मैच (16)
आईपीएल (1)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (2)
ENG v PAK (1)
USA vs BAN (1)
WI vs SA (1)
ख़बरें

'पाकिस्तान ने हमें मैच के किसी भी स्टेज पर वापसी का मौक़ा नहीं दिया' : कोहली

भारतीय कप्तान ने स्वीकार किया कि पाकिस्तान की पावरप्ले गेंदबाज़ी ने उन्हें सोचने पर मजबूर किया है

Virat Kohli reacts on the field during the Babar Azam-Mohammad Rizwan partnership, India vs Pakistan, T20 World Cup, Group 2, Dubai, October 24, 2021

कोहली ने माना कि एक सप्‍ताह का आराम बहुत कुछ बदलेगा।  •  ICC via Getty

भारत को विश्व कप में पाकिस्तान से 10 विकेट से मिली अपनी पहली हार के बाद कप्तान विराट कोहली ने स्वीकार किया कि उनका टीम को पाकिस्तान ने मैच से पूरी तरह बाहर कर दिया था। भारत के सात विकेट पर 151 रन के जवाब में पाकिस्तान ने अपने दोनों सलामी बल्लेबाज़ों बाबर आज़म और मोहम्मद रिज़वान के नाबाद अर्धशतक की बदौलत 17.5 ओवर में लक्ष्य को हासिल कर लिया। यह टी20 अंतर्राष्ट्रीय में भारत की पहली 10 विकेट की हार थी।
कोहली ने कहा, "उन्होंने [पाकिस्तान] निश्चित रूप से हमें पछाड़ दिया। इसमें कोई संदेह नहीं है।" उन्होंने कहा, "यदि आप विपक्षी टीम को पूरी तरह से मैच से बाहर नहीं करते हैं तो आप दस विकेट से नहीं जीत सकते हैं। हमें कोई मौक़ा भी नहीं मिला। वे बहुत पेशेवर थे और आपको निश्चित रूप से उन्हें श्रेय देना होगा। हमने अपनी पूरी कोशिश की और हमने पर्याप्त रन बनाने की कोशिश की। उन पर दबाव था, लेकिन उनके पास जवाब था। यह स्वीकार करने में कोई शर्म नहीं है कि एक टीम ने हमसे बेहतर खेला।
"जब आप दोनों तरफ़ से 11 खिलाड़ियों के रूप में मैदान पर कदम रखते हैं, तो आपके पास खेल जीतने का समान अवसर होता है और इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि आप वहां जाएंगे और हर मैच जीतेंगे। हमने अपनी पूरी कोशिश की, हमने अपनी स्थिति से एक अच्छा स्कोर बनाया और हमने सोचा कि हम उन्हें दबाव में डाल सकते हैं, लेकिन उन्होंने हमें किसी भी स्तर पर मैच में नहीं आने दिया। वे निश्चित रूप से इसके लायक हैं। उन्होंने खेल को बहुत मज़बूती से ख़त्म किया और पूरी पारी में उन्होंने हमें मौक़ा नहीं दिया कि हम उन पर दबाव बना सकें।"
कोहली ने माना कि दूसरी पारी के दौरान रात में ओस ने भारतीय आक्रमण की मुश्किलें बढ़ा दी। मैच से पहले शाम को बाबर ने ओस की चिंता का हवाला देते हुए पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला किया था।
कोहली ने कहा, "मैं यह नहीं कहूंगा कि परिस्थितियां बहुत मुश्किल हो गई थी, लेकिन अगर पिच बल्लेबाज़ी के लिए थोड़ी बेहतर हो जाती है, तो आप शुरुआत में उतर जाते हैं, आप रनों का पीछा करने के बारे में अधिक आत्मविश्वास महसूस करने लगते हैं और यही हुआ।" उन्होंने कहा, "पाकिस्तान की पारी के दूसरे हाफ़ में दस ओवर के बाद जितनी अधिक ओस आई और वे स्ट्राइक रोटेट करने में सक्षम थे। हम डॉट बॉल भी नहीं कर पाए क्योंकि पिच स्पष्ट रूप से बल्लेबाज़ों के लिए थोड़ी अधिक गति प्रदान कर रही थी। धीमी गेंदे भी अपना काम नहीं कर पा रही थीं।"
"तो, ये छोटे छोटे फ़ैक्टर मैच में एक बड़ा अंतर बनाते हैं और एक टीम के रूप में आपको यह समझने की ज़रूरत है कि मैच के बीच में वहां की स्थिति की वास्तविकता क्या थी और यही वह जगह है जहां 20-25 अतिरिक्त रन अच्छे होते। लेकिन शानदार पहले छह ओवरों में हमें अतिरिक्त रन नहीं मिले। हम जानते हैं कि खेल वास्तव में कैसे गया और कहां गलत हुआ और हमें इसकी पूर्ण स्पष्टता है। यह जानना अच्छी बात है कि आप कहां गलत हुए ताकि आप इस पर काम करें और कोशिश करें, इसे ठीक करें और आगे बढ़ें। इस टूर्नामेंट में अभी भी हमारे पास बहुत सारे मैच हैं और अगर हम उन प्रक्रियाओं पर टिके रहते हैं जिनका हम पालन करते हैं तो हमें निश्चित रूप से लगता है कि हम इन गलतियों को दूर कर सकते हैं।"
भारत का अगला मुक़ाबला रविवार को इसी मैदान पर न्यूज़ीलैंड से होगा। कोहली ने सप्ताह भर के ब्रेक का स्वागत करते हुए कहा कि इससे टीम को अपने शुरुआती नुकसान पर विचार करने और टूर्नामेंट के बाकी हिस्सों के लिए अपनी योजनाओं को ठीक करने में मदद मिलेगी।
कोहली ने कहा, "मुझे लगता है कि यह ब्रेक हमारे लिए सभी दृष्टिकोणों से वास्तव में अच्छा काम करेगा, यह जानते हुए कि हमने पहले ही एक पूर्ण सत्र खेला है। पहले हमने इन मुश्किल परिस्थितियों में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में आईपीएल खेला और फिर हम विश्व कप में खेल रहे हैं। इसलिए, हमारे लिए ये बड़े ब्रेक निश्चित रूप से कुछ ऐसे हैं जो एक टीम के रूप में हमारी मदद करेंगे। इस बड़े टूर्नामेंट को खेलने के लिए हमें मुख्य शारीरिक स्थिति में होने की आवश्यकता है।"
"टी20 विश्व कप हमेशा एक उच्च-तीव्रता वाला टूर्नामेंट होता है। यह हमें अभ्यास सत्र में आने के लिए, एक टीम के रूप में फिर से संगठित होने में मदद करेगा, जो हम चाहते हैं उसे अमलीज़ामा पहनाने के लिए उत्सुक हैं और बहुत आत्मविश्वास से तैयारी करते हैं और फिर मैच के दिन उतरते हैं। हम फिर से यह सुनिश्चित करने के लिए तैयार हैं कि इस बार हम अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें। हमें अपनी क्षमता पर पर्याप्त विश्वास है। इस तैयारी के समय के साथ हम एक बार फिर सकारात्मक सोच के साथ सामने आएंगे। इसलिए, एक टीम के रूप में, व्यक्तिगत रूप से मैं कह सकता हूं यह अच्छी बात है जो हो रहा है। हमारे पास चिंतन करने और फिर से तैयारी करने का समय होगा।"

देवरायण मुथु ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।