मैच (5)
IPL (1)
ACC Premier Cup (2)
Women's QUAD (2)
फ़ीचर्स

आंकड़े : ऐलेक्स हेल्स और हेदर नाइट के साथ इंग्लैंड की एलीट सूची में जॉस बटलर

गेंदों के मामले में सबसे तेज़ 50 टी20 अंतर्राष्ट्रीय विकेट लेने के मामले में दूसरे नंबर पर पहुंचे हसरंगा

टी20 में ओपनर के तौर पर 50 से ज्‍यादा का औसत है बटलर का  •  Getty Images

टी20 में ओपनर के तौर पर 50 से ज्‍यादा का औसत है बटलर का  •  Getty Images

2 ही इंग्लैंड के बल्लेबाज़ों ने टी20 विश्व कप में शतक लगाया है। जॉस बटलर से पहले ऐसा ऐलेक्स हेल्स ने 2014 में श्रीलंका के ख़िलाफ़ ही ऐसा किया था। तब हेल्स ने नाबाद 116 रन की पारी खेली थी। बटलर साथ ही टी20 अंतर्राष्ट्रीय में शतक लगाने वाले इंग्लैंड के चौथे खिलाड़ी हैं। साथ ही 2000 से ज़्यादा रन बनाने वाले इंग्लैंड के दूसरे खिलाड़ी।
1 बटलर इंग्लैंड के पहले पुरुष खिलाड़ी बने हैं जिन्होंने तीनों प्रारूपों में शतक लगाया है। हेदर नाइट ही अब से पहले इंग्लैंड के लिए तीनों प्रारूपों में शतक लगाने वाली महिला क्रिकेटर थीं।
61.96 प्रतिशत इंग्लैंड के कुल स्कोर में से रन बटलर ने बनाए। यह इंग्लैंड के स्कोर में किसी खिलाड़ी द्वारा बनाए गए सबसे ज़्यादा रन हैं। इससे पहले जब इंग्लैंड इसी साल पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 201 रन बनाए थे तो उसमें 51.54 प्रतिशत रन लियम लिविंगस्टन के नाबाद 103 रनों की पारी से थे।
77 रन बटलर ने आख़िरी 10 ओवरों में बनाए। उन्होंने दूसरे हाफ़ में 37 गेंद में छह छक्के और चार चौके लगाए। जबकि शुरुआती 10 ओवरों में उन्होंने 30 गेंद में मात्र 24 रन बनाए थे।
2000 से ज़्यादा टी20 अंतर्राष्ट्रीय रन बनाने वाले इंग्लैंड के दूसरे बल्लेबाज़ बने हैं बटलर (2085)। सबसे ज़्यादा रन ओएन मॉर्गन (2407) के नाम हैं।
45 बॉल में बटलर ने अपना अर्धशतक पूरा किया। केवल एक ही खिलाड़ी उनसे अलग हैं जिन्होंने टी20 में ज़्यादा गेंद खेलते हुए अपने पहले 50 रन बनाए हों और बाद में अर्धशतक। वो हैं पॉल स्टर्लिंग, जिन्होंने इस वर्ष सितंबर में ज़िंबाब्वे के ख़िलाफ़ 47 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया था।
60.50 का औसत है बटलर का ओपनर के तौर पर। उन्होंने 26 पारियों में 1089 रन बनाए हैं। 1000 से ज़्यादा रन बनाने वाले टी20 ओपनरों में 50 से ज़्यादा का औसत बटलर के अलावा मोहम्मद रिज़वान (76.92) का है।
4 शतक यूएई में खेले गए टी20 अंतर्राष्ट्रीय में लगे हैं। साथ ही यह यूएई में हुए टी20 अंतर्राष्ट्रीय में फुल मेंबर देशों के बीच हुए मैचों में लगा पहला शतक है, इससे पहले सर्वाधिक स्कोर अफ़ग़ानिस्तान के रहमानुल्लाह गुरबाज़ के नाम था, जिन्होंने ​मार्च में ज़िंबाब्वे के ख़िलाफ़ 87 रन बनाए थे।
112 रनों की साझदारी चौथे विकेट के लिए बटलर और मॉर्गन में हुई। यह टी20 विश्व कप में इंग्लैंड के लिए दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी रही। 2014 में तीसरे विकेट के लिए हेल्स और मॉर्गन के बीच हुई 152 रनों की साझेदारी सर्वश्रेष्ठ है। वहीं टी20 विश्व कप यह चौथे विकेट के लिए दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। इस टूर्नामेंट की शुरुआत में पथुम निसंका और वानिंदु हसरंगा ने आयरलैंड के ख़िलाफ़ 123 रनों क साझेदारी की थी।
50 वां टी20 अंतर्राष्ट्रीय विकेट हसरंगा ने बटलर और मॉर्गन की साझेदारी को तोड़कर पूरा किया। उन्होंने यह 50 विकेट 660 गेंदों में पूरे किए। ऐसे में वह गेदों के मामले में सबसे तेज़ 50 विकेट लेने दूसरे सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ बने। उनसे आगे सिर्फ़ श्रीलंका के ​ही अजंता मेंडिस (576 बॉल) हैं। हसरंगा ने इस टूर्नामेंट में 14 विकेट लिए हैं, जो संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर है। टी20 विश्व कप में सबसे ज़्यादा विकेट 2012 में मेंडिस (15 विकेट) लिए थे।
7 वीं लगातार जीत इंग्लैंड ने टी20 अंतर्राष्ट्रीय में श्रीलंका के ख़िलाफ़ दर्ज की। 2016 से इस प्रारूप में इंग्लैंड ने लगातार श्रीलंका के ख़िलाफ़ बेहतर किया है। श्रीलंका ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अपना पिछला टी20 2014 में ओवल में जीता था।

संपत बंदारुपल्ली ESPNcricinfo में स्‍टैटिशियन हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।