दिक कुछ ख़ास प्रभावित नहीं कर पाए। उन्होंने 13 पारियों में 143 के स्ट्राइक रेट और 18 की औसत से 216 रन बनाए। जबकि 12 पारियों में उन्होंने 10.75 की इकोनॉमी से 11 विकेट लिए। इतना ही नहीं IPL के दौरान उन्हें प्रशंसकों की नाराज़गी भी झेलनी पड़ी।
हार्दिक ने कहा, "मैं हमेशा इस ओर ध्यान देता हूं कि ख़ुद को कैसे बेहतर कर सकता हूं। 30 वर्षीय हार्दिक के सामने उतनी कठिन चुनौती नहीं है, जो 16 वर्षीय हार्दिक के सामने हुआ करती थी। इसलिए जब भी मैं मुश्किल दौर में होता हूं, तब मैं अपने अतीत में जाता हूं और यह याद करता हूं कि मैंने तब चुनौतियों से कैसे पार पाया था। उस समय मेरे पास सुविधाएं नहीं थीं। मुझे उसी 16 वर्षीय हार्दिक से असली प्रेरणा मिलती है।"
भारत ने शनिवार को बांग्लादेश के ख़िलाफ़ अपना अभ्यास मैच खेला। हार्दिक ने 40 रनों की नाबाद पारी खेलकर भारत को एक अच्छे टोटल तक पहुंचाया। इसके साथ ही उन्होंने गेंदबाज़ी से भी प्रभावित किया। हार्दिक विश्व कप में भारतीय टीम के उपकप्तान भी हैं। भारत को अपना पहला मैच 5 जून को आयरलैंड के ख़िलाफ़ खेलना है।